Gold Rate Today: और सस्ता हो गया सोना, यही है खरीदने का सही समय, कई महीनों के न्यूनतम स्तर पर पहुंची कीमत

सोने (Gold) की कीमत में गुरुवार को तेजी दिख रही है। MCX पर अक्टूबर डिलीवरी वाला सोना सुबह 40 रुपये की तेजी के साथ खुला। दोपहर बाद 2 बजे यह 167 रुपये की तेजी के साथ 45,752 रुपये प्रति 10 ग्राम पर ट्रेड कर रहा था। सुबह के सत्र में इसने 45,625 रुपये का न्यूनतम और 45,824 रुपये का उच्चतम स्तर छू लिया। दूसरी ओर चांदी की कीमत में तेजी आई है। दिसंबर डिलीवरी वाली चांदी 164 रुपये की तेजी के साथ 58,550 रुपये प्रति किलो पर ट्रेड कर रही थी।

ये है सोने की कीमत

Gold Rate Today: और सस्ता हो गया सोना, यही है खरीदने का सही समय, कई महीनों के न्यूनतम स्तर पर पहुंची कीमत

वैश्विक बाजारों में बहुमूल्य धातुओं की कीमतों में सुधार के रुख के अलावा रुपये के मूल्य में गिरावट आने से राष्ट्रीय राजधानी के सर्राफा बाजार में बुधवार को सोना 264 रुपये की तेजी के साथ 45,123 रुपये प्रति 10 ग्राम हो गया। एचडीएफसी सिक्योरिटीज ने यह जानकारी दी। इससे पिछले कारोबारी सत्र में सोना 44,859 रुपये प्रति 10 ग्राम पर बंद हुआ था। चांदी की कीमत भी 362 रुपये की तेजी के साथ 58,825 रुपये प्रति किलो (Silver price) पर बंद हुई। पिछले कारोबारी सत्र में यह 58,463 रुपये प्रति किलो के भाव पर रही थी।

10 हजार रुपये सस्ता हुआ सोना

Gold Rate Today: और सस्ता हो गया सोना, यही है खरीदने का सही समय, कई महीनों के न्यूनतम स्तर पर पहुंची कीमत

सोने की कीमतों में भले ही बढ़त देखी जा रही है, लेकिन लंबी अवधि में सोना करीब 10 हजार रुपये से अधिक सस्ता हो चुका है। पिछले साल अगस्त में सोना 56,200 रुपये के अपने उच्चतम स्तर तक जा पहुंचा था और अभी सोना 45,400 रुपये प्रति 10 ग्राम के स्तर के करीब पहुंच गया है। इस तरह सोने की कीमत अब तक 10 हजार रुपये से अधिक गिर चुकी है। अगर आप सोना खरीदने की सोच रहे हैं तो ये खरीदारी का अच्छा मौका है।

पिछले साल में सोने ने दिया कितना रिटर्न?

Gold Rate Today: और सस्ता हो गया सोना, यही है खरीदने का सही समय, कई महीनों के न्यूनतम स्तर पर पहुंची कीमत

अगर बात सोने की करें तो पिछले साल सोने ने 28 फीसदी का रिटर्न दिया है। उससे पिछले साल भी सोने का रिटर्न करीब 25 फीसदी रहा था। अगर आप लॉन्ग टर्म के लिए निवेश कर रहे हैं तो सोना अभी भी निवेश के लिए बेहद सुरक्षित और अच्छा विकल्प है, जिसमें शानदार रिटर्न मिलता है। पिछले सालों में सोने से मिला रिटर्न आपके सामने है, जो दिखाता है कि निवेश करने से फायदा ही है।

सोना हमेशा ही मुसीबत की घड़ी में खूब चमका है। 1979 में कई युद्ध हुए और उस साल सोना करीब 120 फीसदी उछला था। अभी हाल ही में 2014 में सीरिया पर अमेरिका का खतरा मंडरा रहा था तो भी सोने के दाम आसमान छूने लगे थे। हालांकि, बाद में यह अपने पुराने स्तर पर आ गया। जब ईरान से अमेरिका का तनाव बढ़ा या फिर जब चीन-अमेरिका के बीच ट्रेड वॉर की स्थिति बनी, तब भी सोने की कीमत बढ़ी। इसी तरह कोरोना काल हावी हुआ तो भी सोने में तगड़ी तेजी आई और सोना 56,200 रुपये के उच्चतम स्तर तक जा पहुंचा। जैसे-जैसे मुसीबत के बादल छंट रहे हैं, सोने की चमक फीकी पड़ती जा रही है।