पंखे पर सुशांत को लटका देख इस वजह से पिठानी ने नहीं ली फोटो
//

पंखे पर सुशांत को लटकता देख इस वजह से सिद्धार्थ पिठानी ने नहीं खींची फोटो

सुशांत के वकील विकास सिंह ने बीते दिन एम्स द्वारा दी हुई रिपोर्ट का खंडन करते हुए, सीबीआई से अपने मार्गदर्शन पर दुबारा से जांच करने की मांग की थी, इस मामले में कुछ हुआ या नहीं इसका तो अभी तक कुछ ना पता चला है, लेकिन वकील की बातों से कहानीकार चेतन भगत उन पर गुस्सा जरूर किये थे। सुशांत मामले में एक बार फिर उनके वकील विकास सिंह ने सुशांत के रूममेट सिद्धार्थ पिठानी पर निशाना साधा है। सुशांत के वकील ने सिद्धार्थ के लिए टीम से पल्टी मारने की बात कही है।

सिद्धार्थ बने रिया के सपोर्टर

पंखे पर सुशांत को लटकता देख इस वजह से सिद्धार्थ पिठानी ने नहीं खींची फोटो

सुशांत के वकील विकास सिंह ने सिद्धार्थ पर वार करते हुए कहा कि अगर पिठानी पार्टी ना बदलता, पल्टी ना मारता, स्मार्टनेस ना दिखाता और सुशांत की फैमिली की तरफ ही रहता, तो ये केस कब का सॉल्व हो जाता, लेकिन पिठानी की स्मार्टनेस ने इस केस को बहुत लंबा खिंच दिया। पिठानी को हम दोस्त मानते थे, लेकिन उसने तो पल्टी मार दी औऱ रिया का सपोर्टर बन गया ।

वकील ने पिठानी के बताए दो रूप

पंखे पर सुशांत को लटकता देख इस वजह से सिद्धार्थ पिठानी ने नहीं खींची फोटो

एक खुलासा करते हुए सुशांत के वकील ने बताया कि सिद्धार्थ पिठानी के दो रूप हैं , जिस दिन सुशांत की मौत हुई थी सबसे पहले सुशांत को पंखे से लटके देखने वाले पिठानी ही थे। पिक्चर्स क्लिक करने के सवाल पर पिठानी ने बोला था कि वो इतने घबरा गए थे, जिसके कारण उन्हें कुछ समझ नहीं आया। उसके दूसरे ही दिन पिठानी का एक अलग रूप नजर आया।

दाह संस्कार के दिन पिठानी पूरे कामों की वीडियों औऱ पिक्चर्स लेकर किसी को भेज रहा था। ये क्लिप और पिक वो किसको भेज रहा था ये वाकई में एक बड़ा सवाल है। इसी में पिठानी के दो रूप सामने नजर आए कि मौत के दिन जब उनका दोस्त अचानक से उन्हे मरा हुआ मिला तब वो फोटो लेने की हालत में नहीं थे वहीं दूसरे दिन जब सुशांत पंचतत्व में विलीन हो रहे थे तो सिद्धार्थ वीडियोग्राफी कर रहे थे।

सिद्धार्थ से होनी चाहिए पूछताछ

पंखे पर सुशांत को लटकता देख इस वजह से सिद्धार्थ पिठानी ने नहीं खींची फोटो

जिस तरीके का सिद्धार्थ का रवैया रहा उसके अनुसार सिद्धार्थ से सवाल जवाब होने चाहिए औऱ उनके साइकिलोजिकल बदलाव पर भी ध्यान देना चाहिए। पहले पिठानी सुशांत की फैमिली के साइड़ थे लेकिन बाद में हाई कोर्ट को दिए हुए स्टेटमेंट को उसने रिया को ईमेल कर दिया , जिसका यूज़ रिया ने सुप्रीम कोर्ट में फाइल एफीडेबिट में किया। इसीलिए सुशांत के वकील पिठानी को आड़े हाथ लिये हुए है।