Garlic Price : लगातार बढ़ रहा लहसुन का दाम हुआ स्थिर, जानिए क्या है नई कीमत

TODAY GARLIC PRICE : पिछले कुछ दिनों से सब्जियों के रेट लगातार बढ़ोतरी देखने को मिल रही है. ऐसे में लोगों को समझ नहीं आ रहा है कि क्या खाए और क्या छोड़े. बढ़ती महंगाई के साथ लहसुन के दाम भी आसमान पर पहुंच गए हैं. सब्जियों में लहसुन का प्रयोग लगभग हर घरों में किया जाता है. इसके अलावा लहसुन का प्रयोग दाल में तड़का लगाने में भी किया जाता है. लेकिन जिस हिसाब से लहसुन का भाव बढ़ रहा है. उस हिसाब से लोग अब बिना तड़का के दाल खाना पसंद कर रहें हैं.

पिछले हफ्ते से स्थिर है लहसुन का दाम

Garlic Price : लगातार बढ़ रहा लहसुन का दाम हुआ स्थिर, जानिए क्या है नई कीमत

बता दें कि सर्दियों से पहले मांग बढ़ने और सप्लाई घटने के कारण देश के कई शहरों में लहसुन का भाव 200-300 रुपये प्रति किलोग्राम के बीच चल रहा है. दिल्ली में लहसुन खुदरा मूल्यों के साथ 300 रुपये किलो तक बिक रहा है. वहीं, लखनऊ में भी लहसुन का भाव 200-250 रुपये प्रति किलोग्राम तक पहुंच गया है. लहसुन के बड़े उत्पादक राज्य जैसे मध्य प्रदेश और राजस्थान में भी इसका भाव 200 रुपये प्रति किलो के आसपास हैं. बता दें कि फिलहाल पिछले हफ्ते से लहसुन का दाम स्थिर  है.

भाव बढ़ने का इंतजार कर रहे कारोबारी

Garlic Price : लगातार बढ़ रहा लहसुन का दाम हुआ स्थिर, जानिए क्या है नई कीमत

बाजार से जुड़े कारोबारियों का कहना है कि बेमौसम हुई बारिश के कारण मंडी में रखा लहसुन का स्टाक खराब हो गया है. वहीं, इसके चलते मंडी में लहसुन कि आवक भी काफी घट गई है. इसके वजह बाजार में लहसुन का सप्लाई सही से नहीं हो पा रहा है. कारोबारियों का कहना है कि कुछ ऐसे किसान भी हैं जिनके पास लहसुन है, लेकिन वह बाजार में और भाव बढ़ने का इंतजार कर रहें है. ऐसे में आने वाले दिनों में लहसुन बाजारों में और उंचे दामों पर बेचा जा सकता है.

चीन में होता है सबसे ज्यादा उत्पादन

Garlic Price : लगातार बढ़ रहा लहसुन का दाम हुआ स्थिर, जानिए क्या है नई कीमत

लहसुन की बढ़ती कीमतों को लेकर किसानों का कहना है कि इस बार मानसून सीजन के अंत समय में बारिश हुई है, जिससे लहसुन की खेती पर इसका बुरा असर पड़ेगा. अब तय समय की देरी से लहसुन की बुवाई  कि जाएगी. ऐसे में लहसुन की नई फसल आने में और ज्यादा समय लगेगा. बता दें कि लहसुन उत्पादन के मामले में चीन दुनिया में पहला स्थान रखता है. भारत में भी लहसुन की अच्छी खासी पैदावार होती है.