सोने की कीमतों में उम्मीद से ज्यादा आई गिरावट, जानिए 1 तोले का भाव

सोने की कीमतों में आज उनमें से भी ज्यादा गिरावट देखने को मिली है. सोना 50000 से नीचे गिर कर अब 49,480 रुपये प्रति 10 ग्राम के स्तर आ गया है. आज सुबह सोने की कीमतों में और भी गिरावट आई थी, जिसके बाद सोना 218 रुपये की गिरावट से 49,262 रुपये प्रति 10 ग्राम पर पहुंच गया. इस हिसाब से अगर देखा जाए तो सोने की कीमतों में 400 रुपये से भी ज्यादा अधिक गिरावट आ चुकी है.

सोने की कीमतों में उम्मीद से ज्यादा आई गिरावट, जानिए 1 तोले का भाव

वायदा बाजारों में भी आई थी सोने की कीमतों में तेजी

वायदा बाजार में सोमवार को सोने की कीमत 45 रुपये की तेजी के साथ 50,257 रुपये प्रति 10 ग्राम रहा. एमसीएक्स में दिसंबर के महीने में डिलीवरी वाले सोने की कीमत 45 रुपय, 0.09 प्रतिशत की तेजी से 50,257 रुपये प्रति 10 ग्राम हो हुआ. इसके 5,544 लॉट के लिये कारोबार हुआ. अंतर्राष्ट्रीय बाजारों में न्यूयार्क में सोना 0.03 प्रतिशत की बढ़त के साथ 1,878.80 डॉलर प्रति औंस हुआ.

दिल्ली सर्राफा बाजारों में भी बढ़ी थी सोने की कीमत

एचडीएफसी सिक्योरिटीज ने बताया कि, दिल्ली के सर्राफा बाजार में सोने की कीमत सोमवार के दिन ₹57 की तेजी के साथ अब 49,767 रुपये प्रति 10 ग्राम तक आई. पिछले कारोबारी सत्र में सोने की कीमतें 49,710 रुपये प्रति 10 ग्राम थी.

चांदी की कीमत में भी गिरावट आई थी, जिसके बाद सोने की कीमत 185 रुपये की गिरावट के साथ 61,351 रुपये प्रति किलोग्राम तक रहा. चांदी की कीमत इससे पूर्व सत्र में 61,536 रुपये किलोग्राम थी.

सोने की कीमतों में उम्मीद से ज्यादा आई गिरावट, जानिए 1 तोले का भाव

अंतरराष्ट्रीय बाजारों में सोने की कीमत 1,874 डॉलर प्रति औंस और चांदी की कीमत 24.22 डॉलर प्रति औंस पर लगभग अपरिवर्तित थी. एचडीएफसी सिक्योरिटीज के वरिष्ठ जींस विश्लेषक तपन पटेल ने बताया कि , ”आर्थिक वृद्धि संबंधी चिंताओं और कनाडा के अलावा दुनिया के अन्य हिस्सों में लॉक डाउन की वजह से सोने की कीमतों में लगातार तेजी आई”.

सोने की कीमतों में उम्मीद से ज्यादा आई गिरावट, जानिए 1 तोले का भाव

 

7 अगस्त 2020 में सोने की कीमतों ने बनाया था एक नया रिकॉर्ड

सोने और चांदी की कीमतों ने 7 अगस्त के दिन एक नया रिकॉर्ड बनाया था. 7 अगस्त को सोने की कीमत 56,200 रुपये प्रति 10 ग्राम के भाव से ऑल टाइम हाई स्तर पर पहुंच गई थीं. इसके अलावा चांदी की कीमतें 77,840 रुपये प्रति किलो के स्तर पर थी. उसके बाद से सोने की कीमतों में ₹7000 प्रति 10 ग्राम के हिसाब से गिरावट आ चुकी है. चांदी करीब ₹19000 प्रति किलो तक गिरी.

65 से 67 हजार रुपये प्रति दस ग्राम तक पहुंच सकता है सोना

करोना वायरस की वजह से सोने की कीमतों में काफी ज्यादा गिरावट आई थी जो कि, अब शेयर बाजार इसे मजबूती से रिकवर करने में लगे हुए हैं. सोने की कीमतों में लगातार उतार-चढ़ाव देखने को मिल रहा है. इस समय आप सभी का यही सवाल है कि क्या करो ना काल से पहले वाली स्थिति में सोना वापस आएगा. उस दौरान देखा गया था कि शेयर बाजार काफी मजबूत हो रहा था और सोना काफी कमजोर ! जनवरी में सोने की कीमतें 41 हजार के करीब थी, साथ ही सेंसेक्स भी 41 हज़ार के ही करीब था.

मोतीलाल ओसवाल फाइनेंसियल सर्विसेज के मुताबिक आने वाली अवधि में सोना 65 से 67 हजार रुपये प्रति दस ग्राम तक पहुंच सकता है. रिपोर्ट के मुताबिक सोने की कीमतें तीसरी बार 30% गिरने के बाद चौथी बार तिमाही में वापस बढ़ जाएंगी, क्योंकि इस दौरान आभूषणों की खरीदारी में भी तेजी रहेगी.

सोने की कीमतों में उम्मीद से ज्यादा आई गिरावट, जानिए 1 तोले का भाव

मुसीबत की घड़ी में सोना ‘वरदान’ है

कोरोना वायरस महामारी के दौरान सोना एक बार फिर रिकॉर्ड बना चुका है. इसी दौरान अन्य संपत्तियों की तुलना में निवेशकों के लिए सोना बेहतर विकल्प साबित रहा.
दिल्ली बुलियन एंड ज्वेलर्स वेलफेयर एसोसिएशन के अध्यक्ष विमल गोयल के मुताबिक़, ”1 साल तक सोना उच्च स्तर पर ही रह सकता है. संकट के समय में सोना निवेशकों के लिए वरदान साबित होता है. दिवाली के आसपास 10 से 15% तक सोने में उछाल आई थी”. जब ईरान और अमेरिका के बीच में तनाव बढ़ा था और चीन अमेरिका के बीच में ट्रेंड वॉर की स्थिति बनी थी तभी सोना बहुत ज्यादा महंगा हुआ था. साल 2014 में सीरिया पर अमेरिका का खतरा मंडरा रहा था, उस दौरान भी सोने की कीमतें बढ़ी थी. मुसीबत की घड़ी में सोना हमेशा चमकता है.

Urvashi Srivastava

मेरा नाम उर्वशी श्रीवास्तव है. मैं हिंद नाउ वेबसाइट पर कंटेंट राइटर के तौर पर...