बिहार चुनाव के आये एग्जिट पोल इस पार्टी की बन रही है सरकार

बिहार में तीसरे चरण की वोटिंग समाप्त होने के बाद अब सबको नजरे रिजल्ट पर टिकी हुई है, जिसका पता लगने में तो अभी काफी समय है, लेकिन आपकों बता दें कि वोटो की गिनती 10 नंवबर से शुरु हो जाएगी। आज के चुनाव के साथ ही बिहार में 243 सीटों पर तीन चरणों में विधानसभा चुनाव संपन्‍न हो गया है। आज एग्जिट पोल के आंकड़े को देखते हुए एनडीए और महागठबंधन में कांटे की टक्कर समझ में आ रही है।

एनडीए को मिल सकते है ज्यादा वोट

बिहार चुनाव के आये एग्जिट पोल इस पार्टी की बन रही है सरकार

एनडीए को सबसे ज्यादा 37.7% फीसदी वोट मिल सकते हैं, लेकिन सीटों के मामले में महागठबंधन कुछ आगे है। महागठबंधन को 36.3% वोट मिल सकते हैं। बिहार में 243 विधानसभा सीटों के लिए करोड़ों वोटर्स ने तीन चरणों में मताधिकार का प्रयोग किया है। तीसरे और आखिरी फेज में सीमांचल, कोसी और तिरहुत इलाके के 15 जिलों की 78 सीटों पर वोट पड़ रहे हैं। काफी सीटें उत्तर बिहार में और राज्य में गंगा नदी के उत्तर में स्थित हैं। इनमें से कई सीटें कोसी-सीमांचल क्षेत्र में स्थित है जहां एनडीए और महागठबंधन की लड़ाई में एआईएमआईएम नेता असदुद्दीन ओवैसी का अच्छा खासा प्रभाव माना जाता है। हैदराबाद के सांसद ओवैसी की पार्टी ने मुस्लिमों की अच्छी खासी आबादी वाले इस इलाकों में अपने उम्मीदवार उतारे हैं और जमकर चुनाव प्रचार किया है।

आरजेडी को मिल सकती है जीत

बिहार चुनाव के आये एग्जिट पोल इस पार्टी की बन रही है सरकार

बिहार में महागठबंधन की जीत होने की पूरी संभावना है। आरजेडी+ को 44 फीसदी सीटें मिलती दिख रही हैं तो एनडीए के खाते में 34 फीसदी वोट जा सकते हैं। अन्य दलों को 22 फीसदी मत मिल सकते हैं।महागठबंधन को 118 से 138 सीटें दी गई हैं। वहीं एनडीए गठबंधन को 91 से 117 सीटें दी गई हैं। दोनों गठबंधन के बीच कांटे का मुकाबला दिखाया गया है। अन्‍य को 8 से 14 सीटें दी गई हैं।वहीं सरकार बदलने के  जवाब में 63 प्रतिशत लोगों ने कहा कि वो सरकार बदलना चाहते हैं, जबकि 27 प्रतिशत लोगों ने कहा कि वो सरकार नहीं बदलना चाहते हैं।

Shukla Divyanka

मेरा नाम दिव्यांका शुक्ला है। मैं hindnow वेब साइट पर कंटेट राइटर के पद पर कार्यरत...