आयशा टाकिया

टार्जन और वांटेड जैसी फिल्मों में शानदार अभिनय करने वाली एक्ट्रेस ने आजकल बॉलीवुड से दुरी बना ली है. हम बात कर रहे हैं आयशा टाकिया की, जिन्होंने सलमान खान के साथ वांटेड फिल्म में लीड एक्ट्रेस का रोल निभाया था. कॉम्प्लैन गर्ल कही जाने वाली आयशा ने अपने करियर में ‘डोर’, ‘नो स्मोकिंग’ और ‘सोचा न था’ जैसी गंभीर फिल्मों में काम किया था. आखिरी बार उन्होंने 2017 में ‘बोरीबली का ब्रूस ली’ नाम फिल्म में काम किया, लेकिन किसी कारणवश अभी तक इस फिल्म को रिलीज नहीं किया जा सका.

आयशा टाकिया : एड फिल्मों से की करियर की शुरुआत

आयशा टाकिया

आयशा टाकिया का जन्म मुंबई के चेंबूर इलाके में हुआ था. इनके पिता हिन्दू और माँ मुस्लिम थी. मुंबई में अपनी स्कूली पढ़ाई खत्म करने वाली आयशा बचपन से ही हिरोइन बनना चाहती थी. उन्होंने महज 4 साल की उम्र में केमरा फेस करते हुए ऐड फिल्मों से अपने करियर की शुरुआत कर दी थी.

उन्हें अपना पहला एड कॉम्प्लैन कंपनी द्वारा ऑफर किया गया था. इस ऐड में आयशा के साथ शाहिद कपूर भी नज़र आए थे. आगे उन्होंने VIP सूटकेस, सीबाका टुथपेस्ट, गोदरेज समेत 60 से ज़्यादा ऐड फिल्मों में काम किया था.

आयशा टाकिया

जिसके बाद आयशा वो मशहूर सिंगर फाल्गुनी पाठक के गाने ‘मेरी चुनर उड़-उड़ जाए’ के म्यूज़िक वीडियो में  काम मिला. बाद  में डीजे अकील के गाने ‘शेक इट डैडी’ में मॉडल कीथ सीक्वेरा के साथ आयशा को देखा गया.

टार्जन फिल्म में आई नजर

आयशा टाकिया

आयशा ने अपनी पहली फिल्म साल 2004 में बनी ‘टार्जन द वंडर कार’ से बॉलीवुड में कदम रखा. जिसके बाद उन्होंने ‘शादी नंबर वन’ ‘, ‘सोचा ना था’, ‘नो स्मोकिंग’ , ‘फुल एंड फाइनल’ से लेकर सलमान की एक्शन फिल्म वांटेड जैसी फिल्मों में काम किया. रिपोर्ट्स के मुताबिक आयशा को फिल्म में किसिंग सीन के लिए मना करने पर कई फिल्मों से हाथ धोना पड़ा था. जहां आयशा के हाथ आयी ‘में हूं ना’ और ‘गजनी’ जैसी ब्लाक बस्टर फिल्मे उनके नखरों की वजह से निकल गयी. इस बात की जानकारी खुद आयशा ने कई न्यूज इंटरव्यू में दी है.

आयशा टाकिया

हालाँकि साल 2006 में उन्हें अपने पसंद की फिल्म मिल गयी थी. जिसका नाम था ‘डोर’ इस फिल्म में उनको एक राजस्थानी महिला का रोल दिया गया था, जिसे उन्होंने बखूबी निभाया भी था.

ससुर के बयान पर मजबूती से किया विरोध

आयशा टाकिया

निर्भया काण्ड के दौरान उनके ससुर ने पुरुषो के पक्ष में एक विवादित बयान दिया था. जिसकी पुरे देश में जमकर आलोचना की  गयी थी. इस बयान में उनके ससुर अबू आजमी ने कहा, ”विवाहित या अविवाहित कोई भी महिला अपनी मर्ज़ी या मर्ज़ी के खिलाफ किसी पुरुष के साथ जाती है, उसे फांसी होनी चाहिए. इस्लाम के मुताबिक रेप की सज़ा फांसी है. मगर हमारे यहां महिलाओं के साथ कुछ नहीं, सिर्फ पुरुषों को सज़ा का हकदार माना जाता है. इसमें महिलाएं भी उतनी ही कुसूरवार हैं, जितना कि कोई पुरुष. लड़कों से गलतियां हो जाती हैं. इसका मतलब ये तो नहीं कि उन्हें फांसी दे दी जाए.”

इस बयान का जबाब देते हुए आयशा टाकिया ने कहा, ”मैं अपने ससुर का दिया जो बयान पढ़ रही हूं, अगर वो सच है, तो मैं और फरहान उनकी इस बात से बेहद शर्मिंदा महसूस कर रहे हैं.”

पति के बिजनेस में दे रही साथ

आयशा टाकिया

मौजुदा समय में आयशा टाकिया अपने पति फरहान के रेस्टोरेंट बिजनेस में साथ दे रही हैं. साल 2013 में उन्होंने एक प्यारे से बेटे को जन्म दिया था, जिसका नाम मिखाइल है. फ़िलहाल आयशा टाकिया ने फिल्मों से पूरी तरह दुरी बना ली है, और अपने परिवार के साथ खुश हैं.