‘स्कैम1992–द हर्षद मेहता स्टोरी, कैसे होता था करोड़ों घोटाला
///

‘स्कैम 1992 – द हर्षद मेहता स्टोरी, कैसे होता था करोड़ों का घोटाला, असल जिंदगी समकक्ष

‘स्कैम 1992 – द हर्षद मेहता स्टोरी निर्देशक हंसल मेहता वेब सीरीज लेकर आ रहे हैं. SonyLIV के स्कैम 1992 का टीज़र गया है. इसकी पूरी कहानी देबाशिस बसु और सुचेता दलाल द्वारा लिखी गई किताब ‘द स्कैम’ पर आधारित है. इस वेब सीरीज में हर्षद मेहता ने कैसे 4000 करोड़ रुपए का घोटाला किया और पूरी मार्केट को हिला दिया. हर्षद मेहता की ताकत का अंदाजा इस बात से ही लगाया जा सकता है कि वहां के पत्रकार उनका नाम सुनते ही डर जाते थे. स्टॉक मार्केट का अमिताभ बच्चन और बिग बुल भी कहा जाता है. इसकी कहानी भी इन्हीं की जिंदगी के आर-पार घूम रही है. देखिए कैसे होता है यह घोटाला

‘स्कैम 1992 – द हर्षद मेहता स्टोरी, कैसे होता था करोड़ों का घोटाला, असल जिंदगी समकक्ष

कैसे की थी शुरुआत

द न्यू इंडिया इंश्योरेंस कंपनी से महत्व की स्टॉक मार्केट में एंट्री होती है. 1981 में उनकी दिलचस्पी मार्केट में बढ़ी और उन्होंने नौकरी छोड़ दी और ब्रोकरेज फर्म ज्वाइन कर लिया. इसके बाद उन्होंने ग्रो मोर रीसर्स एंड असेट मैनेजमेंट कंपनी की शुरुआत कर दी और बंबई स्टॉक एक्सचेंज में मेंबर से भी ले ली. हर्षद मेहता इतना पावरफुल था ताकि वह जिस चीज को भी हाथ लगा दे वो सोना हो जाती थी.

किस तरह से होता था घोटाला

सुचेता दलाल ने अपने लिखी पुस्तक में बताया है, कि हर्षद मेहता किस तरह से गोलमाल करता था और फर्जीवाड़े से काम करता था. वह आरएफ के जरिए बैंकों से फंड लेते थे. आरएफ शॉर्ट टर्म लोन होता है. इस तरह का लोन वह 15 दिनों के लिए लेते हैं. इसमें बैंक सरकारी बांड को गिरवी रखकर दूसरे बैंकों को उधार पर देती है जिसे दोबारा भी खरीदा जा सकता है. दरअसल बैंकों में असल तरह से सरकारी बांड का लेन देन नहीं होता है.

बैंक हो जब गैस की तरह होती है तो वह रसीद भी जारी करता है. बैंकों के बीच लेन-देन में हर्षद मेहता बिचौलिया के तौर पर ध्यान देता था, वहीं पर फायदा उठाते हुए पैसों की हेराफेरी कर देता था और सारा गोलमाल कर देता था. इस तरह वह मार्केट में पैसा लगाकर ऐसे ही काम आता था.

वेब सीरीज में कहानी के मुख्य खिलाड़ी

केतन पारेख हर्षद मेहता के बाद एक कुख्यात घोटाला करता है. प्रणव सेठ पर ही आधारित है. पूर्व स्टॉक लेकर होता है. साल 2018 में शेयर मार्केट में हेराफेरी करने और घोटाला करने के लिए 3 साल तक की सजा सुनाई जाती है. भूषण यानि की चिराग वोहरा पर यह शो खासकर आधारित है भूषण भट्ट का किरदार निभाने वाला कोई वास्तविक जीवन का किरदार नहीं है, बल्कि यह एक चरित्र काल्पनिक है.

मनु मुद्रा पर आधारित किरदार सतीश कौशिक निभाते हैं. जो कि एक बहुत ही चालाक और खूंखार मार्केट ऑपरेटर हैं. मुंबई स्टॉक एक्सचेंज में कॉल डिटेल का नेतृत्व करते हैं. राकेश झुनझुनवाला ने हर्षद मेहता द बिग बुल’ का पदभार संभालने वाले व्यक्ति राकेश की भूमिका निभा रहे हैं. महेश्वरी कॉमिक अभिनेता परेश सुपरमार्केट चेन डार्ट संस्थापक राधाकिशन दमानी पर आधारित है.

‘स्कैम 1992 – द हर्षद मेहता स्टोरी, कैसे होता था करोड़ों का घोटाला, असल जिंदगी समकक्ष

हर्षद मेहता का किरदार प्रतीक गांधी ने निभाया है. यह एक ऐसे किरदार हैं जिन्होंने बखूबी एक्टिंग की. हर्षद मेहता एक ऐसे व्यक्ति थे, जिन्होंने अपनी बातों से लोगों को मंत्रमुग्ध कर दिया था.

‘स्कैम 1992 – द हर्षद मेहता स्टोरी, कैसे होता था करोड़ों का घोटाला, असल जिंदगी समकक्ष

वेब सीरीज में सुचेता दलाल का किरदार श्रेया धनवंतरी ने बखूबी निभाया. किरदार को हूबहू उतारने में श्रेया ने कोई कमी नहीं छोड़ी.

‘स्कैम 1992 – द हर्षद मेहता स्टोरी, कैसे होता था करोड़ों का घोटाला, असल जिंदगी समकक्ष

 

के. माधवन का किरदार रजत कपूर द्वारा निभाया गया है. तस्वीरों में आप रियल और रील लाइफ के चरित्र को देख सकते हैं.

‘स्कैम 1992 – द हर्षद मेहता स्टोरी, कैसे होता था करोड़ों का घोटाला, असल जिंदगी समकक्ष

 

राकेश झुनझुनवाला का किरदार केविन देव ने निभाया है. परेश गंत्रा द्वारा राधा-कृष्ण दमानी और राजू चार्टिस्ट का किरदार वरुण कुलकर्णी ने निभाया.

‘स्कैम 1992 – द हर्षद मेहता स्टोरी, कैसे होता था करोड़ों का घोटाला, असल जिंदगी समकक्ष

 

इस वेब सीरीज में चंद्रास्वामी का किरदार जिसने निभाया है, उनका असली नाम कार्तिक कृष्णन है. कार्तिक कृष्णन ने अपने दमदार एक्टिंग से किरदार में चार चांद लगा दिए.

‘स्कैम 1992 – द हर्षद मेहता स्टोरी, कैसे होता था करोड़ों का घोटाला, असल जिंदगी समकक्ष

 

सेन्ट्रल टीम के सभी सदस्यों का किरदार निखिल द्विवेदी शादाब खान ने प्ले किया है.

‘स्कैम 1992 – द हर्षद मेहता स्टोरी, कैसे होता था करोड़ों का घोटाला, असल जिंदगी समकक्ष

 

तस्वीरों में आप देख सकते हैं कि मनोहर फिरवाने का किरदार काफी मिल रहा है. मनोहर का किरदार वेब सीरीज में के. के. रैना ने निभाया.

‘स्कैम 1992 – द हर्षद मेहता स्टोरी, कैसे होता था करोड़ों का घोटाला, असल जिंदगी समकक्ष

 

वेंकीटारमनान का किरदार वेब सीरीज में अनंत नारायण महादेवन ने प्ले किया है. इनको आप ने कई फिल्मों और नाटकों में भी पहले देखा होगा.

‘स्कैम 1992 – द हर्षद मेहता स्टोरी, कैसे होता था करोड़ों का घोटाला, असल जिंदगी समकक्ष

 

वेब सीरीज में राम जेठमलानी का किरदार मिथिलेश चतुर्वेदी ने निभाया है. एक्टिंग के मामले में इनको कोई पीछा नहीं छोड़ सकता. कई पुरानी फिल्मों और नाटकों में इन्होंने अपनी दमदार कलाकारी से लोगों के दिलों में जगह बनाई है.

अब अगर बात की जाए हर्षद मेहता की फैमिली की तो इसमें ज्योति मेहता का किरदार अंजलि ने निभाया है. अश्विन मेहता का रोल हेमंत खेर ने प्ले किया. रसीलाबेन मेहता का किरदार कुमकुम दास ने निभाया है. तस्वीरों में आप सभी के करैक्टर देख सकते हैं

 

‘स्कैम 1992 – द हर्षद मेहता स्टोरी, कैसे होता था करोड़ों का घोटाला, असल जिंदगी समकक्ष

 

द टाइम्स ऑफ इंडिया में राजदीप सरदेसाई का किरदार शरद जगतिनानी और देबाशिस बसु का किरदार फैसल राशिद ने प्ले किया है. इसके अलावा आर के लक्ष्मण का रोल आसिफ अली के द्वारा प्ले किया गया. इस वेब सीरीज में सभी ने बहुत ही दमदार किरदार निभाए हैं.

मेरा नाम उर्वशी श्रीवास्तव है. मैं हिंद नाउ वेबसाइट पर कंटेंट राइटर के तौर पर कार्य करती हूं. वैसे तो मुझे ऑनलाइन वेब पर हर बिट्स की खबर पर काम करना पसंद है, लेकिन मेरा रुझान मनोरंजन और करंट अफेयर की खबरों पर ज्यादा रहता है. इसके अलावा मुझे देश-विदेश से जुड़ी हर खबरों पर नजर रखना और जानकारी लेना पसंद है.