1 जुलाई से बदलने वाले हैं बैंक खातों से जुड़े ये 4 नियम, नहीं जानने पर होगा आपकों भारी नुकसान

1 जुलाई से बदलने वाले हैं बैंक खातों से जुड़े ये 4 नियम, नहीं जानने पर होगा आपकों भारी नुकसान

देश भर में 1 जुलाई से बैंक के कुछ नियम में बदलाव होने वाले हैं, ATM से लेकर कैस लेनदेन तक का नियम बदलने वाला है, जो आप को जानना जरूरी है, क्योंकि कई अतिरिक्त चार्ज भी लगने वाला है, जिसे आप को चुकाना जरूरी है।

नियम 1- बैंक ऑफ बड़ौरा करेगा अकाउंट फ्रिज-

पिछले कुछ दिनों से ग्राहकों को मैसेज के जरिये ये बताया गया था कि जल्द से जल्द बैंक अकाउंट अपडेट कर ले नही तो आप का अकाउंट फ्रिज कर दिया जयगा। पिछले कुछ समय पहले विजया और देना बैंक का इस बैंक के साथ विलय हुवा था। बैंक अपडेट के लिये आधार कार्ड,पैन या कोई कोई और पहचान करना है, जिसे आप का अकाउंट अपडेट किया जा सके।

2- PNB सेविंग अकाउंट पर मिलने वाले व्याज-

PNB के सेविंग अकाउंट पर जो ब्याज की दर मिल रही थी, उसमे से 0.50 फीसदी की कटौती की है। 1 जुलाई से मिलने वाले ब्याज पर सलाना 3.25 फिसदी ब्याज मिलेगा। इसे सबसे पहले SBI और कोटक महिंद्रा बैंक ने कम की थी।

मिनिमम बैलेंस की सुविधा खत्म-

सरकार ने बैंक में मिनिमम बैलेन्स की चार्ज में छूट दे दी है। लॉकडाउन की वजह से सरकार ने 1 जुलाई से सरकार इसका चार्ज नही वसूलेगा। मेट्रो सिटी, शहर, अर्ध शहर और ग्रामीण में अलग-अलग बैंको में बचत खातों में मिनिमम बैलेन्स अलग-अलग है।

ATM निकासी में छूट के नियम–

1 जुलाई से ATM निकासी में जो छूट मिलती थी, वो खत्म कर दी गयी है। इस समय मे ATM से एक बार मे 10,000 निकलने की छूट है , लॉकडाउन से हुए परेशानी में ATM से तीन महीनों के निकासी में चार्ज को छूट दी गयी है। ये 30 जून तक का लागू है।

वित्तीय मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि ये छूट लॉक डाउन के वजह से दिया जा रहा है, जिसमे लोगों को राहत मिल सके।