रिटर्न टिकट लेने के बाद विनय तिवारी को मुंबई पुलिस ने छोड़ा

सुशांत केस: रिटर्न टिकट लेने के बाद IPS विनय तिवारी को मुंबई पुलिस ने क्वारंटीन से छोड़ा

एक्टर सुशांत केस में आए दिन मुंबई पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़े किए जा रहे हैं। सुशांत सिंह राजपूत के पिता ने बिहार में रिया चक्रवर्ती के खिलाफ मामला दर्ज कराया, जिसके बाद बिहार की पुलिस टीम जांच-पड़ताल के लिए मुंबई रवाना हो गई। सुशांत केस की जांच के लिए मुंबई पहुंचे आनन-फानन में पटना सिटी एसपी को जबरन क्वारंटीन कर लिया गया।

बिहार के आईपीएस अधिकारी विनय तिवारी को क्वारंटीन सेंटर से छोड़ दिया गया है। इसके बाद मु्ंबई पुलिस पर सुशांत केस में सहयोग न करने का आरोप लगाए जा रहे हैं। वहीं, बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे ने कहा कि-‘हमारे अधिकारी विनय तिवारी मुंबई पुलिस को सूचना देकर वहां गए थे’। इतना ही नहीं उन्होंने कानूनी कार्रवाई की चेतावनी भी दी है।

क्वारंटीन किए गए आईपीएस विनय तिवारी को छोड़ा

बिहार में काफी राजनीतिक हंगामे के बाद मुंबई पहुंचे बिहार के आईपीएस अधिकारी विनय तिवारी को क्वारंटीन सेंटर से छोड़ दिया गया है। विनय तिवारी को उस समय क्वारंटीन किए गए जब वो सुशांत केस को लेकर मुंबई में जांच कर रही बिहार पुलिस टीम की अगुवाई करने के लिए पहुंचे थे।

बताया जा रहा है कि बीएमसी ने उन्हें 14 दिनों के लिए क्वारंटीन सेंटर में एडमिट किया था। बाद में मुंबई से लेकर बिहार तक काफी हंगामा देखने को मिल रहा था। मुंबई पुलिस की सुशांत खुदकुशी के मामले में फजीहत हो रही है। बाद में बिहार सरकार ने सुशांत केस को लेकर सीबीआई जांच की सिफारिश कर दी, जिसे स्वीकार भी कर लिया गया।

मुंबई पुलिस पर जांच में सहयोग न करने का लगा आरोप

पटना सिटी के एसपी विनय तिवारी के क्वारंटीन को लेकर बिहार पुलिस की ओर से मुंबई पुलिस पर गंभीर आरोप लगाए थे। खुद विनय तिवारी ने भी कहा था कि-‘उनके क्वारंटीन किए जाने से जांच प्रभावित होगी।’

वहीं, बिहार पुलिस ने मुंबई पुलिस पर जांच में सहयोग नहीं करने का भी आरोप लगाया था। एक दिन पहले ही बिहार पुलिस के डीजीपी ने अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत मामले की जांच के लिए मुंबई गए प्रदेश के एक आईपीएस अधिकारी को लौटने की अनुमति नहीं दिए जाने पर गुरुवार को कानूनी कार्रवाई की चेतावनी दी थी।

सीबीआई करेगी सुशांत केस की जांच

गौरतलब है कि अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत पिछले 14 जून को अपने बांद्रा स्थित घर में डेडबॉडी मिली थी। बाद में 25 जुलाई को पटना के राजीव नगर थाना में सुशांत के पिता केके सिंह द्वारा एक प्राथमिकी एफआईआर दर्ज कराई गई थी, जिसमें रिया चक्रवर्ती और उसके परिवार के खिलाफ कई गंभीर आरोप लगाए गए थे।

केके सिंह के अनुरोध पर बिहार सरकार की ओर से सुशांत मौत मामले की जांच सीबीआई से कराने की सिफारिश की गई। फिलहाल, केंद्र सरकार ने सीबीआई से जांच कराने की मांग को स्वीकार कर लिया है।