एक भाई अपनी टीम के लिए हीरो तो दूसरा बना अपनी टीम के लिए विलन, तोडा आईपीएल जीतने का सपना

Krunal Pandya: इंडियन प्रीमियर लीग 2022 के एलिमिनेटर मैच लखनऊ जायंटन्स और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के बीच एक शानदार मुकाबला देखने को मिला. इस मैच में RCB ने 207 रन का पहाड़ सा स्कोर बनाया जिसके चलते लखनऊ की टीम को 14 रन की हार झेलनी पड़ी. इस साल के साथ लखनऊ का आईपीएल जीतने का सपना भी टूट गया. बैंगलोर की टीम के इस बड़े स्कोर के बावजूद लखनऊ मैच जीत सकती थी लेकिन टीम के एक बड़े खिलाडी ने जरा भी अनुभव ना दिखाते ही अपने विकेट को सस्ते में गिरा दिया जबकि उनसे एक बड़ी पारी की उम्मीद थी.

Krunal Pandya ने फेरा फाइनल की उम्मीद पर पानी

Krunal Pandya

लखनऊ सुपर जायंटन्स की इस हार में एक खिलाडी एक बड़ी वजह बन कर सामने आया है और वो कोई और नहीं टीम के सीनियर आलराउंडर क्रुणाल पांड्या (Krunal Pandya) है. क्रुणाल ने इस मैच में ना ही तो गेंद से कोई कमाल दिखाया और ना ही उनके बल्ले से कोई रन निकले. मैच में उनके प्रदर्शन की बात करे तो उन्होंने अपने कोटे के 4 ओवर्स में 39 लुटाये और सिर्फ एक विकेट अपने नाम किया.

बैटिंग करने जब क्रुणाल पांड्या (Krunal Pandya) क्रीज़ पर आये तो टीम को 20 रनों की दरकार थी लेकिन वो पहली ही गेंद पर अपना विकेट गवां बैठे अगर वो कुछ रन बनाते तो टीम शायद आज क्वालीफ़ायर 2 के लिए अपनी जगह पक्की कर चुकी होती. मैच के नाजुक पलों में क्रुणाल ने अपने बल्ले से एक भी रन नहीं बनाया जिस वजह से क्रुणाल (Krunal Pandya) को लखनऊ के फैंस काफी ट्रोल कर रहे है. क्रुणाल पांड्या को लखनऊ की टीम ने बड़ी बोली लगाकर अपनी टीम में शामिल किया था और उनसे काफी बेहतर परफॉरमेंस की उम्मीद थी.

बैंगलोर को मिली करो या मरो मैच में जीत

Virat Kohli

कल रात खेले गये मैच में बैंगलोर की टीम टॉस हारने के बाद पहले बल्लेबाज़ी करने मैदान पर उतरी. लखनऊ का पहले गेंदबाजी करने का फैसला सही तब साबित हुआ जब फाफ जीरो पर और कोहली सिर्फ 25 रन पर पवेलियन लौट गये. लेकिन फिर रजत पाटीदार ने शानदार शतक लगाकर टीम को 207 के पहाड़ जैसे स्कोर तक पहुंचा दिया. इसके बाद लक्ष्य का पीछा करने उतरी लखनऊ की टीम की शुरुआत भी कोई ख़ास नहीं रही और उनका पहला विकेट 8 रन पर गिर गया. इसके बाद केएल राहुल, और दीपक हूडा ने टीम को सँभाला लेकिन उनके विकेट के बाद टीम का कोई खिलाडी टीम को जीत नहीं दिलवा पाया और टीम 14 रन से मैच हार गयी.

और पढ़िए:

राजस्थान के करो या मरो मैच से पहले धाकड़ आलराउंडर हुआ टीम से बाहर 

अगर उस समय कप्तान का साथ मिलता तो 10 हज़ार रन बनाकर संन्यास लेता, सहवाग ने बयां किया अपना दर्द

IPL 2022 में सबसे ज्यादा उम्र के साथ शानदार प्रदर्शन करने वाली “ओल्ड” प्लेइंग XI