Bhuvneshwar Kumar Created A Sensation By Taking 8 Wickets In A Single Innings In Ranji Trophy.

Bhuvneshwar Kumar : टीम इंडिया के स्विंग किंग कहे जाने वाले स्टार तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार की प्रथम श्रेणी क्रिकेट में 6 सालों के बाद वापसी की है। भुवनेश्वर ने रणजी ट्रॉफी 2024 (Ranji Trophy 2024) के सत्र में अपनी घरेलू टीम उत्तर प्रदेश की टीम के लिए बंगाल के खिलाफ खेले जा रहे मुकाबले से वापसी की है। रेड बाल क्रिकेट में 6 साल बाद वापसी करने के बाद ही भुवनेश्वर कुमार (Bhuvneshwar Kumar) ने गेंद से तबाही मचा दी है। भारतीय गेंदबाज ने कमाल का प्रदर्शन करते हुए सबका ध्यान अपनी ओर आकर्षित किया है।

Bhuvneshwar Kumar ने किया कमाल का प्रदर्शन

Bhuvneshwar Kumar
Bhuvneshwar Kumar

टीम इंडिया (Team India) के स्टार तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार (Bhuvneshwar Kumar) ने रणजी ट्रॉफी 2024-24 (Ranji Trophy 2024) के मौजूदा सत्र में उत्तर प्रदेश और बंगाल (UP vs BEN) के खिलाफ खेले जा रहे मुकाबले से अपनी टीम यूपी से खेलते हुए उन्होंने 6 साल बाद रेड बाल क्रिकेट में वापसी की है। इस मुकाबले में 22 ओवर में गेंदबाजी करते हुए 5 मेडन फेंके,इस दौरान उन्होंने 41 रन देकर 8 विकेट अपने नाम किए। यह उनका प्रथम श्रेणी क्रिकेट का सबसे बेस्ट प्रदर्शन है।

इससे पहले 77 रन देकर 6 विकेट हासिल करना इनका बेस्ट स्पेल था। भुवि के इस शानदार प्रदर्शन के बाद फैंस का ऐसा कहना है की इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज में जब दूसरी बार भारतीय टीम के स्क्वाड का चयन हो तो उनकी टीम इंडिया में वापसी कराई जाए।

यह भी पढ़ें : रोहित-विराट ने करियर बर्बाद करने में नहीं छोड़ी कोई कसर, उसी ने रणजी ट्रॉफी में मचाया गदर, 1 साथ किए 8 शिकार

प्रथम श्रेणी में ऐसा रहा है प्रदर्शन

Bhuvneshwar Kumar
Bhuvneshwar Kumar

टीम इंडिया (Team India) के स्विग किंग भुवनेश्वर कुमार (Bhuvneshwar Kumar) के प्रथम श्रेणी क्रिकेट में भी शानदार प्रदर्शन रहा है। इस मैच से पूर्व उनके आंकड़ों पर नजर डालें तो इन्होंने 70 प्रथम श्रेणी मैचों में 123 पारियों में गेंदबाजी करते हुए कुल 218 विकेट अपने नाम किए है। इस दौरान इन्होंने 9 बार एक पारी में 4 विकेट और कुल 12 बार एक पारी में 5 विकेट हासिल किया था। भुवनेश्वर कुमार ने अंतिम बार प्रथम श्रेणी मैच भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच 2018 में खेले गए टेस्ट मैच में खेला था। उसके बाद से वह टीम इंडिया या फिर अपनी घरेलू टीम उत्तर प्रदेश दोनों में से किसी के लिए भी रेड बाल क्रिकेट नहीं खेला था।

यह भी पढ़ें : VIDEO: पहले कप्तानी से इस्तीफा, फिर बल्ले में भी लगा जंग, अब लप्पू कैच भी नहीं लपक पा रहे हैं बाबर आजम, देखकर गेंदबाज का भी फूटा गुस्सा

"