जबरन भाभी से पंचायत ने कराया विवाह तो  युवक ने उठाया ये कदम
/

जबरन भाभी से पंचायत ने कराया विवाह तो  युवक ने उठाया ये कदम

झारखंड के  रामगढ़ जिले के अंतर्गत गोला थाना क्षेत्र के रोला बगीचा के एक युवक पूरबडीह के डीह बस्ती स्थित अपने नये मकान में मंगलवार दोपहर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. मृतक की पहचान लव कुमार उर्फ पप्पू के रूप में किया गया है. सूचना मिलते ही पुलिस पहुंची और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. मृतक के पिता ने ग्रामीणों पर आरोप लगाया है कि पंचायत करने के बाद जबरन मेरी विधवा बहू से लव की शादी करा दी गयी, जिस कारण मेरा बेटा आत्महत्या करने के लिए मजबूर हो गया. फिलहाल पुलिस इस पूरे प्रकरण की जांच पड़ताल में जुट गयी है.

क्या है पूरा वाकया

जबरन भाभी से पंचायत ने कराया विवाह तो  युवक ने उठाया ये कदम

मृतक के पिता सुखलाल महतो ने बताया कि लव कुमार का रामगढ़ की एक महिला के साथ प्रेम प्रसंग चल रहा था. उक्त महिला के 2 बच्चे भी हैं. बीते  17 अक्तूबर, 2020 की रात में मेरा बेटा लव कुमार को वह मिलने के लिए अपना रामगढ़ बुलायी थी. वहां पर उसके ससुराल वाले मेरा बेटा पर महिला के साथ दुष्कर्म का आरोप लगाकर कर मारपीट किया गया. वह किसी तरह जान बचाकर भाग निकला और अपने मामा के घर निम्मी भुरकुंडा चला गया. एक सप्ताह तक वहीं रहा. इस बीच महिला के पति ने मेरे बेटे पर अपनी पत्नी का अपहरण करने का आरोप लगाया. जबकि महिला अपने मायके पूरबडीह में ही रह रही थी.

परेशान होकर की आत्महत्या

जबरन भाभी से पंचायत ने कराया विवाह तो  युवक ने उठाया ये कदम

इस बीच 31 अक्टूबर को रामगढ़ से महिला के पति व उसके परिजन पूरबडीह गांव आकर फैसला किया. सुखलाल महतो ने आरोप लगाया कि पंचायत में लव से एक लाख 25 हजार रुपये का जुर्माना लिया गया. इसी दिन पंचायत में मेरी विधवा बहू रीना देवी के मांग में मेरे बेटे लव कुमार से जबरन सिंदूर डलवा दिया गया. मंगलवार को हम लोग सभी खेत में काम करने के लिए गए थे. वह घर में अकेला था. कुछ देर बाद हमलोग घर पहुंचे, तो उसका शव घर के छत पर फांसी में लटकता हुआ पाया. इसके बाद हमलोगों ने शव को नीचे उतार कर इसकी सूचना पुलिस को दी. बताया जाता है कि सुखलाल महतो एक वर्ष पूर्व ही रोला बगीचा से आकर पूरबडीह में मकान बनाकर रह रहा है.