पंजाब ने अपनी 'बहू' हेमा मालिनी को भेजा निमंत्रण पत्र, कहा- 'यहां आकर कानून समझाइए, पूरा खर्चा हम उठाएंगे'

बॉलीवुड की ड्रीम गर्ल हेमा मालिनी मथुरा से बीजेपी सांसद हैं, जो कि पंजाब की बहू भी है। किसान आंदोलन को लेकर हेमा मालिनी ने प्रदर्शन को खत्म कर देने और सरकार के कृषि कानून को अपना लेने की सभी किसानों से अपील की है। दिल्ली सीमा पर करीब 3 महीने से किसान लगातार कृषि कानून को लेकर आंदोलन कर रहे हैं।

पंजाब की बहू होने के नाते किसान हेमा मालिनी से समर्थन की उम्मीद कर रहे थे, जो कि किसानों की उम्मीद भी खत्म हो चुकी है। अब किसान हेमा मालिनी पर भी नाराजगी जाहिर कर रहे हैं। किसानों ने हेमा मालिनी पर नाराज होकर उन्हें निमंत्रण पत्र भी भेजा है।

पंजाब ने अपनी 'बहू' हेमा मालिनी को भेजा निमंत्रण पत्र, कहा- 'यहां आकर कानून समझाइए, पूरा खर्चा हम उठाएंगे'

भारतीय जनता पार्टी सांसद हेमा मालिनी को पंजाब के किसान संगठन कांधी किसान संघर्ष कमेटी ने आमंत्रण पत्र भेजते हुए कृषि कानून के फायदे बताने को कहा है। किसानों का कहना है कि,

“हेमा मालिनी जी पंजाब आएं और किसानों को केंद्र सरकार के इन तीनों कानूनों के फायदे भी बताएं। अगर वह हमें जो भी फायदे बताती है वह समझ में आ जाते हैं, तो हम विरोध प्रदर्शन खत्म कर देंगे और सरकार के इन कानूनों को अपना लेंगे”।

पंजाब ने अपनी 'बहू' हेमा मालिनी को भेजा निमंत्रण पत्र, कहा- 'यहां आकर कानून समझाइए, पूरा खर्चा हम उठाएंगे'

हेमा मालिनी को भाभी की तरह सम्मान देते हैं पंजाबी

हेमा मालिनी ने अपने बयान में किसानों से कहा था कि, “वह नहीं जानते हैं कि, उन्हें क्या चाहिए! सभी किसान विपक्ष के बहकावे में आकर इस तरह के कदम उठा रहे हैं”।

बता दें, ड्रीम गर्ल हेमा मालिनी के पति धर्मेंद्र पंजाब से है, जिस वजह से पंजाब के लोग उन्हें पंजाब की बहू कहकर पुकारते हैं और उन्हें भाभी की तरह सम्मान देते हैं। इन्हीं बातों को ध्यान में रखते हुए किसानों ने हेमा मालिनी को आमंत्रण पत्र भेजा।

पंजाब ने अपनी 'बहू' हेमा मालिनी को भेजा निमंत्रण पत्र, कहा- 'यहां आकर कानून समझाइए, पूरा खर्चा हम उठाएंगे'

किसानों ने पत्र में लिखीं ये बातें

किसान संगठन ने पत्र में लिखा कि,

“किसान आंदोलन के दौरान अपनी उपयुक्त फसल का मूल्य पाने के लिए 100 से भी अधिक किसान की जान जा चुकी है। दिल्ली सीमाओं पर हजारों किसान आंदोलन कर रहे हैं। ऐसे में आपके द्वारा दिया गया यह बयान हम पंजाबियों के लिए काफी निराशाजनक रहा। किसान कठिन परिश्रम से अपनी फसल उगाते हैं, इसलिए हम आपसे निवेदन करते हैं कि, आप यहां पर आएं और किसानों को सरकार के कृषि कानून बिल के फायदे बताएं”।

किसानों का कहना है कि, पंजाब आने के लिए वह हेमा मालिनी के सफर का पूरा खर्चा उठाएंगे और साथ ही साथ फाइव स्टार होटल का खर्चा उठाने के लिए भी तैयार रहेंगे।

Urvashi Srivastava

मेरा नाम उर्वशी श्रीवास्तव है. मैं हिंद नाउ वेबसाइट पर कंटेंट राइटर के तौर पर...