Aaj Ka Panchang 3 December 2020: कृष्ण पक्ष तृतीया पर देखें आज का पंचांग, शुभ-अशुभ समय और राहुकाल

आज 3 दिसंबर को हिंदू पंचांग (Aaj Ka Panchang 3 December 2020) के अनुसार गुरुवार है. गुरुवार का दिन सुख सम्बृद्धि और सौभाग्य का दिन होता है. यह दिन भगवान विष्णु और मां सरस्वती दोनों की पूजा का दिन होता है. ऐसा कहा जाता है कि भगवान विष्णु जल्दी प्रसन्न नहीं होते, मगर शास्त्रों में उनको प्रसन्न करने के बेहद आसान उपाय भी बताए गए हैं. जिनके माध्यम से आप प्रभु की कृपा के पात्र बन सकते हैं. पंचांग से जानें आज का शुभ और अशुभ मुहूर्त और जानें कैसी रहेगी आज ग्रहों की चाल.

दिनाँक -:03/12/2020,गुरुवार
तृतीया, कृष्ण पक्ष
मार्गशीर्ष
“””””””””””””””””””””””””””””””””””””(समाप्ति काल)

तिथि ———तृतीया 19:26:21 तक
पक्ष —————————-कृष्ण
नक्षत्र ———–आर्द्रा 12:20:29
योग —————शुभ 11:00:38
करण ———वणिज 06:57:18
करण ——विष्टि भद्र 19:26:21
वार ————————-गुरूवार
माह ———————— मार्गशीर्ष
चन्द्र राशि —————— मिथुन
सूर्य राशि ——————-वृश्चिक
रितु —————————–शरद
सायन ————————-हेमन्त
आयन ——————दक्षिणायण
संवत्सर ———————–शार्वरी
संवत्सर (उत्तर) ————-प्रमादी
विक्रम संवत —————-2077
विक्रम संवत (कर्तक) —-2077
शाका संवत —————-1942

सूर्योदय —————–06:55:21
सूर्यास्त —————–17:22:52
दिन काल ————–10:27:30
रात्री काल ————-13:33:13
चंद्रास्त —————-09:21:02
चंद्रोदय —————–19:51:56

लग्न —-वृश्चिक 17°11′ , 227°11′

सूर्य नक्षत्र ——————ज्येष्ठा
चन्द्र नक्षत्र ——————–आर्द्रा
नक्षत्र पाया ——————रजत

🚩💮🚩 पद, चरण 🚩💮🚩

छ —-आर्द्रा 12:20:29

के —-पुनर्वसु 18:42:24

को —-पुनर्वसु 25:02:38

💮🚩💮 ग्रह गोचर 💮🚩💮

ग्रह =राशी , अंश ,नक्षत्र, पद
========================
सूर्य=वृश्चिक 17°52 ‘ ज्येष्ठा , 1 नो
चन्द्र = मिथुन 17°23’ आर्द्रा ‘ 4 छ
बुध = वृश्चिक 07°07 ‘अनुराधा’ 2 नी
शुक्र= तुला 20°55, विशाखा ‘ 1 ती
मंगल=मीन 22°30’ रेवती ‘ 3 च
गुरु=धनु 02°22 ‘ उ oषा o , 2 भो
शनि=मकर 03°43’ उ oषा o ‘ 3 जा
राहू=(व)वृषभ 26°35 ‘मृगशिरा , 1 वे
केतु=(व)वृश्चिक 26°35 ज्येष्ठा , 3 यी

🚩💮🚩शुभा$शुभ मुहूर्त🚩💮🚩

राहू काल 13:28 – 14:46 अशुभ
यम घंटा 06:55 – 08:14 अशुभ
गुली काल 09:32 – 10:51 अशुभ
अभिजित 11:48 -12:30 शुभ
दूर मुहूर्त 10:25 – 11:06 अशुभ
दूर मुहूर्त 14:36 – 15:17 अशुभ

💮चोघडिया, दिन
शुभ 06:55 – 08:14 शुभ
रोग 08:14 – 09:32 अशुभ
उद्वेग 09:32 – 10:51 अशुभ
चर 10:51 – 12:09 शुभ
लाभ 12:09 – 13:28 शुभ
अमृत 13:28 – 14:46 शुभ
काल 14:46 – 16:04 अशुभ
शुभ 16:04 – 17:23 शुभ

🚩चोघडिया, रात
अमृत 17:23 – 19:05 शुभ
चर 19:05 – 20:46 शुभ
रोग 20:46 – 22:28 अशुभ
काल 22:28 – 24:09* अशुभ
लाभ 24:09* – 25:51* शुभ
उद्वेग 25:51* – 27:33* अशुभ
शुभ 27:33* – 29:14* शुभ
अमृत 29:14* – 30:56* शुभ

💮होरा, दिन
बृहस्पति 06:55 – 07:48
मंगल 07:48 – 08:40
सूर्य 08:40 – 09:32
शुक्र 09:32 – 10:25
बुध 10:25 – 11:17
चन्द्र 11:17 – 12:09
शनि 12:09 – 13:01
बृहस्पति 13:01 – 13:54
मंगल 13:54 – 14:46
सूर्य 14:46 – 15:38
शुक्र 15:38 – 16:31
बुध 16:31 – 17:23

🚩होरा, रात
चन्द्र 17:23 – 18:31
शनि 18:31 – 19:38
बृहस्पति 19:38 – 20:46
मंगल 20:46 – 21:54
सूर्य 21:54 – 23:02
शुक्र 23:02 – 24:09
बुध 24:09* – 25:17
चन्द्र 25:17* – 26:25
शनि 26:25* – 27:33
बृहस्पति 27:33* – 28:41
मंगल 28:41* – 29:48
सूर्य 29:48* – 30:56

नोट– दिन और रात्रि के चौघड़िया का आरंभ क्रमशः सूर्योदय और सूर्यास्त से होता है।
प्रत्येक चौघड़िए की अवधि डेढ़ घंटा होती है।
चर में चक्र चलाइये , उद्वेगे थलगार ।
शुभ में स्त्री श्रृंगार करे,लाभ में करो व्यापार ॥
रोग में रोगी स्नान करे ,काल करो भण्डार ।
अमृत में काम सभी करो , सहाय करो कर्तार ॥