केन्द्रीय मंत्री राम विलास पासवान अब इस दुनिया में नहीं रहे। उनके बेटे और लोक जनशक्ति पार्टी अध्यक्ष चिराग पासवान ने गुरुवार की शाम को उनके निधन के बारे ट्वीट कर जानकरी दी। 74 वर्षीय रामविलास पासवान पिछले कुछ महीने से बीमार चल रहे थे और साकेत स्थित अस्पताल में भर्ती थे।

राम विलास पासवान के पास केंद्रीय  खाद्य व आपूर्ति मंत्रालय था | हालाकि पिछले कुछ समय से रामविलास पासवान के  बीमार होने के वजह  से लोक  जनशक्ति  पार्टी के  चिराग पासवान बिहार चुनावों से जुड़े अहम फैसले खुद ही ले रहे थे |

बड़ी खबर : नहीं रहे केन्द्रीय मंत्री राम विलास पासवान

हाल ही में चिराग ने ही लोक जनशक्ति पार्टी संसदीय बोर्ड की बैठक में यह फैसला लिया की पार्टी बिहार में एनडीए के साथ जाने की बजाए अकेली चुनाव लड़ेगी।

रामविलास पासवान व्यक्तिगत परिचय

रामविलास पासवान बिहार के खगरिया जिले के शाहरबन्नी गाँव से हैं। वह एक अनुसूचित जाति परिवार के लिए पैदा हुये थे। उन्होंने 1 9 60 के दशक में राजकुमारी देवी से शादी की। 2014 में उन्होंने खुलासा किया कि लोकसभा नामांकन पत्रों को चुनौती देने के बाद उन्होंने 1 9 81 में उन्हें तलाक दे दिया था। उनकी पहली पत्नी राजकुमारी से उषा और आशा दो बेटियां हैं। में, अमृतसर से एक एयरहोस्टेस और पंजाबी हिन्दू रीना शर्मा से विवाह किया। उनके पास एक बेटा और बेटी है। उनके बेटे चिराग पासवान एक अभिनेता से बने राजनेता हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published.