अमिताभ बच्चन समेत इन बॉलीवुड सेलेब्रिटीज ने दान कर दिए हैं अपने अंग

मुम्बई- विश्व अंगदान दिवस जो हर साल 13 अगस्त को मनाया जाता है। इस दिन को मनाने का उद्देश्य इंसान को मृत्यु के बाद अंगदान करने की प्रतिज्ञा दिलाने के लिए प्रोत्साहित करना है। कुछ बॉलीवुड स्टार्स ऐसे भी हैं जिन्होने मरने के बाद भी जरूरतमंदों की सहायता करने का प्रण लिया है। वे यह मदद अपना अंग दान कर करेंगे। अंग दान का प्रण लेने का मतलब है कि आपकी मृत्यु के बाद आपके द्वारा पहले से तय किया गया अंग किसी जरूरतमन्द व्यक्ति को दान कर दिया जाए।

आज विश्व अंगदान दिवस में उन बॉलीवुड सितारों के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्होने अपने मृत्यु पश्चात अपने अंग को दान करने का प्रण ले रखा है।

इन फिल्मी सितारों ने किया अंगदान

अमिताभ बच्चन समेत इन बॉलीवुड सेलेब्रिटीज ने दान कर दिए हैं अपने अंग

अमिताभ बच्चन

बॉलीवुड के शहंशाह बिग बी यानी अमिताभ बच्चन ने अपनी आंखें दान करने का प्रण लिया हुआ है।

आमिर खान

बॉलीवुड के मिस्टर परफेक्शनिस्ट आमिर खान ने अपनी किडनी, लिवर, दिल, आंखे, स्किन और हड्डी सहित उन सभी अंगों को दान करने का प्रण ले रखा है जो उनके जाने के बाद किसी के काम आ सकें। आमिर के अलावा उनकी बीवी किरण राव ने भी अंगदान का वादा किया है।

ऐश्वर्या रॉय

ऐश्वर्या राय की नीली और खूबसूरत आंखें पूरी दुनिया में फेमस है। ऐश्वर्या ने अपनी आंखों को दान करने का प्रण ले रखा है। कुछ सालों पहले उन्होने इसकी घोषणा करते हुए बताया था कि मेरे जाने के बाद मेरी आंखें दान कर दी जाएं।

आर माधवन

बॉलीवुड स्टार आर माधवन ने भी अपने मरने के बाद शरीर के सभी अंगों को दान करने का प्रण लिया हुआ है।

प्रियंका चोपड़ा

हिंदी फिल्मों के साथ विदेशों में भी अपने अभिनय से सबको दीवाना बना देने वाली प्रियंका चोपड़ा ने कहा है कि मेरे शरीर के सभी अंग मेरे जाने के बाद दान कर दिए जाएं।

अंगदान दिवस का उद्देश्य

हर साल 13 अगस्त को मनाए जाने वाले विश्व अंगदान दिवस के अवसर पर जनस्वास्थ्य के हित में अंगदान की अहमियत और प्रक्रिया के बाबत लोगों को जागरूक किया जाता है। एक दाता आठ जरूरतमंदों की जान बचा सकता है। आप भी इस पुनीत कार्य से जुड़ कर जीवन सार्थक बना सकते हैं। एक जीवित व्यक्ति के लीवर का अंश दो व्यक्तियों को प्रत्यारोपित किया जा सकता है।

लीवर की भांति पैंक्रियाज का आंशिक दान किया जाता है, फिर भी दाता का यह अंग बखूबी कार्य करता रहेगा। केवल भारत में ही हर साल लाखों लोगों की शरीर के अंग खराब होने के कारण मृत्यु हो जाती है। शरीर के ऐसे कई सारे अंग हैं, जिन्हें मृत्यु के बाद दान किया जा सकता है। दान किए गए अंग दुनिया भर में हजारों लोगों के जीवन बदल सकते हैं।

इन अंगों का कर सकते हैं दान

दान किए जा सकने वाले अंगों में गुर्दे, यकृत, पैनक्रियाज, फेफड़े और दिल शामिल होते हैं, जबकि ऊतक की बात करें तो आंखों, त्वचा, हड्डी, अस्थि मज्जा, नसों, मस्तिष्क, हृदय वाल्व, कान का परदा, कान की हड्डियों और रक्त का दान कर सकते हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published.