ड्रग्स मामले पर बोली हेमा मालिनी, कंगना के लिए कही ये बात
/

ड्रग्स मामले पर खुलकर बोली हेमा मालिनी, कंगना के लिए कही ये बात

मुंबई: सुशांत सिंह राजपूत केस में ड्रग्स एंगल सामने आने के बाद से बॉलीवुड में मानो जैसे जुबानी जंग सी छिड़ गई है।  हर कोई एक दूसरे पर कटाक्ष कसने से बाज नहीं आ रहा है। हाल ही में संसद भवन में सपा सांसद जया बच्चन ने बॉलीवुड को बदनाम करने का आरोप लगाते हुए कंगना और सांसद रवि किशन के ऊपर निशाना साधा था। जिसके बाद कंगना ने भी जया बच्चन पर पटलवार किया था। जिसके बाद से ही बॉलीवुड दो गुटों में बटा हुआ नजर आ रहा है। कोई कंगना के पक्ष में बोल रहा है, तो कोई विपक्ष में।

बता दें कि एक्ट्रेस कंगना रनौत हर मुद्दे पर बेबाक अंदाज में बात करने के लिए जानी जाती हैं। वहीं कंगना ने बॉलीवुड में ड्रग्स के मुद्दे पर भी खुलकर बोला है। जिस पर अब बॉलीवुड की ड्रीम गर्ल और भाजपा सांसद हेमा मालिनी ने अपनी प्रतिक्रिया दी है।

बॉलीवुड पार्टियों में ड्रग्स चलता है ?

हेमा मालिनी से जब पूछा गया कि कंगना का कहना है कि बॉलीवुड पार्टियों में ड्रग्स चलता है और कई बड़े सेलेब्स ड्रग्स लेते हैं। इसके जवाब में हेमा मालिनी ने कहा कि, “जो पार्टियों में जाते हैं, उन्हें ही इस बात का पता होगा।  हम लोग तो कहीं जाते नहीं हैं।  इसलिए मुझे इस बारे में कुछ भी नहीं पता है। साथ ही कहा कि मैं इस बारे में बात नहीं करना चाहूंगी।”

वहीं हेमा मालिनी से एक और सवाल में पूछा गया कि क्या ड्रग्स आपके जमाने से चलता था या अब शुरु हुआ है? तो इसका जवाब देते हुए हेमा ने कहा कि हमने इसके बारे में कभी सुना ही नहीं, हमें तो ड्रग्स के विषय में कोई भी जानकारी ही नहीं है।

आगे उन्होंने कहा कि हम लोगों को दो से तीन पेज के डायलॉग दिए जाते हैं, जिसे हम तुरंत याद करके बोलते हैं। यदि आप ड्रग्स लेते हैं, तो क्या ऐसा मिनटों में कर पाना संभव है?” जब तक हम लोग रहे तब तक ऐसा कभी भी नहीं हुआ है, ये बहुत अच्छी इंडस्ट्री थी।”

शिवसेना सरकार से छिड़ी बहस पर कंगना को लेकर कही ये बात

हेमा मालिनी ने ऑल महाराष्ट्र सरकार के बीच छिड़ी हुई बहस पर भी अपनी टिप्पणी दी है। हेमा मालिनी का कहना है कि

“कंगना ने झांसी की रानी का रोल किया है, इसलिए उनपर इसका असर है। वो ये कहने का प्रयास कर रही हैं, तो ईश्वर उस पर आशीर्वाद बनाए रखे। कंगना जो है वो उनका अपना नजरिया है और इस विषय पर मुझे ज्यादा बोलना नहीं चाहिए।”