Tomato Price : सरसों तेल और प्याज की कीमत कम होने के बाद जानिए क्या हैं टमाटर के नए दाम

लहसुन-प्याज के बाद अब टमाटर भी बारिश के कारण पीला हो रहा है। वहीं उसका भाव धीरे-धीरे लाल होना शुरू हो गया है। गतसरसों-तेल-और-प्याज-की-कीम सप्ताह फुटकर बाजार में टमाटर का भाव 15-20 रुपये प्रतिकिलो चल रहा था। वहीं मंगलवार को हुई बारिश के बाद बुधवार को टमाटर के भाव में 5 से 10 रुपये की वृद्धि हो गयी है।

अचानक टमाटर का 30 रुपये प्रतिकिलो भाव सुनकर ग्राहक भौचक्का थे। मंडी में व्यापारियों ने बताया कि यदि लगातार बारिश हुई तो टमाटर के दाम और बढ़ेंगे। उनका मानना है कि स्थानीय किसानों के खेतों में पानी भरने से उपज कम हो जाएगी। उसके बाद सोनभद्र से आने वाले टमाटर से बाजार के मांग की पूर्ति होगी।

मौसम बदलते ही प्याज और लहसुन धीरे-धीरे अब रफ्तार पकडऩा शुरू कर दिया है। सही समय से मानसून आने के कारण बारिश की संभावनाओं को देखते हुए पहडिय़ा मंडी के व्यापारी प्याज की खेप कम मंगा रहे हैं। उनका कहना है कि बारिश में नमी से प्याज जल्दी खराब हो जाता है। इस कारण पहले गोदाम में रखे प्याज को बेचा जा रहा है। इससे भाव में थोड़ी तेजी दिख रही है।

दूसरी ओर महाराष्ट्र में भारी बारिश के कारण प्याज की जो खेप आ रही है, उसकी गुणवत्ता ठीक नहीं है। मंडी के एक व्यापारी ने बताया कि इस समय प्याज की आवक महाराष्ट्र और मध्यप्रदेश के साथ ही स्थानीय किसानों से भी हो रही है। एक महीने पहले जहां थोक में प्याज का भाव एक हजार से 15 सौ रुपये प्रति क्विंटल चल रहा था, वह अब दो हजार रुपये प्रति क्विंटल के भाव बिक रहा है।