सुधा चंद्रन ने पीएम मोदी से की Cisf की शिकायत, सीआईएसएफ को मांगनी पड़ी माफी

टीवी और सिनेमा दोनों ही जगह अपनी छाप छोड़ चुकी दिग्गज एक्ट्रेस सुधा चंद्रन आज किसी भी परिचय की मोहताज नहीं हैं. सुधा चंद्रन ने अपने डांस स्किल और एक्टिंग से लाखों फैंस का दिलों पर राज किया. लेकिन सुधा चंद्रन पिछले कुछ सालों से एक परेशानी से जूझ रही हैं. अब वह इतनी परेशान हो चुकी है कि उन्हें पीएम मोदी से मदद मांगनी पड़ी है.

पीएम मोदी से की खास अपील

सुधा चंद्रन ने पीएम मोदी से की Cisf की शिकायत, सीआईएसएफ को मांगनी पड़ी माफी
बता दें कि इस बीच सुधा चंद्रन ने अपने इंस्टाग्राम पर एक वीडियो शेयर किया है. वीडियो में वह पीएम मोदी से एक खास अपील कर रही है. वीडियो के जरिए उन्होंने पीएम मोदी से कहा कि वह जब भी काम के सिलसिले में फ्लाइट से बाहर जाती हैं, तो उन्हें एयरपोर्ट पर सुरक्षा जांच में लगे सीआईएसएफ के लोग रोक देते हैं, और उन्हें जांच के लिए आर्टिफिशियल लिंब को उतारने को कहते है. जिससे सुधा को बहुत परेशानी होती है.

एक्सीडेंट में गवा थी एक पैर

सुधा चंद्रन ने पीएम मोदी से की Cisf की शिकायत, सीआईएसएफ को मांगनी पड़ी माफी
आपको बता दें कि जब सुधा चंद्रन 16 साल की थी, तो उनका एक्सीडेंट हो गया था. इस दौरान उनके एक पैर में काफी गंभीर चोट आई थी. इस दौरान उन्हें अपना एक पैर ग्वाना पड़ा था. जिसके बाद वह आर्टिफिशियल लिंब का सहारे चलती है. ऐसे में जब वह एयरपोर्ट पर जाती है तो बार-बार उन्हें अपना आर्टिफिशियल लिंब उतराना पड़ता है. सुधा चंद्रा इस बात से काफी परेशान हो गई है. इसी को लेकर सुधा ने पीएम मोदी से गुहार लगाई है.

सिनियर सिटीजंस के लिए कार्ड जारी करने की मांग

सुधा चंद्रन ने पीएम मोदी से की Cisf की शिकायत, सीआईएसएफ को मांगनी पड़ी माफी
वीडियो में सुधा चंद्रन ने पीएम मोदी से अपील करते हुए सिनियर सिटीजंस के लिए एक कार्ड जारी करने की बात कही, जिससे एयरपोर्ट पर चेक इन और चेक आउट करते समय उन्हें दिक्कतों का सामना न करना पड़े. सुधा ने वीडियो में आगे कहा कि क्या यह (जांच के दौरान आर्टिफिशियल लिंब उतारना) हर बार संभव है? क्या एक महिला दूसरी महिला को इसी तरह से इज्जत देती है?

सीआईएसएफ ने मांगी माफी

सुधा चंद्रन ने पीएम मोदी से की Cisf की शिकायत, सीआईएसएफ को मांगनी पड़ी माफी
सुधा चंद्रन वीडियो शेयर करने के बाद सीआईएसएफ हरकत में आई और उसने इस हरकत के लिए सुधा चंद्रन से माफी मांगी. सीआईएसएफ ने कहा कि हम जांच करेंगे कि सीआईएसएफ महिला कर्मी ने सुधा चंद्रन से आर्टिफिशियल लिंब हटाने का अनुरोध क्यों किया? बता दें कि प्रोटोकॉल के तहत केवल इमरजेंसी में ही इस तरह के कृतम अंगो को हटाया जा सकता है.

देखें वीडियो