ड्रग्स मामले में खत्म हो सकता है दीपिका पादुकोण का करियर
/

ड्रग्स मामले में खत्म हो सकता है दीपिका पादुकोण का करियर, जानिए कितने साल की हो सकती है सजा

बॉलीवुड के दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद कई तरह के नए-नए चौकाने वाले खुलासे हुए, लेकिन जब से इस केस में ड्रग्स एंगल का मामला सामने आया है तब से ही नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) ने अपनी जांच शुरू कर दी है. बॉलीवुड अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती को भी एनसीबी ने ड्रग्स मामले में दोषी पाए जाने पर 14 दिन के लिए अपने हिरासत में रखा. हम आपको बता दें कि, ”रिया चक्रवर्ती को ड्रग्स खरीदने और सप्लाई करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है”.

 

रिया चक्रवर्ती ने पूछताछ के दौरान बॉलीवुड के 25 सितारों की लिस्ट बताई थी, जिसमें बॉलीवुड अभिनेत्री सारा अली खान और रकुल प्रीत सिंह का नाम शामिल था. लेकिन अब धीरे-धीरे सभी ड्रग्स पैडलर का नाम सामने आ रहा है. ड्रग्स मामले में अब सारा, रकुल प्रीत सिंह के साथ-साथ दीपिका पादुकोण और श्रद्धा कपूर को भी NCB की तरफ से समन जारी किया गया है.

दीपिका, श्रद्धा और सारा अली खान को आने वाले शनिवार को पूछताछ के लिए बुलाए जाने की संभावना है . दोषी पाए जाने पर सभी पर कड़ी से कड़ी कार्यवाही की जाएगी.

ड्रग्स कलेक्शन में जब से बॉलीवुड की अभिनेत्री दीपिका पादुकोण का नाम सामने आया, तभी से उनके खिलाफ भी समन जारी कर दिया गया है और उन पर भी कड़ी कार्रवाई हो सकती है. हम आपको बता दें, NDPS एक्ट 1985 के तहत ड्रग्स का लेनदेन करने के लिए कड़ी सजा का प्रावधान बनाया गया है. हम आपको बताएंगे कि एनडीपीएस के इस अपराध के लिए किस सेक्शन में कितनी सजा का प्रावधान है.

 

सेक्शन 20B: NDPS के सेक्शन 20B के हिसाब से अगर कोई व्यक्ति प्रतिबंधित ड्रग्स थोड़ी मात्रा में उपयोग करता है या फिर बना कर भेजता है, तो उसे इस अपराध के लिए कम से कम 1 साल की कड़ी सजा होगी, या फिर ₹10,000 तक का जुर्माना भरना पड़ सकता है.

सेक्शन 22: अगर कोई भी व्यक्ति कम मात्रा में ड्रग्स जैसे नशे का सेवन करता है, तो उसे कम से कम 1 साल तक के लिए सजा दी जाएगी. इसके अलावा अगर कोई व्यक्ति मीडियम क्वांटिटी में ड्रग्स का उपयोग करता है, तो उसे 10 साल तक की सजा का प्रावधान है.

कमर्शियल क्वांटिटी में अगर कोई व्यक्ति इस्तेमाल करते हुए दोषी पाया जाता है, तो उसे कम से कम 20 साल तक की सजा दी जाएगी और जुर्माना भी भरना पड़ सकता है.

सेक्शन 27A: NDPS के सेक्शन 27 ए के तहत अगर कोई भी प्रतिबंधित ड्रग्स को बढ़ावा देता है या फिर उसे इस्तेमाल करने में किसी की मदद करता है, तो उसे कम से कम 10 साल तक की सजा दी जाएगी. अगर इस मामले में कोई भी व्यक्ति अधिकतम दोषी पाया गया, तो उसे 20 साल तक की सजा और ₹200000 तक का जुर्माना भी देना होगा.

सेक्शन 29: यदि कोई भी व्यक्ति ड्रग्स उपयोग करने के लिए किसी व्यक्ति को उकसाता है, या फिर ऐसी कोई साजिश रचता है, तो उस के लिए भी कानून में कड़ी से कड़ी सजा का प्रावधान है.

 

दीपिका के पिता प्रकाश पादुकोण रह चुके हैं लंदन के वेम्बले ऐरेना में ऑल इंग्लैंड बैडमिंटन चैंपियन

दीपिका पादुकोण के पिता का नाम प्रकाश पादुकोण है. 40 साल पहले जब दीपिका पादुकोण पैदा भी नहीं हुई थी, तब उनके पिता प्रकाश पादुकोण जी ने लंदन के वेम्बले ऐरेना में ऑल इंग्लैंड बैडमिंटन में चैंपियनशिप जीती थी. 23 मार्च 1980 में यह चैंपियनशिप जीतने के बाद उन्होंने पूरे भारत में हर्ष उल्लास के साथ जश्न मनाया था. उनकी इस बड़ी उपलब्धि से पूरे हिंदुस्तान को उनके ऊपर नाज था, लोग उन्हें देश-दुनिया से शुभकामनाएं दे रहे थे.

आज जब पूरे देश में दीपिका पादुकोण को लेकर ड्रग्स एंगल का मामला सामने आया है, तो उनके पिता प्रकाश पादुकोण किस तरह का महसूस कर रहे होंगे यह तो वह स्वयं ही जान सकते हैं.

अब हम आपको बताते हैं कि, दीपिका पादुकोण का ड्रग्स मामले में नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के सामने कैसे आया? दरअसल, दीपिका पादुकोण के खिलाफ एनसीबी को उनकी ड्रग्स के बारे में एक चैट मिली है.

इस चैट में दीपिका पादुकोण ड्रग्स के बारे में बात कर रही हैं. 28 अक्टूबर 2017 की इस चैट में दीपिका अपनी मैनेजर करिश्मा प्रकाश से ड्रग्स सप्लाई और उपयोग की बात कर रही है.

बॉलीवुड अभिनेत्री रकुल प्रीत सिंह ने अपने एक इंटरव्यू में कहा था कि, ” ड्रग्स के सिस्टम को निकाल कर बाहर कर देना चाहिए”. जबकि आज रकुल प्रीत सिंह भी इस मामले में फंस चुकी है.

बॉलीवुड के ड्रग्स एंगल मामले में आए नामों की लिस्ट में यदि कोई भी दोषी पाया जाता है तो उसे भी NDPS कानून के प्रावधान के हिसाब से ही सजा सुनाई जाएगी.

बॉलीवुड अभिनेत्री दीपिका पादुकोण का ड्रग्स मामले में आरोपी पाया जाना सभी के लिए हैरान कर देने वाली बात है. हो सकता है, यह सारी चीजें दीपिका के परिवार वालों को भी ना पता हो.