KBC 12: क्या आपकों पता है इस सवाल का जवाब? 1.5 लाख हारे कपिल
//

KBC 12: इस सवाल का गलत जवाब देते ही 1 लाख 50 हजार हारे कपिल, क्या आपकों पता है सही जवाब?

कौन बनेगा करोड़पति का 12वां सीजन शुरू हो चुका है. टेलीविजन का पापुलर गेम शोज तो वही इस खेल को लोग बहुत उत्सुकता से खेलते भी है. क्योकिं इस खेल को शुरू जो हमारे महानायक अमिताभ बच्चन करते है. शो के लेटेस्ट एपिसोड में होस्ट अमिताभ बच्चन के सामने हॉटसीट पर बंगाल के कपिल गुरुंग  खेल रहे थे जो की बड़ी ही सहजता के साथ खेल रहे थे. बड़ी रकम जीतने की उम्मीद के साथ अपनी किस्मत आजमाने के लिए आए.

कपिल के लिए ये था नौवा प्रश्न

लेकिन जरा सा रिस्क लेना उनके गेम पर भारी पड़ गया और शानदार गेम खेलते हुए काफी आगे निकल चुके कपिल को मात्र 10 हजार रुपए के साथ ही घर लौटना पड़ा. दरअसल कपिल अच्छा खेल खेलते हुए 9वें सवाल तक पहुंच गए थे. लेकिन 9वें सवाल पर उन्होंने दो लाइफलाइन का इस्तेमाल किया इसके बावजूद भी गलत जवाब देकर गेम से बाहर होना पड़ा. कपिल के लिए नौंवा सवाल था- वयस्क मानव शरीर के इनमें से किस हिस्से में हड्डियों की संख्या सबसे अधिक होती है?

ये था नौवे सवाल का सही जवाब

इस सवाल पर कपिल गुरुंग अटक गए और उन्होंने फोन अ फ्रेंड लाइफ लाइन का इस्तेमाल किया लेकिन उन्हें स्पष्ट जवाब नहीं मिला. इसके बाद उन्होंने एक और लाइफ लाइन 50-50 का इस्तेमाल किया, लेकिन सही जवाब नहीं दे पाए- इस सवाल का सही जवाब है- हाथ कपिल गुरुंग बहुत ही अच्छा खेल रहे थे, लेकिन जब वे 9 सवाल तक पहुंचे तो थोड़ा सा वह अटक गए यहां तक कि उन्होंने अपनी दो लाइफ लाइन का भी इस्तेमाल किया था, इसके बावजूद कपिल गुरुंग गलत जवाब देकर गेम से बाहर हो गए.

कपिल गुरुंग को लगा बहुत बड़ा झटका

कपिल गुरुंग को बहुत बड़ा झटका तब लगा जब इतने आगे आने के बाद सिर्फ 10 हजार रुपये सिर्फ पाने पड़ें. अमिताभ बच्चन के सामने हॉट सीट पर भी किस्मत वाले लोगों को ही बैठना नसीब होता है. दरअसल कपिल गुरुंग अपने नौवें सवाल पर जब अटक गए तो उन्होंने अपने कुछ फ्रेंड्स को फोन ऑफ फ्रेंड लाइफ लाइन का इस्तेमाल करके प्रश्न को पूछने की कोशिश की लेकिन उन्हें भी इस प्रश्न की पूर्ण रूप से जानकारी नहीं मिल पाई फिर कपिल गुरुंग ने अपनी दूसरी लाइफ लाइन 50 50 का इस्तेमाल किया, लेकिन वहां से भी सही जवाब नहीं ले पाए जिसके कारण कपिल गुरुंग कौन बनेगा करोड़पति से नौवें सवाल तक पहुंच कर भी हार बैठे.