दिन में तो क्या रात में भी इन 5 जगहों पर नहीं जाता कोई
/

जाना मना है… आगरा जाए तो भूल से भी इन 5 भुतही जगह न जाएं

दुन‌िया के हर देश, शहर और गांव में कुछ स्‍थान ऐसे होते हैं ज‌िनको लेकर लोगों के मन में डर बना रहता है। जहां जाने से लोग कतराते रहते हैं।

आगरा- दुन‌िया के हर देश, शहर और गांव में कुछ स्‍थान ऐसे होते हैं ज‌िनको लेकर लोगों के मन में डर बना रहता है। जहां जाने से लोग कतराते रहते हैं। साइंस भूत- प्रेतों को नहीं मानता लेक‌िन कुछ तो है जो इस भौत‌िक दुन‌िया से परे है और अनदेखा होते भी हमारे बीच अपनी मौजूदगी का एहसास द‌िलाता रहता है। जहां इस तरह की चीजें होती हैं वह स्‍थान भुतहा कहलाने लगता है। वैसे तो आपने भूतों के बारे में अपने बड़े-बुजुर्गों से खूब सुना होगा।

आज हम आपको आगरा के 5 सबसे भुतहा जगहों के बारे में बताने जा रहे हैं। अगर आप आगरा के निवासी हैं या ताजनगरी घूमने का प्लान बना रहे हैं तो इस शहर के इन 5 स्थानों के बारे में जरूर जान लें क्योंक‌ि इन स्‍थानों पर कुछ तो है ज‌िसके कारण लोग इन्हें भुतहा और हॉन्टेड मानते हैं।

सेंट जॉन कॉलेज

1850 में शुरू हुआ ये कॉलेज आगरा का सबसे पुराना कॉलेज है। यहां पर लोगों ने कई बार रात में अजीब-अजीब चीखने और चिल्लाने की आवाजें सुनी हैं। यहां के बाशिंदों का मानना है कि ये आवाजें उन छात्रों की आत्माएं हैं, जिन्होंने कॉलेज कैंपस में किन्ही कारणों से अपनी जान दे दी थी। इनकी आत्माएं आज भी भटक रही हैं।

आगरा का किला

आगरा का किला भारत की सबसे डरावनी जगह मानी जाती है। लोगों का मानना है कि रात के वक्त यहां भूत प्रेत आते हैं और बाकयदा अपनी सभा जमाते हैं। ये किला कभी मुग़लों का घर हुआ करता था। 1565-1573 के बीच इस किले का निर्माण हुआ था। लोगों के मुताबिक जब से ये किला बना है तब से लेकर आजादी तक इस किले में कई लोगों की अकाल मौत हो चुकी है। इन लोगों की आत्माएं यहां भटकती हैं।

लाल ताजमहल

लाल ताजमहल एक कब्रिस्तान में बना है। यहीं पर कभी आगरा के किले की रक्षा करने वाली सेना के सेनापति रहे जॉन हेसिंग की कब्र है। इस कब्र को जॉन हेसिंग की मृत्यु के बाद उनकी पत्नी ने बनवाया था। लोगों का दावा है कि लाल ताजमहल भुतहा है। यहां के बाशिन्दों के मुताबिक रात को तरह तरह की चीखने और चिल्लाने की आवाजें सुनाई देती हैं। लोग रात में इसके आसपास से भी नहीं गुजरते हैं। लोकल प्रशासन ने यहां पर रात को जाना प्रतिबंधित कर रखा है।

पोइया घाट

आगरा का पोइया घाट भुतहा है। ये हम नहीं कह रहे बल्कि यहां के रहने वाले निवासियों का कहना है। ये आगरा का बहुत ही पुराना श्मशान घाट है। यहां के बाशिन्दों का कहना है कि यहां पर रात में आत्माएं घूमती हैं। रात में इस जगह पर जाने की कोई भी हिम्मत नहीं जुटा पाता है।

ट्रांस यमुना कॉलोनी

आगरा के ट्रांस यमुना कॉलोनी में एक घर है। वर्षों पहले इस घर में एक ही परिवार के 5 लोगों की दर्दनाक हत्या कर दी गई थी। इस घर के आसपास रहने वाले लोगों के मुताबिक ने यहां पर रात में चीखने और चिल्लाने की आवाजें सुनाई पड़ती हैं। ऐसा लगता है कि वो अपने खूनी को तलाश कर रही हैं। ये आवाजें रात को ही सुनाई देती हैं। इतने वर्षों बाद भी ये घर अब खाली पड़ा है। इस घर को खरीदने की हिम्मत अभी तक कोई न जुटा पाया है।