Gold

नई दिल्ली: जैसा की हम सब जानते है कि भारत में दुनिया के सबसे बड़े सोने के उपभोक्ता है। सोने-चांदी के शौकीन लोगों के साथ-साथ वहीं अब देश में शादियों का सीजन भी शुरु होने वाला है। ऐसे में सोने को लेकर लोगों के लिए अच्छी खबर है। नए साल की शुरुआत से ही सोने-चांदी की कीमतों में लगातार गिरावट देखने को मिल रही है। तो चलिए जानतें है कि आप को कितने कैरेट सोने के लिए कीमत चुकानी पड़ेगी।

जारी आंकड़ो में दिखी 10 रुपए की गिरावट

7 जनवरी 2022 को सोने-चांदी की कीमतो के जारी किए गए ताजा आंकड़ो के मुताबिक 22 और 24 कैरेट गोल्ड के दामों में 10 रुपए की गिरावट देखने को मिली है। जिसके साथ अब 22 कैरेट शुध्दता वाले सोने की कीमत 46 हजार 820 रुपए 10 ग्राम तक पहुंच गया है। वहीं 24 कैरेट गोल्ड के 10 ग्राम के लिए अब आपको 48 हजार 820 रुपए देने होंगे।

Gold

चांदी की कीमत में दर्ज की गई भारी गिरावट

वहीं अगर बात करें चांदी की कीमतो के बारें में तो 7 जनवरी 2022 के जारी के आंकड़ो के अनुसार बीते दिन के मुताबिक चांदी की कीमतो में 200 रुपए की गिरावट दर्ज की गई है। 200 रुपए की भारी गिरावट के साथ 1 किलो चांदी की कीमत 60 हजार 400 रुपए पहुंच गई है। वहीं सोने-चांदी के दामों में कमी को देखते हुए इनकी मांगों में तेजी देखने को मिली है।

Gold

जानें किस शहर में सोने का क्या है दाम

देश में राष्ट्रीय राजधानी समेत तीन और महानगरों में सोने की कीमत कुछ इस प्रकार है- दिल्ली में 22 कैरेट की शुध्दता वाले सोने की कीमत 47 हजार 90 रुपए और 24 कैरेट की 51 हजार 390 रुपए है। मुंबई में 22 कैरेट गोल्ड के दाम 46 हजार 820 और 24 कैरेट का दाम 48 हजार 820 है। इसके अलावा चेन्नई में 22 कैरेट की कीमत 44 हजार 860 और 24 कैरेट का दाम 48 हजार 940 है। बात करें अगर कोलकात की तो यहां 22 कैरेट सोने की कीमत 47 हजार 40 रुपए और 24 कैरेट की कीमत 49 हजार 740 रुपए है। इसके अलावा अलग-अलग शहरों के मुताबिक अलग-अलग रेट कुछ इस तरह है।

Gold

सोना खरीदते समय रखें इन बातों का खास ध्यान

गौरतलब है कि सोना खरीदते समय उसकी क्वॉलिटी का ध्यान रखना बहुत जरूरी है। बता दें कि सोने खरीदते समय हॉलमार्क देखकर ही गहनों की खरीदारी करें। मालूम हो कि हॉलमार्क सोने की सरकारी गारंटी है और भारत की एकमात्र एजेंसी ब्यूरो ऑफ इंडियन स्टैंडर्ड (BIS) हॉलमार्क का निर्धारण करती है। हॉलमार्किंग योजना भारतीय मानक ब्यूरो अधिनियम के तहत संचालन, नियम और रेग्युलेशन का काम करती है।