दिल्ली की पूर्व सीएम शिला दीक्षित की बेटी हुई लव जेहाद का शिकार, पति ने की जान से मारने की कोशिस

दिल्ली की पूर्व सीएम रही शीला दीक्षितसब निधन हो चुका है।उनके निधन की खबर से पूरे देश में शोक की लहर थी।शीला दीक्षित ने अपनी पूरी जिंदगी अपने राजनीतिक करियर में लगा दी। अपने जीवन में शीला दीक्षित काफी कुछ बर्दाश्त करना पड़ा था । आपको बता देंशीला दीक्षित ने आईपीएस अधिकारी विनोद दीक्षित से शादी करी थी और दोनों को उस शादी एक बेटी और एक बेटा भी है. शीला की बेटी लतिका ने लव मैरिज की थी। उसके बाद उनकी जिंदगी में काफी भूचाल आए। आइए जानते हैं क्या हुआ था दिवगंत शीला दीक्षित की बेटी का हाल….

मुस्लिम युवक से की थी शादी

दिल्ली की पूर्व सीएम शिला दीक्षित की बेटी हुई लव जेहाद का शिकार, पति ने की जान से मारने की कोशिस

शीला दीक्षित की बेटी लतिका ने एक मुस्लिम युवक से शादी की थी। हालांकि ये शादी पूरे जीवन नहीं रह सकी, 20 साल बाद दोनों एक दूसरे से अलग हो गए। जानकारी के अनुसार, लतीका इस शादी में घरेलू हिंसा की शिकार हुईं थीं, जिसके बाद उनके पति सईद मोहम्मद इमरान को घरेलू हिंसा ऐक्ट के अंतर्गत गिरफ्तार किया गया था। लतिका ने खुद अपने पति के खिलाफ थाने में शिकायत दर्ज करवाई थी।

अचानक से बदला व्यवहार

दिल्ली की पूर्व सीएम शिला दीक्षित की बेटी हुई लव जेहाद का शिकार, पति ने की जान से मारने की कोशिस

शिकायत में उन्होंने कहा था, ‘उनकी मां शीला दीक्षित जब 2013 में दिल्ली विधानसभा चुनाव हार गई, उसके बाद इमरान का व्यवहार अचानक बदल गया। उनकी खुशहाल शादीशुदा जिंदगी अचानक दर्दनाक हो गई। इमरान उनके साथ हिंसात्मक व्यवहार करने लगा, उन्हें काफी टॉर्चर भी सहना पड़ा। इसके साथ ही लतीका ने बताया कि उनके पति ने एक बार उनकी जान लेने की भी कोशिश की।

लतिका ने की थी शिकायत

दिल्ली की पूर्व सीएम शिला दीक्षित की बेटी हुई लव जेहाद का शिकार, पति ने की जान से मारने की कोशिस

लतीका की शिकायत के बाद इमरान के खिलाफ पुलिस ने घरेलू हिंसा, जायदाद हड़पने की कोशिश, चोरी और एडल्टरी (व्यभिचार) का केस दर्ज किया।भारत की पहली महिला मुख्यमंत्री शीला दीक्षित कांग्रेस का एक बड़ा चेहरा थीं। वह अपने काम की वजह से कांग्रेस में खास छवि बनाने में सफल रही थीं।

शीला दीक्षित ने सोनिया गांधी के सामने भी अपनी अच्छी छवि बनाए रखी थी। शीला को कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष और यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी के सबसे नदजीकी नेताओं में से एक माना जाता था। इसी कारण उनको सोनिया गांधी ने भी खूब महत्व दिया है। शीला दीक्षित कुशल राजनेता और कांग्रेस की कुशल रणनीतिकारों में गिना जाता था। प्रशासनिक अनुभव के अलावा संसदीय कार्यों का भी अच्छा ज्ञान था।

Shukla Divyanka

मेरा नाम दिव्यांका शुक्ला है। मैं hindnow वेब साइट पर कंटेट राइटर के पद पर कार्यरत...