मोटापा करना है कम, तो डाईट प्लान में शामिल करें ये 5 चीजें
/

मोटापा करना है कम, तो डाईट प्लान में तुरंत शामिल करें ये 5 चीजें

स्वास्थ्य को बिगड़ने से बचाने के लिए हमे अपनी प्रतिदिन के दिनचर्या में दुध के साथ कुछ बीजों का इस्तेमाल करना. इससे हमारे शरीर मे कोई भी बीमारी छू नहीं सकती. इसके साथ ही हमे रोगों से भी दूर रखता है. इनमे ना सिर्फ प्रोटीन की मात्रा होती है बल्कि इनमे काफी मात्रा मे एंटीऑक्सीडेंट और ओमेगा फैटी एसिड मौजूद होता है. जो दिल के स्वास्थ्य को बढावा दे सकते हैं.

अगर हमेशा स्वस्थ रहना है तो इन पांच बीजों का इस्तेमाल जरूर करें. रात को भिगोकर सुबह खाने से स्वास्थ्य को काफी फायदा होता है. ये सिर्फ पाचन को ही नहीं बढावा दे सकते हैं, बल्कि संपूर्ण स्वास्थ्य के लिए लाभदायक होते हैं.

तिल के बीज

तिल काले और सफेद रंगों में आते हैं, दोनों प्रकार वास्तव में हेल्दी होते हैं. तिल के बीज के स्वास्थ्य लाभ कई हैं. ये बीज विटामिन बी, जिंक, कैल्शियम, प्रोटीन, ओमेगा 3 फैटी एसिड आदि का समृद्ध स्रोत होते हैं. तिल के बीज वास्तव में दिल के स्वास्थ्य के लिए अच्छे माने जाते हैं. उच्च कैल्शियम सामग्री हड्डी के स्वास्थ्य के लिए वास्तव में अच्छी मानी जाती है. यह सूजन को कम करने में मदद कर सकता है. यह डायबिटीज में भी काफी लाभदायक हो सकते हैं. तिल के बीज एनीमिया को दूर करने में भी फायदेमंद माने जाते हैं. ये कैंसर विरोधी गुण रखते हैं और कैंसर के खतरे को कम करने में मदद कर सकते हैं. ये पाचन तंत्र और आंखों के लिए भी कारगर हो सकते हैं.

कद्दू के बीज

कद्दू के बीज विटामिन के और ए से भरपूर होते हैं. एंटीऑक्सीडेंट की खूबी होने के कारण यह खून में पैदा होने वाले फ्री रेडिकल से आपको बचा कर रखते हैं. कद्दू के बीज हाई फाइबर से भरपूर होते हैं. डायट्री फाइबर, खाने का वह भाग है जो पचता नहीं है. इसीलिए जब भी हम डाइटरी फाइबर का सेवन करते हैं, जैसे कि कद्दू के बीज तब आपके शरीर को खाना पचाने के लिए एक्सट्रा एनर्जी लगती है. कद्दू के बीज में कई सारे मिनरल्स जैसे कि मैगजीन,कोपर,जि़क और फास्फोरस पाए जाते हैं.

अलसी के बीज

भूरे रंग के छोटे छोटे बीज, ह्रदय रोगियों के लिए लाभकारी होता हैं. इसमें उपस्थित घुलनशील फाइबर्स, प्राकृतिक रूप से आपके शरीर में कोलेस्ट्रोल को नियंत्रित करने का काम कर सकते हैं.अगर आपका कोलेस्ट्रॉल बढ़ा हुआ है और वजन भी लगातार बढ़ रहा है तो घबराने की बात नहीं है बल्कि अलसी खाने की जरूरत है.

अलसी के बीजों में ओमेगा 3 भरपूर मात्रा में पाया जाता है, जो रक्त प्रवाह को बेहतर कर, खून के जमने थक्का या बनने से रोकता है. यह शरीर के अतिरिक्त वसा को भी कम करती है. जिसे आपका वजन कम होने में सहायता मिलता है तथा अलसी में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट और फाइटोकेमिकल्स बढ़ती उम्र के लक्षणों को कम करती हैं. जिससे त्वचा पर झुर्रियां नहीं होती है और कसाव बना रह सकता है.

चिया के बीज


जो मोटापे की समस्या से परेशान हैं और बढ़े हुए वजन को कम करना चाहते हैं. तो उनके लिए चिया के बीज लाभ उपयोगी साबित होते हैं. चिया के बीज लाभ में हृदय स्वास्थ्य को बनाए रखता है. चिया के बीज के फायदे हड्डियों और दातों को मजबूत बनाए रखने में भी सहायता करता है तथा कोलेस्ट्रोल को भी नियंत्रित करता है. चिया के बीज अन्य स्वास्थ्य लाभों के साथ ही चिया बीज डायबिटीज और हाई बीपी की समस्या में भी लाभदायक साबित होते है.

सूरजमुखी के बीज

पोषक तत्व मूल्य से भरा एक स्नैकिंग विकल्प है. सूरजमुखी हमें इसके बीजों के रूप में स्वास्थ्य लाभ प्रदान करती हैं. सूरजमुखी के बीजों के लाभ की सूची लंबी है यह प्रोटीन मैग्नीशियम विटामिन ई मोनोसैचुरेटेड आदि का समृद्ध स्रोत होते हैं. सूरजमुखी बीजों का सेवन दिल का अटैक के खतरे को कम करने और दिल की सेहत को बढ़ाने के लिए भी किया जा सकता है.

यह कब्ज और सूजन को कम करने में मददगार होते हैं. शरीर में स्वस्थ कोलेस्ट्रॉल के स्तर को बढ़ावा देते हैं. उच्च मैग्नीशियम एवं सामग्री के कारण हड्डी के स्वास्थ्य के लिए भी अच्छे माने जाते हैं. सूरजमुखी के बीजों में विटामिन इ उचित रक्त परिसंचरण और बालों के स्वास्थ्य के लिए भी अच्छा माना जाता है यह बीज एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर होते हैं.