किसान आंदोलन पर कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो का बयान- 'स्थिति चिंताजनक, हम साथ खड़े हैं'

देश में लगातार कृषि आंदोलन जारी है, जिसको लेकर अब कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने भी अपनी प्रतिक्रिया सामने रखी है. उनका एक वीडियो सामने आया है, जिसमें वह कहते हुए दिखाई दे रहे हैं कि, ” कनाडा हमेशा शांतिपूर्ण प्रदर्शन करने वालों के बचाव के लिए खड़ा है”.

केंद्र की मोदी सरकार के 3 नए कृषि कानून के खिलाफ प्रदर्शन तेज हो चुके हैं. किसानों के आंदोलन का बचाव करते हुए कनाडा के प्रधानमंत्री ने कहा कि, स्थिति बहुत चिंताजनक बन चुकी है. हम आपको बता दें कि, गुरु नानक देव की 551वीं जयंती में एक ऑनलाइन कार्यक्रम में शामिल हुए थे.

किसान आंदोलन पर कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो का बयान- 'स्थिति चिंताजनक, हम साथ खड़े हैं'

किसान आंदोलन पर बोलने वाले पहले विदेशी नेता जस्टिन ट्रूडो

ऑनलाइन कार्यक्रम में उन्होंने बयान देते हुए कहा कि,

” भारत के किसानों के आंदोलन की खबर आई है. स्थिति बहुत ही चिंताजनक है. हम सभी अपने परिवार दोस्तों को लेकर बहुत फिक्र मंद हैं. हमें पता है कि, ऐसे बहुत से लोग हैं. मैं आपको याद दिला दूं कि, कनाडा शांतिपूर्ण प्रदर्शन करने के अधिकार के बचाव में खड़ा है”.

इस बयान के बाद कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो किसान आंदोलन पर अपनी प्रतिक्रिया देने वाले पहले विदेशी नेता बन गए हैं. इस मामले को लेकर उन्होंने अपनी प्रतिक्रिया सबके सामने रखी .

किसान आंदोलन पर कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो का बयान- 'स्थिति चिंताजनक, हम साथ खड़े हैं'

हरियाणा और दिल्ली पुलिस ने किए कड़े इंतजाम

हम आपको बता दें कि, पंजाब के अलावा कई अन्य राज्यों के किसान दिल्ली की सीमा पर बढ़ते चले आ रहे हैं. पिछले कुछ दिनों में उनका विरोध प्रदर्शन लगातार जारी है. पिछले कुछ सालों में किसानों का यह सबसे बड़ा आंदोलन हुआ है. उनकी मांग है कि, उन्हें दिल्ली के रामलीला ग्राउंड जाकर कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन करने की अनुमति दी जाए.

हरियाणा और दिल्ली पुलिस ने किसानों को रोकने के लिए कड़े इंतजाम किए हैं. उन पर ठंड के मौसम में वाटर कैनन और आंसू के गोले छोड़े गए. इसमें कई किसान बुरी तरह से घायल भी हुए हैं. लेकिन कोई भी पीछे हटने के लिए बिल्कुल भी तैयार नहीं है.

Urvashi Srivastava

मेरा नाम उर्वशी श्रीवास्तव है. मैं हिंद नाउ वेबसाइट पर कंटेंट राइटर के तौर पर...