शाहरुख खान की बेटी सुहाना को कहा गया बदसूरत तो कही ये बात

20 वर्षीय शाहरुख खान की बेटी सुहाना खान इन दिनों अपने पोस्ट के चलते काफी चर्चा में है। अपने पोस्ट के जरिए बेटी सुहाना खान ने उनके साथ हुए रंगभेद को लेकर दर्द बयां किया है। सुहाना के अनुसार  जब वे 12 साल की थीं, तब उनकी स्किन टोन की वजह से उन्हें बदसूरत कहा गया था। उन्होंने सोशल मीडिया पर इसे लेकर लंबी पोस्ट लिखी है और कहा है कि बहुत जरूरी है कि रंगभेद के मुद्दे को फिक्स किया जाना चाहिए।

क्या थी सुहाना की पोस्ट

शाहरुख खान की बेटी सुहाना को कहा गया बदसूरत तो कही ये बात

अपना दर्द बयां करते हुए सुहाना ने लिखा कि इस वक्त बहुत सी चीजें चल रही हैं और यह एक मुद्दा है, जिसे हमें फिक्स करने की जरूरत है। यह सिर्फ मेरे बारे में नहीं है। यह हर युवा लड़की या लड़के के बारे में है, जो बिना किसी कारण हीन भावना से ग्रस्त होकर बड़े हुए हैं। यहां मेरे अपीयरेंस को लेकर सिर्फ कुछ कमेंट हैं। जब मैं 12 साल की थी, तब मुझे मेरी स्किन टोन की वजह से पूरी तरह वयस्क हो चुके पुरुषों और महिलाओं द्वारा बदसूरत कहा गया था। बावजूद इसके कि वे असल में एडल्ट थे।

शाहरुख खान की बेटी सुहाना को कहा गया बदसूरत तो कही ये बात

दुखद यह है कि हम सभी भारतीय हैं, जो हमें ऑटोमैटिकली ब्राउन बनाता है। जी हां हम अलग-अलग रंगों से आते हैं,लेकिन कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप मेलानिन से खुद को दूर करने की कितनी कोशिश करते हैं। बस आप नहीं कर सकते। अपने ही लोगों से नफरत करने का यह मतलब है कि आप दर्द से असुरक्षित हैं। मुझे खेद है, अगर सोशल मीडिया, भारतीय मैचमेकिंग और यहां तक कि आपके अपने परिवार वाले आपको कहते हैं कि अगर आपकी हाइट 5″7 नहीं है और आप फेयर नहीं हैं तो आप खूबसूरत नहीं हैं। मुझे उम्मीद है कि यह जानने में आपको मदद मिलेगी कि मेरी हाइट 5″3 है और मेरा रंग ब्राउन है और मैं इसे लेकर बहुत खुश हूं और आपको भी होना चाहिए।

शार्ट फिल्म में आजमां चुकी है हाथ

शाहरुख खान की बेटी सुहाना को कहा गया बदसूरत तो कही ये बात

आपको बता दें कि सुहाना ने पिछले साल नवंबर में ‘द ग्रे पार्ट ऑफ ब्लू’ में काम किया था। अंग्रेजी में बनी इस 10 मिनट की शॉर्ट फिल्म में सुहाना की परफॉरमेंस काफी प्रशंसा भी हुई थी।

मेरा नाम दिव्यांका शुक्ला है। मैं hindnow वेब साइट पर कंटेट राइटर के पद पर कार्यरत...

Leave a comment

Your email address will not be published.