आज कंगना और रवि किशन के लिए जस्टिस, सुशांत कहां हैं
/

काम्या पंजाबी ने पूछा-आज कंगना और रवि किशन के लिए जस्टिस, सुशांत कहां हैं

मुंबई: अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में रोजाना एक के बाद एक चौकानें वाले खुलासे हो रहे हैं। वहीं इस केस में ड्रग्स एंगल भी सामने आया था। जिसको लेकर अब बॉलीवुड में माहौल काफी गरमाया हुआ है। ऐसे में कई लोगों का ये मानना है कि अब सुशांत की मौत के कारणों से ज्यादा अन्य मुद्दों पर ज्यादा चर्चा होती नजर आ रही है। साथ ही सुशांत सिंह को न्याय दिलवाने का अभियान अब गायब हो रहा है।

दरअसल, सुशांत की मौत के बाद से बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत और महाराष्ट्र सरकार के बीच का विवाद लगातार सुर्ख़ियों में है। वहीं अब कई सेलेब्स भी अलग-अलग वजहों से चर्चा का विषय बने हुए हैं।

आज कंगना और रवि किशन के लिए जस्टिस फॉर सुशांत..

इस बीच, टीवी एक्ट्रेस काम्या पंजाबी का नाम भी शामिल हो गया है। काम्या पंजाबी ने सुशांत सिंह राजपूत को न्याय दिलाने की मुहिम को लेकर कहा है कि वो मुहिम अब गायब हो गई है। उन्होंने अपने ट्वीट कर लिखा है कि ‘यह सबकुछ जस्टिस फॉर सुशांत सिंह राजपूत से शुरू हुआ था और फिर यह जस्टिस फॉर कंगना… अब जस्टिस फॉर रवि किशन हो गया है। कल कोई और होगा, परसो कोई और फिर कोई और… इन सबमें सुशांत कहां हैं? किसने करण जौहर के साथ झगड़ा किया, किसने ये ड्रग्स वगैरह किया और किसे वाई सिक्योरिटी मिल रही है, इन सब में सुशांत सिंह राजपूत कहां है? सोचो, सोचो।

हाल ही में किया जया बच्चन को सपोर्ट

बता दें कि बीते कुछ दिनों से काम्या पंजाबी लगातार सुशांत सिंह मामले को लेकर ट्वीट कर रही हैं। काम्या पंजाबी ने हाल ही में सपा सांसद जया बच्चन की स्पीच को सपोर्ट किया है। साथ ही और कंगना रनौत के बयानों पर आपत्ति जताई। काम्या पंजाबी ने ट्वीट कर कहा था कि

‘टीवी इंडस्ट्री का हिस्सा होने के नाते मुझे लगता है कि सुशांत हममें से ही एक था और हम यह जानने के हकदार हैं कि आखिर 14 जून को क्या हुआ था। मेरा पक्ष स्पष्ट है। फिल्म इंडस्ट्री और यहां के लोगों को गाली देना मेरे लिए गलत है। लोगों का ध्यान पूरी तरह भटक रहा है और मैं इस सर्कस का हिस्सा नहीं बनने वाली। आपको ढेर सारा प्यार जया जी।’

इसके अलावा भी एक्ट्रेस काम्या पंजाबी ने कई ट्वीट किए हैं। जिसके बाद काम्या पंजाबी को जया बच्चन का सपॉर्ट करने पर बुरी तरह ट्रोल किया गया है। वहीं काम्या ने कहा कि उन्हें ट्रोल से कोई फर्क नहीं पड़ता, पर अब लोगों का मुख्य मुद्दे से ध्यान भटक रहा है। पब्लिक पागल हो चुकी है। घूम रही है जैसा घुमाया जा रहा है।

हर किसी ने #JusticeforSSR कैंपेन जॉइन किया था और जानना चाहता था कि आखिर सुशांत के साथ क्या हुआ। क्या वह डिप्रेशन में थे? क्या इसमें कुछ गड़बड़ है? आखिर किस चीज ने सुशांत को ऐसा कदम उठाने पर मजबूर किया? लेकिन धीरे-धीरे नए मुद्दे सामने आने लगे, जो इस कैंपेन से जुड़ गए और फिर सुशांत का मुद्दा साइडलाइन हो गया।’