खलनायक नहीं असली हीरो हैं सोनू सूद, अब किया ये नेक काम
/

खलनायक का किरदार निभाने वाले सोनू सूद हैं असली हीरो, अब किया ये काम

मुंबई : बॉलीवुड अभिनेता सोनू सूद कोरोना जैसी वैश्विक महामारी में हमारे लिए रियल सुपरहीरो बन चुके हैं. आज पुरे देश के लोगों के लिए सोनू सूद महान नायक हैं. सोनू सूद लॉकडाउन में लाखों प्रवासी मजदूरों के लिए सुपरहीरो के रूप में उभरे हैं. इन्होंने लॉकडाउन में ना केवल प्रवासी मजदूरों को उनके घर पहुंचाया बल्कि उनके बुनियादी जरूरतों को भी पूरा किया। अभी भी सोनू सूद जरूरतमंद लोगों की सहायता करने में जुटे हुए हैं. हाल ही में सोनू ने वाराणासी के नाविकों की मदद की है.

दिव्यांशु ने ट्वीटर के जरिये लगाई मदद की गुहार

बॉलीवुड अभिनेता सोनू सूद ने वाराणासी के 350 नाविकों की मदद की है. बताया जा रहा है कि ये सभी नाविक भूखमरी के कगार पर पहुंच चुके थे. कुछ दिन पहले दिव्यांशु उपाध्याय नाम के एक शख्स ने ट्विटर पर सोनू सूद से मदद की गुहार लगाई थी.

जिसमें दिव्यांशु ने लिखा कि “वाराणासी के 84 घाटों में 350 कश्ती चलाने वाले परिवार आज दाने दाने को मोहताज हैं. इन 350 नाविक परिवारों की आखिरी उम्मीद आप ही हैं. गंगा में बाढ़ आने के बाद इनकी मुश्किलें और बढ़ गई हैं, काशी में इनके बच्चों को 15 से 20 दिनों तक भूखे पेट सोना पड़ा”.

दिव्यांशु के ट्वीट पर सोनू सूद ने जवाब में लिखा कि “वाराणासी के घाटों के 350 परिवारों का एक भी सदस्य आज के बाद भूखा नहीं सोएगा। आज मदद पहुंच जाएगी”

और आज उन नाविकों तक मदद पहुंचाई गई

बच्चों को ऑनलाइन क्लास करने के लिए किया मोबाइल भेंट

पिछले 5 महीनों से सोनू सूद लगातार लोगों की मदद करते हुए नजर आ रहे हैं. कुछ दिन पहले ही सोनू ने पंचकूला के मोरनी नामक इलाके के एक गांव में बच्चों की पढ़ाई में मदद की. उन्होंने बच्चों को मोबाइल फोन भेंट किए हैं ताकि बच्चे हो रहे ऑनलाइन क्लास में घर बैठे शामिल हो सके.

जिसके बाद सोनू ने खुद ट्वीट करते हुए बताया कि “सभी छात्रों को ऑनलाइन कक्षाओं में भाग लेने के लिए स्मार्टफोन मिलने के साथ मेरे दिन की एक शानदार शुरूआत। पढ़ेगा भारत तभी तो बढ़ेगा भारत।”

किसान परिवार को ट्रैक्टर भेजकर की उनकी मदद

सोनू ने लॉकडाउन के दौरान बहुत से जरुरतमंदो की मदद की है. इसमें कोई शक नहीं है. पिछले दिनों इंटरनेट पर एक वीडियो काफ़ी तेजी से वायरल हो रहा था जिसे देखकर सोनू का दिल पसीज गया और उन्होंने फ़ौरन ही किसान परिवार को ट्रैक्टर भेजकर उनकी मदद की. सोनू सूद ने दी कपिल शर्मा शो में इस बात का जिक्र भी किया. इस दौरान उनके आँखों से आँसू निकल पड़े थे.

इंटरव्यू लेकर भेजा जॉब के लिए ऑफर लेटर

सोनू ने हैदराबाद की एक सॉफ्टवेयर इंजिनियर को जॉब देकर उसकी मदद की. दरअसल, कोरोना लॉकडाउन के कारण इस लड़की नौकरी चली गई थी और मजबूरन उसने सब्जी बेचना शुरू कर दिया था. सोनू सूद को जब यह बात पता चली तो उस लड़की का इंटरव्यू लिया और जॉब का ऑफर लेटर भेज दिया.