संदीप सिंह ने दायर किया 200 करोड़ का मानहानि का दावा
//

सुशांत केस: संदीप सिंह ने दायर किया 200 करोड़ का मानहानि का दावा

सुशांत सिंह राजपूत के दोस्त और प्रोड्यूसर संदीप सिंह ने अर्नब गोस्वामी के खिलाफ मानहानि का केस दर्ज किया है. सुशांत के दोस्त संदीप सिंह 14 जून को एक्टर की मौत के बाद  लोगों की नजर में आए हैं। संदीप ने न्यूज चैनल के खिलाफ मानहानि का केस दर्ज कराया है और 200 करोड़ मुआवजे की मांग भी की है. सोशल मीडिया द्वारा उन्होंने पोस्ट शेयर करके जानकारी दी है.

नोटिस में दिया ये बयान

 

View this post on Instagram

 

It’s Payback time @republicworld #Defamation #EnoughIsEnough

A post shared by Sandip Ssingh (@officialsandipssingh) on

संदीप सिंह के वकील रिपब्लिक टीवी और उसके एडिटर इन-चीफ अर्नब गोस्वामी को लीगल नोटिस भेजा है. लीगल नोटिस में लिखा है कि मेरा मुवक्किल बॉलीवुड में एक जाना-माना, प्रतिष्ठित फिल्म निर्माता है, जिसके खिलाफ आप आपराधिक खबरों के साथ बदनाम करने वाले समाचार चला रहे हैं, इस तथ्य के बावजूद कि आप मेरे मुवक्किल और स्वर्गीय सुशांत सिंह राजपूत के बारे में बहुत अच्छी तरह से जानते हैं.

अपने संघर्ष के दिनों से एक दूसरे को जानते थे. नोटिस में आगे लिखा था- आपने सार्वजनिक रूप से मेरे मुवक्किल की गिरफ्तारी की मांग की थी और उसे महत्वपूर्ण मास्टरमाइंड और हत्यारा करार दिया था. आप के ऊपर दिए गए नोटिसों से मेरे क्लाइंट को टीवी डिबेट्स, प्रचार, सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर लगभग हर दिन किसी भी तरह के बिना किसी पुख्ता सबूत के जानबूझकर और सीबीआई और मुंबई पुलिस जैसी जांच एजेंसियों द्वारा की गई जांच में जानबूझकर दखलअंदाजी करते रहे.

इस नोटिस में संदीप के वकील ने यह भी लिखा है कि संदीप की इमेज खराब करने के लिए झूठी खबरें चलाईं. रिपब्लिक टीवी ने 31 जुलाई को स्मिता पारिख नाम की महिला बुलाई जिसने आरोप लगाया कि संदीप सिंह के कहने पर ही सुशांत की बॉडी वाली एंबुलेंस कूपर अस्पताल ले जाई गई. और संदीप के पीआर ने उनकी तस्वीरें खींचकर खुद मीडिया में बांटी.

संदीप को बताया मास्टर माइंड

आपको बता दें कि रिपब्लिक टीवी के अर्णब गोस्वामी और अन्य पत्रकारों ने फिल्म प्रोड्यूसर और सुशांत के करीबी दोस्त रहे संदीप सिंह को सुशांत की हत्या का मास्टर माइंड बताया था और उनसे संबंधित स्टिंग चलाए थे. इसके बाद संदीप सिंह कई दिनों तक मीडिया की पहुंच से दूर रहे.