पहली PM रिपोर्ट पर उठा सवाल, इतने बजे हुई थी सुशांत की मौत
/

हॉस्पिटल ने जारी की सप्लीमेंट्री पोस्टमार्टम रिपोर्ट, पता चला सुशांत के मौत का समय

बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत सुसाइड मामला सुप्रीम कोर्ट के आदेशानुसार सीबीआई टीम को सौंप दिया गया।

मुम्बई- बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत सुसाइड मामला सुप्रीम कोर्ट के आदेशानुसार सीबीआई टीम को सौंप दिया गया। सीबीआई की टीम भी पूरी फुर्ती के साथ मामले की जांच में जुट गई है और काफी तेजी से इस मामले की जांच कर रही है। सबसे पहले सीबीआई की टीम ने मुंबई पुलिस ने मामले की अपडेट मांगी और फिर अपने स्तर से जांच शुरू कर दी। इनवेस्टिगेशन के दौरान इससे जुड़े तथ्य सामने आ रहे हैं।

सुशांत की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में एक्टर के निधन का समय नहीं बताया गया था, जिससे काफी सवाल खड़े हुए थे। अब आज मुंबई के कूपर हॉस्पिटल की ओर से सप्लीमेंट्री पोस्टमार्टम रिपोर्ट जारी की गई। जिसके मुताबिक सुशांत की मौत पोस्टमॉर्टम करने से 10-12 घंटे पहले हो गई थी। एक्टर का निधन पोस्टमॉर्टम करने से 10-12 घंटे पहले हुआ था। रिपोर्ट्स के मुताबिक सुशांत का पोस्टमॉर्टम 14 जून को रात 11.30 बजे हुआ था।

पहली रिपोर्ट में समय नहीं लिखा था

इससे पहले सामने आई 7 पन्नों की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौत का समय नहीं लिखा था। हॉस्पिटल की ओर से यह स्पष्ट नहीं किया गया कि आखिर पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौत का समय पहले क्यों नहीं दिया था। सुशांत का पोस्टमार्टम करने वाले 5 डॉक्टरों की टीम से मुंबई पुलिस ने 5 अगस्त को की थी वहीं सीबीआई भी पूछताछ कर चुकी हैं।

सप्लीमेंट्री पोस्टमार्टम रिपोर्ट पर उठे सवाल

हालांकि पुलिस सूत्रों से जो जानकारी सामने आई उससे सप्लीमेंट्री पोस्टमार्टम रिपोर्ट को लेकर भी सवाल खड़े हो रहे हैं। मसलन सुशांत का पोस्टमार्टम घटना वाले दिन ही रात में हो गया, जबकि सुशांत का काम देख रही दिशा सालियान की खुदकुशी के बाद उसका पोस्टमार्टम 3 दिन बाद किया गया था।

यह पोस्टमार्टम भी उसी कूपर अस्पताल में हुआ था जहां पर सुशांत का पोस्टमार्टम हुआ था। लेकिन 1 हफ्ते के अंदर ही हुए दो पोस्टमार्टम में दो अलग-अलग बातें सामने आई थीं।

दिशा सालियान का पोस्टमार्टम इस वजह से 3 दिन बाद किया गया, क्योंकि पोस्टमार्टम करने से पहले दिशा की डेड बॉडी का कोविड-19 करवाया गया और उसकी रिपोर्ट आने के बाद ही बॉडी का पोस्टमार्टम किया गया।