Aaj Ka Panchang 20 January 2021: शुक्ल पक्ष सप्तमी पर देखें आज का पंचांग, शुभ-अशुभ समय और राहुकाल

आज 20 जनवरी 2021 को हिंदू पंचांग (Aaj Ka Panchang 20 January 2021) के अनुसार बुधवार है. बुधवार का दिन भगवान श्रीगणेश को समर्पित है. गणेशजी सभी देवता में प्रिय देता है. अत: बुधवार के दिन गणेशजी का पूजन-अर्चन करने से अनं‍‍त सुख और अपार धन-वैभव की प्राप्ति होती है. इस दिन बुध ग्रह का पूजन करना भी बहुत ही लाभदायी माना गया है. पंचांग से जानें आज का शुभ और अशुभ मुहूर्त और जानें कैसी रहेगी आज ग्रहों की चाल

दिनाँक-: 20/01/2021,बुधवार
सप्तमी, शुक्ल पक्ष
पौष
“””””””””””””””””””””””””””””””””””(समाप्ति काल)

तिथि ———सप्तमी 13:14:20 तक
पक्ष —————————शुक्ल
नक्षत्र ———–रेवती 12:35:11
योग ————-सिद्ध 19:28:33
करण ———वणिज 13:14:20
करण ——विष्टि भद्र 26:30:29
वार ————————-बुधवार
माह —————————- पौष
चन्द्र राशि ——–मीन 12:35:11
चन्द्र राशि ———————-मेष
सूर्य राशि ——————- मकर
रितु ————————–शिशिर
आयन ——————–उत्तरायण
संवत्सर ———————-शार्वरी
संवत्सर (उत्तर) ————प्रमादी
विक्रम संवत —————-2077
विक्रम संवत (कर्तक) —-2077
शाका संवत —————-1942
सूर्योदय —————-07:11:32
सूर्यास्त —————-17:49:15
दिन काल ————-10:37:43
रात्री काल ————-13:22:02
चंद्रोदय —————-11:42:56
चंद्रास्त —————–24:31:33

लग्न —- मकर 6°4′ , 276°4′

सूर्य नक्षत्र ————-उत्तराषाढा
चन्द्र नक्षत्र ——————–रेवती
नक्षत्र पाया ——————–स्वर्ण

🚩💮🚩 पद, चरण 🚩💮🚩

ची —-रेवती 12:35:11

चु —-अश्विनी 19:19:01

चे —-अश्विनी 26:03:47

💮🚩💮 ग्रह गोचर 💮🚩💮

ग्रह =राशी , अंश ,नक्षत्र, पद
========================
सूर्य=मकर 06°52 ‘ उ o षा o , 3 जा
चन्द्र = मीन27°23 ‘ रेवती ‘ 4 ची
बुध = मकर 23°07′ धनिष्ठा’ 1 गा
शुक्र= धनु 20 ° 55, पू oषाo ‘ 3 फा
मंगल=मेष 12°30 ‘ अश्विनी ‘ 4 ला
गुरु=मकर 12°22 ‘ श्रवण , 1 खी
शनि=मकर 09°43 ‘ उ oषा o ‘ 4 जी
राहू=(व)वृषभ 23°42 ‘मृगशिरा , 1 वे
केतु=(व)वृश्चिक 23°42 ज्येष्ठा , 3 यी

🚩💮🚩शुभा$शुभ मुहूर्त🚩💮🚩

राहू काल 12:30 – 13:50 अशुभ
यम घंटा 08:31 – 09:51 अशुभ
गुली काल 11:11 – 12:30 अशुभ
अभिजित 12:09 -12:52 अशुभ
दूर मुहूर्त 12:09 – 12:52 अशुभ

💮गंड मूल अहोरात्र अशुभ

🚩पंचक 07:12 – 12:35 अशुभ

💮चोघडिया, दिन
लाभ 07:12 – 08:31 शुभ
अमृत 08:31 – 09:51 शुभ
काल 09:51 – 11:11 अशुभ
शुभ 11:11 – 12:30 शुभ
रोग 12:30 – 13:50 अशुभ
उद्वेग 13:50 – 15:10 अशुभ
चर 15:10 – 16:30 शुभ
लाभ 16:30 – 17:49 शुभ

🚩चोघडिया, रात
उद्वेग 17:49 – 19:30 अशुभ
शुभ 19:30 – 21:10 शुभ
अमृत 21:10 – 22:50 शुभ
चर 22:50 – 24:30* शुभ
रोग 24:30* – 26:11* अशुभ
काल 26:11* – 27:51* अशुभ
लाभ 27:51* – 29:31* शुभ
उद्वेग 29:31* – 31:11* अशुभ

💮होरा, दिन
बुध 07:12 – 08:05
चन्द्र 08:05 – 08:58
शनि 08:58 – 09:51
बृहस्पति 09:51 – 10:44
मंगल 10:44 – 11:37
सूर्य 11:37 – 12:30
शुक्र 12:30 – 13:24
बुध 13:24 – 14:17
चन्द्र 14:17 – 15:10
शनि 15:10 – 16:03
बृहस्पति 16:03 – 16:56
मंगल 16:56 – 17:49

🚩होरा, रात
सूर्य 17:49 – 18:56
शुक्र 18:56 – 20:03
बुध 20:03 – 21:10
चन्द्र 21:10 – 22:17
शनि 22:17 – 23:23
बृहस्पति 23:23 – 24:30
मंगल 24:30* – 25:37
सूर्य 25:37* – 26:44
शुक्र 26:44* – 27:51
बुध 27:51* – 28:58
चन्द्र 28:58* – 30:04
शनि 30:04* – 31:11

नोट– दिन और रात्रि के चौघड़िया का आरंभ क्रमशः सूर्योदय और सूर्यास्त से होता है।
प्रत्येक चौघड़िए की अवधि डेढ़ घंटा होती है।
चर में चक्र चलाइये , उद्वेगे थलगार ।
शुभ में स्त्री श्रृंगार करे,लाभ में करो व्यापार ॥
रोग में रोगी स्नान करे ,काल करो भण्डार ।

“””””””””””””””””””””””””””””””””””(समाप्ति काल)

तिथि ———सप्तमी 13:14:20 तक
पक्ष —————————शुक्ल
नक्षत्र ———–रेवती 12:35:11
योग ————-सिद्ध 19:28:33
करण ———वणिज 13:14:20
करण ——विष्टि भद्र 26:30:29
वार ————————-बुधवार
माह —————————- पौष
चन्द्र राशि ——–मीन 12:35:11
चन्द्र राशि ———————-मेष
सूर्य राशि ——————- मकर
रितु ————————–शिशिर
आयन ——————–उत्तरायण
संवत्सर ———————-शार्वरी
संवत्सर (उत्तर) ————प्रमादी
विक्रम संवत —————-2077
विक्रम संवत (कर्तक) —-2077
शाका संवत —————-1942
सूर्योदय —————-07:11:32
सूर्यास्त —————-17:49:15
दिन काल ————-10:37:43
रात्री काल ————-13:22:02
चंद्रोदय —————-11:42:56
चंद्रास्त —————–24:31:33

लग्न —- मकर 6°4′ , 276°4’

सूर्य नक्षत्र ————-उत्तराषाढा
चन्द्र नक्षत्र ——————–रेवती
नक्षत्र पाया ——————–स्वर्ण

🚩💮🚩 पद, चरण 🚩💮🚩

ची —-रेवती 12:35:11

चु —-अश्विनी 19:19:01

चे —-अश्विनी 26:03:47

💮🚩💮 ग्रह गोचर 💮🚩💮

ग्रह =राशी , अंश ,नक्षत्र, पद
========================
सूर्य=मकर 06°52 ‘ उ o षा o , 3 जा
चन्द्र = मीन27°23 ‘ रेवती ‘ 4 ची
बुध = मकर 23°07′ धनिष्ठा’ 1 गा
शुक्र= धनु 20 ° 55, पू oषाo ‘ 3 फा
मंगल=मेष 12°30 ‘ अश्विनी ‘ 4 ला
गुरु=मकर 12°22 ‘ श्रवण , 1 खी
शनि=मकर 09°43 ‘ उ oषा o ‘ 4 जी
राहू=(व)वृषभ 23°42 ‘मृगशिरा , 1 वे
केतु=(व)वृश्चिक 23°42 ज्येष्ठा , 3 यी

🚩💮🚩शुभा$शुभ मुहूर्त🚩💮🚩

राहू काल 12:30 – 13:50 अशुभ
यम घंटा 08:31 – 09:51 अशुभ
गुली काल 11:11 – 12:30 अशुभ
अभिजित 12:09 -12:52 अशुभ
दूर मुहूर्त 12:09 – 12:52 अशुभ

💮गंड मूल अहोरात्र अशुभ

🚩पंचक 07:12 – 12:35 अशुभ

💮चोघडिया, दिन
लाभ 07:12 – 08:31 शुभ
अमृत 08:31 – 09:51 शुभ
काल 09:51 – 11:11 अशुभ
शुभ 11:11 – 12:30 शुभ
रोग 12:30 – 13:50 अशुभ
उद्वेग 13:50 – 15:10 अशुभ
चर 15:10 – 16:30 शुभ
लाभ 16:30 – 17:49 शुभ

🚩चोघडिया, रात
उद्वेग 17:49 – 19:30 अशुभ
शुभ 19:30 – 21:10 शुभ
अमृत 21:10 – 22:50 शुभ
चर 22:50 – 24:30* शुभ
रोग 24:30* – 26:11* अशुभ
काल 26:11* – 27:51* अशुभ
लाभ 27:51* – 29:31* शुभ
उद्वेग 29:31* – 31:11* अशुभ

💮होरा, दिन
बुध 07:12 – 08:05
चन्द्र 08:05 – 08:58
शनि 08:58 – 09:51
बृहस्पति 09:51 – 10:44
मंगल 10:44 – 11:37
सूर्य 11:37 – 12:30
शुक्र 12:30 – 13:24
बुध 13:24 – 14:17
चन्द्र 14:17 – 15:10
शनि 15:10 – 16:03
बृहस्पति 16:03 – 16:56
मंगल 16:56 – 17:49

🚩होरा, रात
सूर्य 17:49 – 18:56
शुक्र 18:56 – 20:03
बुध 20:03 – 21:10
चन्द्र 21:10 – 22:17
शनि 22:17 – 23:23
बृहस्पति 23:23 – 24:30
मंगल 24:30* – 25:37
सूर्य 25:37* – 26:44
शुक्र 26:44* – 27:51
बुध 27:51* – 28:58
चन्द्र 28:58* – 30:04
शनि 30:04* – 31:11

नोट– दिन और रात्रि के चौघड़िया का आरंभ क्रमशः सूर्योदय और सूर्यास्त से होता है।
प्रत्येक चौघड़िए की अवधि डेढ़ घंटा होती है।
चर में चक्र चलाइये , उद्वेगे थलगार ।
शुभ में स्त्री श्रृंगार करे,लाभ में करो व्यापार ॥
रोग में रोगी स्नान करे ,काल करो भण्डार ।