सुशांत मामले को लेकर रिया चक्रवर्ती के वकील की मांग, सीबीआई अपनी जांच को लोगों के साथ करे साझा

अब सुशांत सिंह राजपूत की मौत को छह महीने हो चुके हैं सुशांत की मौत को लेकर देश की तीन केंद्रीय एजेंसियां जांच कर रही हैं, लेकिन अभी तक किसी नतीजे पर नहीं पहुंच पाई हैं। हालांकि तीनों एजेंसियां अभी तक किसी नतीजे पर नहीं पहुंची हैं। अब मामले में मुख्य आरोपी रिया चक्रवर्ती के वकील सतीश मानेशिंदे सीबीआई की जांच पर सवाल उठाने लगे हैं।

सीबीआई को अपनी जांच लोगों के साथ साझा करनी चाहिए

सुशांत मामले को लेकर रिया चक्रवर्ती के वकील की मांग, सीबीआई अपनी जांच को लोगों के साथ करे साझा

आपको बता दें कि सीबीआई सुशांत की मौत को लेकर जांच कर रही है, तो एनसीबी ड्रग मामले की जांच कर रही है। इसके अलावा ईडी यानि प्रवर्तन निदेशालय मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में जांच कर रही है, लेकिन अभी तक किसी नतीजे पर नहीं पहुंच पाई हैं।

सुशांत मामले को लेकर रिया चक्रवर्ती के वकील की मांग, सीबीआई अपनी जांच को लोगों के साथ करे साझा

वहीं रिया चक्रवर्ती के वकील सतीश मानेशिंदे ने एक बयान जारी कर कहा है कि सीबीआई को अपनी जांच लोगों के साथ साझा करनी चाहिए। उन्होंने अपने बयान में कहा कि मैं महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख के बयान का स्वागत करता हूं, जिसमें उन्होंने सीबीआई को सुशांत सिंह मामले की जांच को लोगों के साथ साझा करने की बात कही है।

महाराष्ट्र सरकार के बयान में आगे कहा गया है कि जब मुंबई पुलिस ने जांच में दो महीने लगाए थे, तब बड़ी हाय-तौबा मची थी और अभी तक जांच का कोई नतीजा सामने नहीं आ पाया है।

पटना में रिया चक्रवर्ती और उनके परिवार पर लगे झूठे आरोप

सुशांत मामले को लेकर रिया चक्रवर्ती के वकील की मांग, सीबीआई अपनी जांच को लोगों के साथ करे साझा

बयान में सतीश मानेशिंदे ने कहा कि पटना में रिया चक्रवर्ती और उनके परिवार पर झूठे आरोप लगे और जुलाई 2020 में एक रिपोर्ट दर्ज कराई गई। ईडी, एनसीबी, सीबीआई और पटना पुलिस ने रिया चक्रवर्ती के खिलाफ जांच की।

एनसीबी ने झूठे मामले में उन्हें गिरफ्तार किया। एक महीने हिरासत में रहने के बाद उन्हें जमानत पर छोड़ा गया। इसके अलावा रिया ने सुशांत की बहनों पर भी बिना मेडिकल जांच के उन्हें गैर कानूनी दवाइयां देने का आरोप लगाया।

सुशांत मामले को लेकर रिया चक्रवर्ती के वकील की मांग, सीबीआई अपनी जांच को लोगों के साथ करे साझा

रिया का आरोप है कि दवाइयों का गलत असर भी उनकी मौत का कारण हो सकता है। मानेशिंदे ने अपने बयान में कहा कि अब सुशांत की मौत को छह महीने हो चुके हैं, मैंने हमेशा यही कहा है कि जांच कोई भी करे, लेकिन सच वही रहेगा। अब सीबीआई को चार महीने बाद अपनी जांच के साथ सामने आना चाहिए। सतीश मानेशिंदे ने अपने बयान में आगे कहा कि सत्यमेव जयते।