गांधी जयंती: महात्मा गांधी के उपर बन चुकी हैं ये 5 फ़िल्में
/

गांधी जयंती: महात्मा गांधी के उपर बन चुकी हैं ये 5 फ़िल्में, नंबर 5 ने तोड़े थे कई रिकॉर्ड

मुंबई: महात्मा गांधी को आखिर कौन नहीं जानता है। महात्मा गांधी को ब्रिटिश शासन के खिलाफ भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन का नेता और ‘राष्ट्रपिता’ माना जाता है। इनका पूरा नाम मोहनदास करमचंद गांधी था। देश को स्वतंत्रता दिलवाने में महात्मा गांधी की विशेष भूमिका रही है। गांधी जी एक ऐसी शख्सियत थे, जो बॉलीवुड में पसंदीदा विषय रहने के साथ–साथ हॉलीवुड में भी अपनी छाप छोड़ चुके हैं।

बॉलीवुड में फिल्म निर्माताओं ने गांधी जी पर आधारित कई फ़िल्में बनाई है, जिसे दर्शकों ने पूरी तरह से सराहा है। बता दें कि रिचर्ड एटनबरो हो या फिर राजकुमार हिरानी, ​​सभी ने गांधी जी के किरदार को बड़े पर्दे पर अपने नज़रिए से दर्शकों के सामने पेश करने का अथक प्रयास किया है।  2 अक्टूबर को गांधी जयंती है, तो आज हम आपको महात्मा गांधी पर आधारित कुछ फिल्मों के बारे में बताने जा रहे हैं।

गांधी

इस लिस्ट में सबसे ऊपर जिसका नाम आता है वो है, फिल्म ‘गांधी’। इस फिल्म का निर्देशन रिचर्ड एटनबरो ने साल  1982 में किया था। इस फिल्म में खास बात ये है कि इसमें बापू का किरदार हॉलिवुड एक्टर बेन किंग्स्ले ने निभाया था। इनके अलावा फिल्म में अमरीश पुरी, ओम पुरी, रोहिणी हट्टंगानी और रजित कपूर जैसे कलाकारों ने भी बेहतरीन अभिनय से दर्शकों का दिल जीत लिया था। वहीं इस फिल्म को 8 ऑस्कर अवॉर्ड भी मिल चुके हैं।

हे राम

फिल्म ‘हे राम’ साल 2000 में रिलीज़ हुई थी, जिसमें  नसीरुद्दीन शाह ने गांधी जी का किरदार निभाया था। इस फिल्म का निर्देशन कमल हासन ने किया था। फिल्म में देश के विभाजन के बाद हुए दंगों और उसके बाद गांधी जी की कहानी को दर्शाया गया था। इस फिल्म में शाहरुख खान, अतुल कुलकर्णी, रानी मुखर्जी, गिरीश कर्नाड और ओमपुरी जैसे दमदार कलाकारों ने काम किया था। वहीं फिल्म के अच्छे प्रदर्शन के चलते इसे भारत की तरफ से ऑस्कर में भी भेजा गया था।

महात्मा का निर्माण

अगर आप मोहनदास करमचंद गांधी से लेकर बापू के महात्मा बनने तक की पूरी जानकारी विस्तार से जानने की इच्छा रखते हैं, तो आपको ये फिल्म जरूर देखती चाहिए। इस फिल्म में रजत कपूर ने महात्मा गांधी का किरदार निभाया था। बता दें कि गांधी जी ने ब्रिटेन और अफ्रीका में रहने के दौरान वहां क्या-क्या देखा। जिससे कि उनके जीवन में क्या कुछ महत्वपूर्ण बदलाव हुए, इस पूरे सफर को बहुत ही बारीकी व प्रभावी तरह से इस फिल्म में दर्शाया गया है।

गांधी, मेरे पिता

फिल्म गांधी, मेरे पिता साल 2007 में रिलीज हुई थी। एक्टर अनिल कपूर की ये फिल्म गांधी के राजनीतिक पहलू पर नहीं, बल्कि निजी जिंदगी पर आधारित थी। ये फिल्म महात्मा गांधी और उनके बड़े बेटे हरिलाल के रिश्तों पर आधारित थी। फिरोज अब्बास मस्तान के निर्देशन में बनी इस फिल्म में गांधी जी के जीवन के दुखद परिस्थितियों दर्शाया गया था। फिल्म में अक्षय खन्ना, दर्शन जरीवाला, भूमिका चावला और शेफाली शाह ने अहम भूमिका निभाई थी। इस फिल्म को राष्ट्रीय पुरस्कार भी मिल चुका है।

लगे रहो मुन्ना भाई

इस फिल्म में गांधी के अहिंसात्मक तरीके को ‘गांधीगीरी’ के तौर पर दर्शकों के सामने पेश किया गया, जिसकी काफी सराहना हुई। ये फिल्म साल 2006 में आई थी।  निर्देशक राजकुमार हिरानी की यह फिल्म हिट रही थी। फिल्म में गांधी जी की विचारधारा को बेहद ही अनूठे अंदाज़ में पर्दे पर दिखाया गया है। संजय दत्त, अरशद वारसी और बोमन ईरानी ने फिल्म में दमदार भूमिका निभाई थी, जोकि दर्शकों को बेहद पसंद आई थी।