हरभजन सिंह की पाकिस्तान को खुली चुनौती, फाइनल में आने दो देख लेंगे, निक्कमी सोच है तुम्हारी

नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। भारतीय क्रिकेट टीम ने आइसीसी टी20 विश्व कप में पिछले दोनों मुकाबले में दमदार जीत से सेमीफाइनल की उम्मीद बढ़ाई है। अफगानिस्तान को 66 रन से हराने के बाद स्काटलैंड को खिलाफ भारत ने 6.3 ओवर में लक्ष्य हासिल कर 8 विकेट से जीत दर्ज की। अफगानिस्तान पर भारत की जीत के बाद से ही सोशल मीडिया पर इस बात को उछाला जा रहा है कि यह मैच फिक्स था। भारत के अनुभवी स्पिनर हरभजन सिंह ने तमाम ऐसे लोगों को जमकर क्लास लगाई है।

भज्जी ने पाकिस्तान पर सीधा आरोप लगाते हुए कहा कि यह सबको पता है कि ऐसे ट्रेंड कहां से किए जा रहे हैं। भारत के खिलाफ सालों के बाद मिली एक जीत हजम नहीं हो रही। जब पाकिस्तान की टीम कोई मैच जीते तो वो सही और भारत को जीत मिले तो उसने फिक्सिंग कर दी मैच को लेकर। भज्जी ने खुली चेतावनी देते हुए कहा इंतजार कीजिए उम्मीद है हम फाइनल में मिलेंगे और फिर आएगा असली मजा।

अफगानिस्तान इंडिया का मैच जो है वो फिक्स था। कितनी वाहियात बात है ये जब मैंने इसको ट्विटर पर पढ़ा रुका नहीं गया। इसकी शुरुआत कहां से हुई सबको पता है। इसे पाकिस्तान से शुरू किया गया। यह बात कि अफगानिस्तान भारत से जानबूझकर हारा है। क्यों आपको ऐसा लग भारत 210 रन नहीं बना सकता, बल्कि मैं तो कहता हूं और भी रन बन सकते थे कम बनाया भारत ने। इसके अलावा क्या भारत स्काटलैंड को 80 रन पर निपटा नहीं सकता था, मैं कहता हूं 60 रन पर भी निपटा सकता था। ये भारत की ताकत है।

ये लोग जो नई मुहिम छेड़कर बैठे हैं, उन सब से मैं यही करना चाहूंगा। देखो पाकिस्तान ने बहुत अच्छा खेला और हम सबने इसे स्वीकार किया। आज जीते भी बहुत बहुत मुबारकबाद। लेकिन अब ऐसी बदतमीजी करोगे इस तरीके की आप बड़े साफ पाक गेम खेलते हो और भारत जो है गेम जीत जाए उस पर शक है। क्योंकि आपको भी पता है आपके खिलाड़ियों का इतिहास कैसा रहा है।

इस तरह की फालतू चीजें ट्विटर पर लाना और यह कहना की आइसीसी जानबूझकर चाह रही है कि भारत आगे जाए। यह बात बिल्कुल गलत है, निकम्मी सोच है तुम्हारी क्योंकि आपको जो पहली बार इतने सालों में जीत मिली है ना वो पच नहीं रही। आप उसका मजा उठाइए और खुश रहिए। मैं उम्मीद करता हूं कि भारत आपको फाइनल में मिले और अगर मिला ना तो फिर आएगा मजा। जो फालतू के ट्विटर अकाउंट लेकर बैठे हो उसे करो बंद अपनी टीम के करो सपोर्ट जैसे हम करते हैं। क्रिकेट में कोई भी जीते हम उसको स्वीकार करते हैं अगर पाकिस्तान जीता को बोलेंगे हां अच्छा खेला। अगर भारत जीते तो उसको पचाने का माद्दा रखो। फालतू की ये नौटंकी यहां मत करो।