कल से शुरू होगा मेट्रो, जान लीजिए ये नियम नहीं तो नहीं मिलेगी एंट्री
/

कल से शुरू होगा दिल्ली मेट्रो, जान लीजिए ये नियम नहीं तो नहीं मिलेगी एंट्री

नई दिल्ली : जैसा कि हम सभी जानते हैं कि वैश्विक महामारी कोरोना ने पुरे देश को हिला कर रख दिया है. देश के हर कोने से लाखों लोगों ने इस बीमारी से अपनी जान गवाई हैं. इस दौरान हमारे देश की सरकार ने पुरे देश को लॉकडाउन कर दिया। उस दौरान केवल जरूरी सेवाओं को जारी रखा गया, लेकिन लगातार 5 महीनों से बंद चल रही मेट्रों सेवाएं कल से एक बार फिर शुरू होने जा रही हैं. फिलहाल 12 सितम्बर तक 3 चरणों में मेट्रों सेवाएं शुरू की जाएगी. 12 सितम्बर के बाद स्तिथि सामान्य होने की सम्भावना है.

प्रशासन द्वारा कड़ी निगरानी की जाएगी, की गई है पूरी तैयारी

इस दौरान प्रशासन द्वारा कड़ी निगरानी की जाएगी. यात्रिओं को एक-दूसरे से दुरी बनाये रखनी होगी. स्टेशनों पर ऑटोमैटिक थर्मल स्क्रीनिंग-सह-सैनिटाइजर डिस्पेंसर और ‘फुट पेडल संचालित लिफ्टों’ को लगाया गया है. जिसके लिए ख़ास तौर पर तैयारी की गई है. पर फिलहाल कंटेनमेंट जोन में आने वाले स्टेशनों पर पाबंदी होगी. कोरोना के बढ़ते हालात में भी धीरे-धीरे जीवन को वापस सुव्यवस्थित करना होगा. जिसके लिए दिल्ली मेट्रों ने ये कदम उठाया है. एक बार पुनः जीवन को पटरी पर लाने की खास कोशिश हो रही है.

मेट्रों में सफर करने के लिए बनाये गए हैं कुछ नियम

मेट्रों में सफर करने के लिए यात्रिओं के लिए बनाये गए हैं कुछ नियम जिसे यात्रिओं को रखना होगा ख्याल। जिससे कोरोना को मात देने के साथ-ही जीवन के पहलुओं को दोबारा पटरी पर लाया जा सके. आइए जानते हैं उन विशेष नियमों को जिन्हें यात्रिओं को पालन करना है…….

1. पहले चरण में यानी 7 सितम्बर को मेट्रों 2 पालियों में चलाई जाएगी. पहली पाली का समय सुबह 7 बजे से दोपहर 1 बजे तक है और दूसरी पाली का समय शाम 4 बजे से रात 8 बजे तक है.

2. दूसरे चरण में भी 2 पालियों में मेट्रो चलाई जाएगी. लेकिन पहले चरण के मुकाबले इस चरण में समय में थोड़ी बढ़ोतरी की जाएगी. पहली पाली में कोई बदलाव नहीं होगा। पहले चरण के समयनुसार सुबह 7 बजे से दोपहर 1 बजे तक चलाई जाएगी. लेकिन दूसरी पाली में समय को बदला गया है. जिसमें मेट्रो शाम 4 बजे से रात 10 बजे के बीच उपलब्ध रहेगी।

3. वायरस को फैलने से रोकने के लिए यात्रिओं को सफर के लिए टोकन जारी नहीं किया जायेगा. केवल वही लोग को यात्रा की अनुमति होगी जिनके पास स्मार्टकार्ड होगी. ऐसा नियम इसलिए बनाया गया है ताकि वायरस फैलने का खतरा न के बराबर हो.

4. यात्रिओं को मास्क लगाना अनिवार्य है. “अगर कोई इस नियम का उल्लंघन करेगा तो उसका चालान किया जायेगा.”. उस पर कड़ी-से-कड़ी करवाई भी की जा सकती है.

5. सुरक्षा मानकों ने बताया कि मेट्रो स्टेशन पर जो लिफ्ट है उसमें एक बार में केवल 3 यात्रिओं को जाने दिया जायेगा. ताकि एक-दूसरे के साथ दुरी बनी रहे.

6. वायरस से अलर्ट करने में सहायक भारतीय एप्प आरोग्य सेतु एप्प का इस्तेमाल करना होगा.

7. मेट्रो स्टेशन के सभी गेट नहीं खुलेंगे. सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए केवल एंट्री और एग्जिट गेट ही खुलेंगे. लेकिन एंट्री और एग्जिट भी अलग और दूसरी बनाते हुए होगी.

8. मेट्रो के रुकने की अवधि में बदलाव किया गया है. पहले मित्रों हर स्टेशन पर 10-15 सेकंड रूकती थी. लेकिन अब यह समय बढ़ा कर 20-25 सेकंड किया जायेगा. इस दौरान यात्रिओं को डिस्टेंस बना कर उतरना और चढ़ना होगा.