सुशांत मामले में एनसीबी की बड़ी कारवाई, एक और शख्स गिरफ्तार
//

सुशांत मामले में एनसीबी की बड़ी कारवाई, एक और शख्स गिरफ्तार

सुशांत मामले में लगातार कई जाँच एजेंसी लगी हुई है। जब जाँच शुरू होने लगे तो ड्रग्स का मामला आ गया।जिसके बाद नार्कोटेस्ट कंट्रोल ब्यूरो की नजर पड़ गयी। जिसके बाद कई लोगो का नाम सामने आया और एनसीबी ने कई को गिरफ्तार किया। इसी सिलसिले में एनसीबी ने गुरुवार को एक छापा मारा जिसमे एक ड्रग माफिया को मुंबई से दबोच लिया गया |

जय मधोक नाम  है ड्रग पेडलर  का

अधिकारियों के मुताबिक, मुंबई के सांताक्रुज इलाके में एक जय मधोक नाम का एक ड्रग पैडलर को गिरफ्तार किये है। जिसपर ड्रग्स का इस्तेमाल करना और सप्लाय करने का आरोप है। एनसीबी के अधिकारियों ने बताया कि इसके साथ भारी मात्रा में कोकीन और पैसा बरामद हुआ है और पूछताछ जारी है।

एनसीबी ने बताया कि पूछताछ में कई ने जय मधोक का नाम लिया था। जिसे गिरफ्तार कर लिया गया है। वही सुशांत मामले में एनसीबी ने रिया और उसके भाई समेत 22 लोगो को गिरफ्तार कर चुकी थी। जिसके बाद रिया को इस मामले में जमानत मिल चुकी है।

जमानत हुआ रद्द

वही बुधवार को धर्मा प्रोडक्शन के पूर्व कार्यकारी निर्माता रहे क्षितिज रवि प्रसाद जमनात अर्जी दी जिसके बाद उनकी अर्जी एनसीबी की अदालत ने रद्द कर दिया। उन पर आरोप है कि वे ड्रग्स का लेन देन करते है।जिसमे उन्हें 26 सितंबर को गिरफ्तार कर लिया गया। अदालत ने अर्जी खारिज करते हुए कहा है कि क्षितिज रवि प्रसाद ने एनसीबी के अधिकारियों पर जो भी आरोप लगाए हैं, वह झूठे और बेबुनियाद हैं।

एनसीबी पर लगाया  आरोप

जब रवि ने अदालत में अर्जी दाखिल किए थे तो वे एनसीबी पर एक गंभीर आरोप लगाया था। जिनमे उन्होंने कहा कि एनसीबी ने उन्हें प्रताड़ित किया और रणवीर कपूर, अर्जुन रामपाल, डीनो मोरिया को फसाने के लिये मजबूर किया था। जब याचिका दायर किये तब लिखे की ‘ मुझे ये नाम लेने के लिये एनसीबी ने प्रताड़ित किया। मैं इन लोगो को जानता नही हु और ना ही लगाए गए इन आरोप के बारे के मुझे पता  है।