सुशांत की मौत के बाद करीबी दोस्त का खुलासा, मौत से पहले कॉल कर कही थी ये बात

सुशांत को ये दुनिया छोड़े हुए आज काफी दिन हो चुके है, लेकिन वो हम सब की यादों में अभी जिंदा है। सुशांत के केस की कार्यवाही चल तो रही है, लेकिन अभी तक इस केस में कुछ साफ नहीं हो पाया है। हालांकि इस केस की सीबीआई और एनसीबी जांच कर रही हैं, लेकिन फेमिली के साथ-साथ सुशांत के दोस्त आज भी न्याय की मांग कर रहे हैं। वहीं इस केस में आज भी कईं बातें सामने आ रही हैं। हाल ही में सुशांत सिंह राजपूत के करीबी दोस्त सिद्धार्थ गुप्ता को आज भी इस बात पर यकीन नहीं हो रहा है कि सुशांत इस दुनिया में नहीं रहे। उन्हें आज भी एक्टर की मौत से गहरा सदमा लगा है।

दोस्त ने किया सुशांत के मैसेज  का जिक्र

सुशांत की मौत के बाद करीबी दोस्त का खुलासा, मौत से पहले कॉल कर कही थी ये बात

सुशांत के दोस्त सिद्धार्थ को याद करते हुए उनके द्वारा भेजे गए एक मैसेज का जिक्र करते हैं, जो सबको चौका देता है। दरअसल हाल ही में सिद्धार्थ ने सुशांत के उस आखिरी मैसेज के बारे में बताया जिसे देख उन्हें शक हुआ कि कुछ तो गड़बड़ है।

सुशांत की मौत के बाद करीबी दोस्त का खुलासा, मौत से पहले कॉल कर कही थी ये बात

हाल ही में बातचीत के दौरान सिद्धार्थ ने बताया कि सुशांत ने कुशाल जावेरी से कहा था कि वो आध्यात्मिकता पर काम कर रहा है और जल्दी ही हम लोगों के साथ मिलेगा। उसने कुशाल को कहा था कि वो बीते हुए दिनों को मिस करता है, जो हमने साथ बिताए थे।

इंटरव्यू में बताई बात

सुशांत की मौत के बाद करीबी दोस्त का खुलासा, मौत से पहले कॉल कर कही थी ये बात

सिद्धार्थ ने आगे इंटरव्यू में कहा, ‘ जब मुझे यह मैसेज मिला तो मुझे याद है कि मैंने कुशाल से कहा था कि मुझे लगता है कि यहां कुछ गड़बड़ है क्योंकि वह यह नहीं था। कुशाल ने मैसेज किया और कहा जल्दी हम मिलते हैं और जो हम कर रहे थे वही करते हैं। मेरा मकसद उसके स्पेस में दखल देना नहीं था। लेकिन उस मैसेज के बाद हमने उससे जल्दी से मिलने का फैसला लिया था। मुझे जानना था कि आखिर क्या हुआ है। मुझे कुछ गड़बड़ लग रही थी लेकिन मेरे पास उसका नंबर नहीं था। कुशाल को हाल ही में नंबर मिला था।’

सिद्धार्थ ने आगे कहा, ‘ आप चीजों को बदल नहीं सकते हैं लेकिन असर तो पड़ता है। आपको बस लगता है कि आप कुछ चीजें बदल सकते थे, जिन पर मुझे यकीन है। वह हम सबके साथ सबसे खुश था इसलिए अगर हम वहां होते, तो चीजें अलग होतीं।’

Shukla Divyanka

मेरा नाम दिव्यांका शुक्ला है। मैं hindnow वेब साइट पर कंटेट राइटर के पद पर कार्यरत...