फोरेंसिक का दावा सुशांत ने अपने ही हाथों से लगाई थी फांसी
/

फोरेंसिक का दावा सुशांत ने अपने ही हाथों से लगाई थी फांसी

दिवंगत सुशांत सिंह राजपूत केस में पूरे मामले की जांच लगातार जारी है. सुशांत की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में कोई भी बात साफ ना होने के कारण कई और जांच भी करवाई गई जिनकी रिपोर्ट में भी कुछ खास सबूत नहीं मिला. अब बताया जा रहा है कि, सुशांत सिंह राजपूत मामले में CFSL की रिपोर्ट में भी कुछ खास जानकारी नहीं मिली है. इससे पहले आई रिपोर्ट के अनुसार यह कहा जा रहा था कि, सुशांत सिंह राजपूत की हत्या गला घोंटकर की गई है. लेकिन CFSL रिपोर्ट के अनुसार यह सामने आया है कि सुशांत की मौत फांसी लगाने से ही हुई है.

क्राइम सीन रीक्रिएशन किया गया

सुशांत सिंह राजपूत केस में यह मामला सुलझने की बजाय और उलझता ही जा रहा है. सुशांत सिंह राजपूत की मौत जिस फ्लैट में हुई थी वहां पर क्राइम सीन का रीक्रिएशन भी किया गया. री-क्रिएशन क्राइम सीन की मानें तो, सुशांत की मौत को पूर्ण रूप से फांसी नहीं कहा जा सकता है, बल्कि यह एक ‘पार्सियल हैंगिंग’ है. CFSL रिपोर्ट का मानना यह है कि, फांसी लगाते वक्त उनका पैर हवा में नहीं लटका था बल्कि वह किसी टेबल या फिर दीवार पर टच हुआ था.

रिपोर्ट के अनुसार फांसी के वक्त दोनों हाथों का किया गया था इस्तेमाल

CFSL रिपोर्ट का दावा है कि सुशांत ने लटकते वक्त अपने दोनों हाथों का इस्तेमाल किया था, सुशांत ने फांसी अपने राइट हैंड से लगाई”. रिपोर्ट में सुशांत के गले पर लिगेचर मार्क का जिक्र भी किया गया है. इसके अलावा रिपोर्ट में यह भी बताया गया है कि, सुशांत सिंह राजपूत के कमरे से जो भी कपड़ा बरामद किया गया उस कपड़े से फांसी ही लगाई गई है. इस तरह से फांसी लगाए हुए लोग ज्यादातर राइट हैंड का ही इस्तेमाल करते हैं.

CFSL रिपोर्ट में कई चीजों पर एनालिसिस किया गया. रिपोर्ट में इन सभी बातों का जिक्र है कि किसी भी व्यक्ति के लटकने के बाद उसकी गर्दन पर कितना जोर पड़ता है, और उसके बाद व्यक्ति कितनी देर तक जीवित रहता है.

हम आपको बता दें कि, सेंट्रल फॉरेंसिक साइंस लैब (CFSL) के द्वारा आई रिपोर्ट की अभी कोई भी आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है. CFSL ने यह रिपोर्ट सीबीआई की टीम को सौंप दी है, रिपोर्ट की अधिकारिक पुष्टि एक-दो दिन में हो जाएगी इसके बाद यह मामला पूरी तरह से साफ हो पाएगा.

फिलहाल सुशांत सिंह राजपूत के मामले में सीबीआई के अलावा एनसीबी की टीम भी लगातार जांच में लगी हुई है. ड्रग्स का मामला सामने आने के बाद एनसीबी की टीम ने कई लोगों को गिरफ्तार भी किया था. बॉलीवुड अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती और उनके भाई की गिरफ्तारी के बाद कई और बॉलीवुड सेलेब्स का नाम सामने आया है.

NCB ने ड्रग्स मामले में सामने आए आरोपियों को समन भी भेज दिया है. अब देखना यह है कि, रिपोर्ट की आधिकारिक पुष्टि हो जाने के बाद इस केस में कौन सा नया खुलासा होने वाला है.