गोरखपुर जंक्शन ने रचा इतिहास, इस मामले में पहले स्थान पर
/

गोरखपुर जंक्शन ने रचा इतिहास, इस मामले में पहले स्थान पर

गोरखपुर: पूर्वोत्तर रेलवे में स्वच्छता पखवाड़ा के तहत चलाए गए कई तरह के अभियानों का परिणाम घोषित हो चुका है। लखनऊ मंडल के पीआरओ महेश गुप्ता ने बताया कि पखवाड़ा में स्टेशन,  ट्रेन व कार्यालय संबंधित विभिन्न प्रकार के आयोजन कराए गए थे।

जिसके तहत  सफाई में गोरखपुर जंक्शन को पहला, लखनऊ को दूसरा और गोंडा जंक्शन को तीसरा स्थान प्राप्त हुआ है। वहीं ट्रेनों की साफ़-सफाई में 02541 गोरखपुर-एलटीटी एक्सप्रेस को पहला स्थान प्राप्त हुआ है। वहीं 02533 पुष्पक एक्सप्रेस को दूसरा और 02555 गोरखधाम एक्सप्रेस को तीसरा स्थान मिला है।

रूट बदलकर चलेगी गोरखपुर-यशवंतपुर

बता दें कि, दक्षिण मध्य रेलवे के राघवपुरम-कोलानुर स्टेशन के बीच रेलवेलाइन पर निर्माण कार्य अभी जारी है। वहीं सीपीआरओ पंकज कुमार सिंह ने बताया है कि पूर्वोत्तर रेलवे की कई ट्रेनों का रूट चेंज कर चलाया जाएगा। 10 और 12 अक्तूबर को चलने वाली 02591 गोरखपुर-यशवंतपुर एक्सप्रेस बदला हुआ मार्ग मजरी, पिंपलखुटी, निजामाबाद के रास्ते पर चलेगी। साथ ही लौटते में भी ये ट्रेन बदले हुए मार्ग से होकर ही चलाई जाएगी।

5 अक्तूबर को सिद्धार्थनगर रेलवे स्टेशन का उद्घाटन

सूत्रों के मुताबिक, 5 अक्तूबर को सिद्धार्थनगर रेलवे स्टेशन का वर्चुअल उद्घाटन रेलमंत्री पीयूष गोयल करेंगे। बताया जा रहा है कि इस मौके पर सांसद जगदंबिका पाल सहित पूर्वोत्तर रेलवे के वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद रहेंगे। वहीं सीपीआरओ पंकज कुमार सिंह ने बताया है कि जन आकांक्षाओं व क्षेत्र की ऐतिहासिकता को ध्यान में रखते हुए नौगढ़ रेलवे स्टेशन का नाम सिद्धार्थनगर कर दिया गया है।

सबसे लंबा प्लेटफार्म है गोरखपुर रेलवे स्टेशन

बताते चलें कि उत्तर प्रदेश का गोरखपुर रेलवे स्टेशन दुनिया का सबसे लंबा प्लेटफॉर्म है। पूरे विश्व में गोरखपुर जितना लम्बा प्लेटफार्म कहीं नहीं है। गोरखपुर यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ का गृहनगर है। दुनिया के टॉप-10 लम्बे प्लेटफार्म की सूची में भारत के 6 शहरों के रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म हैं।

पहले, दूसरे व तीसरे स्थान पर भारत के स्टेशनों के प्लेटफार्म ही है। पहले पर गोरखपुर, दूसरे पर केरल, तीसरे पर पश्चिम बंगाल, पांचवे पर छत्तीसगढ़, सातवें पर झांसी तथा दसवें नम्बर पर बिहार के एक स्टेशन के प्लेटफार्म को सबसे लम्बे प्लेटफार्म में शामिल किया गया था।