Rohit Sharma Will Retire From Team India After England Test Series

Rohit Sharma: भारत और इंग्लैंड के बीच पांच मैचों की बहुप्रतीक्षित टेस्ट सीरीज का आगाज हो चुका है। पहला मुकाबला हैदराबाद के राजीव गांधी इंटरनेशनल स्टेडियम में खेला जा रहा है। लगभग डेढ़ महीने तक खेली वाले वाली इस श्रृंखला का आखिरी मुकाबला मार्च में खेला जाएगा।

भारत और इंग्लैंड दोनों के लिए यह सीरीज वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के जारी चक्र के लिहाज से बेहद महत्वपूर्ण है। मगर इस सीरीज के साथ ही कप्तान रोहित शर्मा (Rohit Sharma) टेस्ट क्रिकेट को अलविदा कह सकते हैं। आइये आपको बताते हैं कि क्यों रोहित शर्मा (Rohit Sharma) सन्यांस लेने का ऐलान कर सकते हैं?

Rohit Sharma लेंगे टेस्ट क्रिकेट से सन्यांस

Rohit Sharma
Rohit Sharma

हाल ही में अफगानिस्तान के खिलाफ टी20 सीरीज में रोहित शर्मा को टीम इंडिया का कप्तान बनाया गया था। इससे यह भी साफ़ हो गया कि चयनकर्ताओं ने रोहित शर्मा (Rohit Sharma) को आगामी टी20 वर्ल्ड कप 2024 टीम की अगुवाई सौंपने का फैसला किया है। वहीं, अगले साल पाकिस्तान में चैंपियंस ट्रॉफी होनी है। इसमें भी हिटमैन ही टीम इंडिया (Team India) की अगुवाई करते नजर आ सकते हैं।

रोहित शर्मा अब 36 साल के हो चुके हैं। ऐसे में उनकी उम्र और फिटनेस उन्हें खेल के तीनों प्रारूपों में खेलने की इजाजत नहीं देगी। इसके अलावा उनकी वर्तमान फॉर्म भी टीम के लिए चिंता का सबब बनी हुई है। वे इंग्लैंड के खिलाफ जारी पहले टेस्ट मैच में कुछ खास नहीं कर सके। हिटमैन पहली पारी में 24 रन और दूसरी पारी में 39 रन बनाकर आउट हो गए। ऐसे में पूरी संभावना है की इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज के बाद रोहित रेड बॉल क्रिकेट से सन्यांस ले सकते हैं।

यह भी पढ़ें: भारत को मिला विराट कोहली से भी खतरनाक खिलाड़ी, रणजी में मचा रहा है कोहराम, जल्द टीम इंडिया में लेगा एंट्री

इससे पहले दक्षिण अफ्रीका में भी हुए थे फ्लॉप

Rohit Sharma
Rohit Sharma

इंग्लैंड से पहले हिटमैन का बल्ला प्रोटियाज टीम के खिलाफ भी खामोश रहा। उन्होंने चार पारियों में क्रमशः 39 (50), 16 (22), 5 (14), 0 (8) रन बनाए। हालांकि, इससे पहले जुलाई 2023 में वेस्टइंडीज में उन्होंने कुछ रन जरूर बनाए थे। मगर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ घरेलू टेस्ट सीरीज में भी रोहित शर्मा (Rohit Sharma) फ्लॉप साबित हुए थे।

वहीं, रोहित के ओवरऑल टेस्ट करियर पर नजर डालें, तो उन्होंने अब तक खेले 55 टेस्ट मैचों में 45.33 की औसत से 3737 रन बनाए हैं। उन्होंने 10 शतक और 16 अर्धशतकों की मदद से यह मुकाम हासिल किया है। इसके अलावा भारतीय सरजमीं पर खेले गए टेस्ट मुकाबलों में तो रोहित ने 66.73 की औसत से रन बनाए हैं।

यह भी पढ़ें: कोहली की कप्तानी में बब्बर शेर थे ये 3 भारतीय खिलाड़ी, लेकिन रोहित युग में बन गए भीगी बिल्ली

"