This-Player-Who-Has-Won-2-World-Cups-For-Team-India-Will-Retire

Team India: आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप 2023 भारत में खेला जाएगा। 5 अक्टूबर को टूर्नामेंट का पहला और 18 नवंबर को फाइनल मुकाबला खेला जाएगा। मेजबान होने के नाते टीम इंडिया (Team India) को ख़िताब जीतने का प्रबल दावेदार माना जा रहा है। हालांकि, रोहित की सेना के पास इस मेगा इवेंट को जीतने की तैयारी करने के लिए अभी काफी समय है। फ़िलहाल वे एशिया कप 2023 में हिस्सा लेने श्रीलंका गए हैं, जहां उनका पहले ही मैच में चिर प्रतिद्वंदी पाकिस्तान से सामना होगा।

एशिया कप के बाद भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीन मुकाबलों की वनडे सीरीज खेलेगी। चनयकर्ताओं ने एशिया कप के लिए भारतीय स्क्वाड में उन खिलाड़ियों को चुना है, जो वर्ल्ड कप 2023 में टीम इंडिया (Team India) का हिस्सा होने के प्रबल दावेदार हैं। वहीं, ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ श्रृंखला में भी उन्हें ही प्राथमिकता मिलने की संभावना है। ऐसे में अब कुछ खिलाड़ी मौके न मिलने की स्थिति में क्रिकेट को अलविदा कह सकते हैं।

धोनी का यह दोस्त लेगा सन्यांस

Piyush Chawala
Piyush Chawala

वर्ल्ड कप 2023 के लिए भारतीय टीम की तस्वीर लगभग साफ़ हो चुकी है। एक या दो खिलाड़ियों को छोड़ दें, तो लगभग पूरी स्क्वाड फाइनल है और अब किसी अन्य खिलाड़ी को मौके मिलने की गुंजाईश बेहद कम कम नजर आ रही है। ऐसे में कुछ सीनियर खिलाड़ी क्रिकेट को अलविदा कह सकते हैं, जिनमें से एक नाम धोनी के खास दोस्त पीयूष चावला का भी है।

पीयूष टीम इंडिया (Team India) और इंडियन प्रीमियर लीग में चेन्नई सुपर किंग्स के लिए महेंद्र सिंह धोनी के साथ खेल चुके हैं। दोनों के बीच ऑन द फील्ड काफी अच्छी बॉन्डिंग नजर आया करती थी। वहीं, मैदान से बाहर भी दोनों की मुलाकातों की तस्वीरें अक्सर सामने आती थीं। धोनी 2020 में इंटरनेशनल क्रिकेट छोड़ चुके हैं और अब पीयूष चावला भी जल्द ही मौकों की कमी के चलते जल्द ही सन्यांस ले सकते हैं।

यह भी पढ़ें: धोनी का तैयार किया हुआ गेंदबाज एशिया कप 2023 में भारत के लिए बनेगा दिक्कत, रफ्तार से काटता है बवाल

2012 में खेला था आखिरी इंटरनेशनल मैच

Piyush Chawla
Piyush Chawla

पीयूष चावला ने अपना आखिरी इंटरनेशनल मैच 2012 में खेला था। उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट और टी20 मुकाबले खेले थे। 2006 में टीम इंडिया के लिए डेब्यू करने वाले पीयूष ने अपने लगभग 6 साल लम्बे अंतर्राष्ट्रीय करियर में 3 टेस्ट, 25 वनडे और 7 टी20 मुकाबलों में भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व किया। इस दौरान दाएं हाथ के स्पिनर ने टेस्ट में 7, वनडे में 32 और टी20 प्रारूप में कुल 4 विकेट लिए।

पीयूष टी20 वर्ल्ड कप 2007 और वर्ल्ड कप 2011 जीतने वाली टीम का हिस्सा रह भी चुके हैं। हालांकि, 2007 के वर्ल्ड कप में उन्हें एक भी मुक़ाबला खेलने का मौका नहीं मिला, जबकि 2011 वर्ल्ड कप के दौरान उन्होंने 2 मैच खेलते हुए कुछ खास प्रदर्शन नहीं दिखाया।

इसके अलावा घरेलू क्रिकेट में भी पीयूष चावला का प्रदर्शन बेहतरीन रहा है। उन्होंने अब तक खेले 136 फर्स्ट क्लास मैचों में 445 विकेट हासिल किए है, जबकि 160 लिस्ट ए मुक़ाबलों में उनके नाम 236 विकेट दर्ज हैं। पीयूष ने अपने घरेलू करियर की शुरुआत उत्तर प्रदेश से की थी, लेकिन पिछले 6 वर्षों से पीयूष गुजरात की तरफ से डोमेस्टिक क्रिकेट खेलते हुए नज़र आते है।

यह भी पढ़ें: धोनी का तैयार किया हुआ गेंदबाज एशिया कप 2023 में भारत के लिए बनेगा दिक्कत, रफ्तार से काटता है बवाल