मनोज बाजपेई को सुशांत मामले में सता रहा इस बात का डर
/

मनोज बाजपेई को सुशांत मामले में सता रहा इस बात का डर

बॉलीवुड के दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मृत्यु के बाद लोगों के लगातार नए नए बयान सामने आ रहे हैं. बॉलीवुड की दुनिया में भी लोग सुशांत को न्याय दिलाने की आड़ में तरह-तरह के ट्वीट करके विवादित बयान दे रहे हैं. सुशांत सिंह राजपूत के निधन को पूरे 3 महीने बीत चुके हैं लेकिन अभी तक कोई खास सबूत हाथ नहीं आया है.

सुशांत के पिता के. के सिंह ने सुशांत की आत्महत्या को मर्डर करार देते हुए सीबीआई जांच की मांग की थी, जिसके बाद कई जांच एजेंसियां इस केस में लगातार जांच भी कर रही हैं.

सुशांत भले ही आज हमारे बीच नहीं रहे, लेकिन उनकी यादें लोगों के दिल में अभी भी ताजा हैं. सुशांत ने अपने करियर की शुरुआत एक टीवी शो से की थी, जिसके बाद कुछ ही समय में उन्होंने बॉलीवुड की दुनिया में सफलता हासिल कर अपनी एक अलग खास जान पहचान बना ली.

सुशांत ने बॉलीवुड में कुछ ही समय में कई बड़ी-बड़ी फिल्मों में काम किया. उनकी यह मेहनत रंग लाई थी, जिसकी वजह से वह आज पूरी दुनिया में अपने फैंस के दिलों में बसते हैं.

 

 

सुशांत सिंह राजपूत के लिए लोग लगातार न्याय की मांग कर रहे हैं, और कई सवाल भी उठा रहे हैं. इन सब हालातों के बीच बॉलीवुड अभिनेता मनोज बाजपेई का भी एक बयान सामने आया है.

बता दें कि सुशांत सिंह राजपूत और मनोज बाजपेई की फिल्म ‘सोन चिड़िया’ 2019 में रिलीज हुई थी, जिसमें दोनों ने साथ काम किया था. सुशांत की अचानक मृत्यु की खबर को सुनकर मनोज बाजपाई काफी दुखद महसूस कर रहे हैं.

 

मनोज ने अपने बयान में कहा, ”इस शोर में लोग सुशांत सिंह राजपूत के द्वारा हासिल की गई उपलब्धियों का जश्न मनाना भूल गए हैं, हर किसी का ध्यान टीआरपी पर ही केंद्रित रहता है. कोई भी इतने शानदार अभिनेता के लिए नुकसान महसूस नहीं कर रहा है. कोई यह नहीं बात करता कि, सुशांत कोडिंग में कैसे शामिल हुए”.

इस बारे में आगे बात करते हुए मनोज बाजपेई ने कहा, ”यह जो कुछ भी हो रहा है मुझे इस बात का संदेह है कि, उसके बारे में कोई शोक या दुख प्रकट नहीं कर रहा है. सुशांत को लेकर हर घंटे बहस का एक नया विषय लाया जा रहा है.

सुशांत के बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा, ”मैं जो कुछ भी कहूंगा उसका एक अलग अर्थ निकाला जाएगा, मुझे तो विश्वास ही नहीं हो रहा है कि, सुशांत अब हम सबके बीच नहीं रहे”.

मनोज ने बताया कि, ”उन्होंने फिल्म निर्माता शेखर कपूर से भी यह बात कही थी कि, यह 34 वर्षीय अभिनेता अपने दम पर जितनी तेजी से आगे सफल हुआ इतनी तेजी से तो हम भी सफल नहीं हो पाए थे”.

उन्होंने दुख प्रकट करते हुए कहा कि, ”यह बहुत ही दुख भरी बात है कि, मैंने पिछले कुछ महीने जो कुछ भी देखा उससे मुझे यही लगता है कि हम सबने सुशांत को कहीं पीछे छोड़ दिया है”.