Mustard Oil Price : सरसों तेल ने बिगाड़ा बजट उम्मीद से ज्यादा बढ़ गई है कीमत, जानिए अब कितनी हो गई है कीमत

Today Mustard Oil Price : देश में इस समय त्योहारों का सीजन चल रहा है. ऐसे में हर रोज बढ़ रहे खाद्य तेल कि कीमतों ने मुश्किल पैदा कर दिया है. सरसों तेल की कीमतों की बात करे तो अन्य वस्तुओं के मुकाबले इनके दामों में भी लगातार बढ़ोतरी दर्ज की जा रही है. इससे आम आदमी के घरों का बजट गड़बड़ा सा गया है. वहीं, दीपावली का त्यौहार नजदीक आते ही बाजारों में सरसों, मूंगफली, सोयाबीन समेत सभी तेल-तिलहन के दाम बढ़ गए हैं.

Mustard Oil Price : सरसों तेल ने बिगाड़ा बजट उम्मीद से ज्यादा बढ़ गई है कीमत, जानिए अब कितनी हो गई है कीमत

लगातार बढ़ी है तेल की कीमत

खाद्य मंत्रालय के अनुसार पिछले एक साल से अब तक सरसों का तेल सबसे ज्यादा महंगा हुआ है. यदि पिछले एक साल के कीमत की बात करें तो 21 अक्टूबर 2020 को देश में सरसों तेल की औसत रिटेल प्राइज 128.96 रुपये लीटर थी, जो 21 अक्टूबर 2021 को बढ़कर 185.88 रुपये लीटर पर पहुंच गई. वहीं, सोयाबीन के तेल की बात करे तो 21 अक्टूबर 2020 में सोयाबीन की औसत रिटेल प्राइज देश में 105 रुपये लीटर थी, जो इस साल 21 अक्टूबर 2021 को 156 रुपये लीटर है. वहीं, खुदरा बाजारों की बात करें तो इस समय खुदरा बाजारों में सरसों का तेल 190 रुपये लीटर है वहीं. सोयाबिन का तेल 160 से 170 रुपये प्रति लीटर बिक रहा है.

इस साल अच्छी नहीं हुई है तिलहन की फसल

Mustard Oil Price : सरसों तेल ने बिगाड़ा बजट उम्मीद से ज्यादा बढ़ गई है कीमत, जानिए अब कितनी हो गई है कीमत

एक्सपर्ट के अनुसार, इस साल तिलहन की फसलों की अच्छी पैदावार नहीं हुई है, जिसके कारण मंडियों में जरूरत के हिसाब से आवाक नहीं हो पाया है. इस कारण से खाद्य तेलों की कीमतों में लगातार इजाफा देखने को मिल रहा है. बता दें कि पिछले 6, 7 महीनों से लगातार खाद्य तेलो की कीमतों में लगातार बढ़ोतरी देखने को मिली है. जो सरसो का तेल कुछ महीनों पहले 100 रुपये से लेकर 110 रुपये लीटर तक बिक रहा था. आज के समय में वह तेल 190 से लेकर 210 रुपये लीटर तक बिक रहा है. वहीं, रिफाइंड तेल की बात करें तो इस समय उसका भाव 180 से 195 रुपये प्रति लीटर बिक रहा है. ऐसें में अब लोग खाने में तेल का इस्तेमाल जरूरत के हिसाब से ही कर रहे हैं.

दीपावली के बाद और बढ़ेगे तेलों के दाम

Mustard Oil Price : सरसों तेल ने बिगाड़ा बजट उम्मीद से ज्यादा बढ़ गई है कीमत, जानिए अब कितनी हो गई है कीमत
रिपोर्ट के अनुसार, देश में अभी सरसों का 10-12 लाख टन का स्टॉक रह गया है. इसमें से भी ज्यादा स्टॉक किसानों के पास ही है. व्यापारियों का कहना है कि किसान तिलहन की फसलों के और दाम बढ़ने का इंतजार कर रहे हैं, जिससे उन्हें उनकी फसलों का अच्छा दाम मिल सके. फिलहाल इस समय सरसों का भाव मंडियों में 9200 रुपये प्रति कुंतल है. वहीं, दूसरी ओर त्योहारी सीजन में तेलों की मांग लगातार बढ़ रही है. ऐसे में अंदाजा लगाया जा रहा है कि दीपावली के बाद सरसों के तेल के दामों में और बढ़ोत्तरी देखने को मिल सकती है.