Jasprit Bumrah Attacked The Critics After Becoming The Player Of The Series

Jasprit Bumrah: भारत और साउथ अफ्रीका के बीच केपटाउन में खेला जाने वाला दूसरा टेस्ट समाप्त हुआ। भारतीय टीम ने इतिहास रचते हुए मेजबान टीम को उन्हीं के घर में 7 विकेटों से हरा दिया। मुकाबले के स्कोरकार्ड पर नजर डालें तो साउथ अफ्रीका की दूसरी पारी 176 रनों पर सिमटी। जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) ने 6 विकेट हासिल किए। टीम इंडिया को जीत के लिए दूसरी पारी में 79 रनों का लक्ष्य मिला जिसे उन्होंने 12 ओवर में तीन विकेट खोकर हासिल कर लिया। श्रृंखला के दौरान शानदार प्रदर्शन करने वाले बुमराह को प्लेयर ऑफ द सीरीज चुना गया। मैच के बाद इंटरव्यू में उनका क्या कहना था, आइए जानते हैं।

अपनी टीम को दिलाई एक यादगार जीत

Jasprit Bumrah
Jasprit Bumrah

केपटाउन के मैदान पर 3 जनवरी से भारत और साउथ अफ्रीका (IND vs SA) दूसरा टेस्ट खेलने उतरी। टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए साउथ अफ्रीका की पहली पारी केवल 55 रनों पर सिमट गई। मोहम्मद सिराज ने 6 विकेट चटकाए। टीम इंडिया (Team India) ने पहली पारी में 153 रन बनाकर 98 रनों की महत्वपूर्ण बढ़त ली। इसके जवाब में मेजबान टीम की दूसरी पारी 176 रनों पर सिमटी। एडन मारक्रम ने 105 रन ठोके। वहीं जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) ने 6 विकेट हासिल किए। भारतीय टीम को जीत के लिए 79 रन बनाने थे जिसे उन्होंने तीन विकेट खोकर 12 ओवर में ही बना लिए। इस जीत के साथ टीम इंडिया ने दो मैचों की श्रृंखला 1-1 की बराबरी पर समाप्त किया।

यह भी पढ़ें: दूसरे टेस्ट में टीम इंडिया की जीत की खुशी मातम में बदली, ये 8 क्रिकेटर ड्रग्स लेते हुए पकड़े गए, डोपिंग केस में हुए अंदर

“यह मैदान मेरे दिल में हमेशा एक विशेष स्थान रखेगा”

Jasprit Bumrah
Jasprit Bumrah

जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) के लिए पिछला कुछ वक्त काफी शानदार गुजरा है। पिछले साल आयरलैंड दौरे पर उन्होंने चोटिल होने के लंबे समय बाद वापसी की। इसके बाद उन्होंने एशिया कप 2023 में भारत की तरफ से बेहतरीन प्रदर्शन किया। वहीं आईसीसी वर्ल्ड कप 2023 में उनकी और मोहम्मद शमी की ही देन थी, कि टीम इंडिया फाइनल तक पहुंची। अब इस घातक गेंदबाज ने साउथ अफ्रीका के खिलाफ कातिलाना गेंदबाजी करते हुए अपनी टीम की जीत में अहम योगदान दिया। उन्हें और डीन एल्गर को संयुक्त रूप से प्लेयर ऑफ द सीरीज चुना गया। मैच के बाद इंटरव्यू के दौरान बुमराह (Jasprit Bumrah) ने कहा,

“यह मैदान मेरे दिल में हमेशा एक विशेष स्थान रखेगा। टेस्ट क्रिकेट खेलना हमेशा से एक सपना था और यह यात्रा यहीं से शुरू हुई, मेरे पहले गेम की हमेशा अच्छी यादें हैं। बहुत ख़ुशी हुई कि आज भी सब अच्छा हुआ। वह यात्रा 2018 में शुरू हुई – हमारी गेंदबाजी इकाई अनुभवी थी और हम प्रभाव पैदा करना चाहते थे।”

“हम जानते थे कि अगर हमें विदेशी परिस्थितियों में अच्छा प्रदर्शन करना है तो हमें काफी अधिक और लगातार गेंदबाजी करनी होगी। भारत में स्पिनर ज्यादा काम करते हैं। हमारी टीम भी बदलाव के दौर से गुजर रही है। बहुत सारे गेंदबाज बदले गए हैं, लेकिन संदेश अब भी वही है, आपको लड़ना जारी रखना होगा। दक्षिण अफ्रीका में खेलना आसान नहीं है, परिस्थितियां अलग हैं, दर्शक भी कुछ अलग हैं। हमने पिछले गेम में भी संघर्ष किया था। इस पर आगे बढ़ना कठिन है क्योंकि इसके लिए बहुत अधिक शक्ति और धैर्य की आवश्यकता होती है।”

“यदि आप इसे हार जाते हैं, तो एक सत्र में खेल आपके हाथ से निकल जाता है। हमें बहुत खुशी है कि हम इस खेल में ऐसा करने में सफल रहे। मुझे उम्मीद नहीं थी कि खेल इतनी तेजी से आगे बढ़ेगा, मैंने अपने जीवन में इससे छोटा टेस्ट मैच कभी नहीं खेला। पहले दिन के विकेट को देखकर किसी ने नहीं सोचा था कि इतना कुछ होने वाला है। हम भी पहले बल्लेबाजी करना चाहते थे। टेस्ट क्रिकेट आपको आश्चर्य देता है। बहुत खुश हूं कि हमें अपनी पहली जीत (केपटाउन में) मिली, एक शानदार सीरीज और एक संघर्षपूर्ण सीरीज।”

 

रोहित शर्मा छोड़ रहे वनडे और टी20 की कप्तानी, अब इस 24 साल के खिलाड़ी को कप्तान बना रहे अजीत अगरकर

"