कोरोना से लखनऊ में 9 लोगों ने मानी हार, इतनों को मिला होम...
/

कोरोना से लखनऊ में 9 लोगों ने मानी हार, इतनों को मिला होम आइसोलेशन

लख़नऊ : साल 2020 पूरी दुनिया के सबसे खराब और भयंकर दौर से गुजरने वाला दौर चल रहा है. कोरोना जैसी महामारी की चपेट में अब तक लाखों लोगों ने अपनी जानें गवाई हैं. पुरे देश में लॉकडाउन के दौरान भी इसका संक्रमण तेज़ी से फ़ैल रहा था. अभी भी कोरोना संक्रमण से मरने वालों की संख्या में कोई खास गिरावट नहीं आई है.

लखनऊ में भी रोज सैकड़ों की संख्या में लोगों की मौत कोरोना की वजह से हो रही हैं. इस खतरनाक महामारी के संक्रमण से बचने के लिए अभी तक कोई इलाज संभव नहीं हो पाया है. वहीं शुक्रवार को कोरोना से पीड़ित 409 लोग पोज़िटिव पाए गए तो,वहीं 9 लोगों की मौत हो गयी.

बीते शुक्रवार को 24 घंटे में हुई 9 कोरोना संक्रमितों की मौत

शुक्रवार के कोरोना पॉजिटिव आंकड़ों की संख्या 409 पाई गयी थी, जिनमें से 121 लोगों को अस्पताल में आवंटित किया और शुक्रवार की शाम तक 84 पीड़ित को अस्पताल में भर्ती कर दिया गया. इनमें  37 पॉजिटिव लोगो को होम आइसोलेशन में रखा गया. लेकिन इन 24 घंटों के दौरान 9 लोगों की कोरोना की वजह से मौत हो गई और वो अपनी जिंदगी के जंग की लड़ाई से हार गए. अभी शहर में फ़िलहाल कुल पॉजिटिव मरीज़ों की संख्या 3679 है जिन्हें होम आइसोलेशन में रखा गया है.

शहर के अलग-अलग हिस्सों से पाए गए कोरोना संक्रमित मरीज़

बता दें कि लखनऊ शहर के आशियाना में 10 मरीज़ पॉजिटिव पाए गए, इंदिरा नगर में 38 मरीज़ पॉजिटिव पाए गए, आलमबाग में 12 पॉजिटिव, गोमती नगर में 32 लोग संक्रमित, मड़ियांव में 14 लोग पॉजिटिव, रायबरेली रोड के 24 लोग संक्रमित पाए गए, अलीगंज के 18 लोग कोरोना पॉजिटिव, महानगर के 15 पॉजिटिव, चौक में 10 लोग, चिनहट के 15 लोग पॉजिटिव, कैण्ट के 23 लोग संक्रमित, तालकटोरा में 15 लोग, विकासनगर में 10 लोग पॉजिटिव , ठाकुरगंज में 12 लोग, गुडम्बा में 12 लोग पॉजिटिव, सरोजनीनगर में 15 लोग संक्रमित और कृष्णानगर में 11 मरीज कोरोना संक्रमित पाए गए.

पुरे विश्वभर से अभी तक करोड़ों की संख्या में लोगों ने गवाईं जानें

शहर में अधिकतर मरीज़ कोरोना को हराने में सफल हो रहे हैं. ठीक हुए लोगों की संख्या  , मरने वाले मरीज़ों की संख्या से काफी अधिक है. बीते शुक्रवार को जहाँ 409 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए वहीँ 525 मरीज़ ने कोरोना को हरा कर स्वस्थ हुए. कोरोना जैसी खतरनाक महामारी ने सबके जीवन को उथल-पुथल कर रख दिया है. सिर्फ लखनऊ ही नहीं देश और दुनिया के हर कोने का आदमी इस महामारी के प्रकोप में है.

जीवन के हर सिस्टम को कोरोना ने बिगाड़ कर रख दिया है. लोगों का घर से निकलना दूभर हो गया है. कोरोना ने अर्थव्यवस्था की नींव को हिला कर रख दिया है. इस जंग में अभी तक पुरे विश्व में करोड़ो की संख्या में लोगों ने अपनी जानें गवाईं है.