Mustard Oil Price: 200 रूपये लीटर बिकने वाली सरसों तेल हुई सस्ती, जानिए अब फूटकर में क्या है नई कीमत

आम आदमी के जेब पर इस महीने भारी बोझ पड़ने वाला है। आम आदमी बढ़ती महंगाई से परेशान है, पहले सरसों तेल की कीमत बढ़ी अब तो रिफाइंड और डालडा भी आम आदमी के किचन से गायब हो रहे हैं। पिछले करीब 10 दिनों में सरसों तेल का थोक रेट 15 किलो टिन पर 150 रुपये बढ़ गया है। वहीं सोयाबीन फार्च्‍यून यानी रिफाइंड की कीमत 100 रुपये 15 लीटर टिन और पामोलीन का दाम भी 15 किलो टिन पर 100 रुपये बढ़ा है। डालडा के मूल्य में भी 50 रुपये प्रति 15 किलो टिन की वृद्धि हुई है। इससे इन खाद्य तेलों के फुटकर दाम भी बढ़ गए हैं। आम लोगाें की इससे समस्‍या बढ़ जाएगी।

जून में आई थी सरसों तेल की कीमत में कमी

Mustard Oil Price: 200 रूपये लीटर बिकने वाली सरसों तेल हुई सस्ती, जानिए अब फूटकर में क्या है नई कीमत

उल्‍लेखनीय है क हाेली के बाद से खाद्य तेलों की कीमत बहुत तेजी से बढ़ी थी। लगभग डेढ़-दो महीने पहले रेट में गिरावट होना शुरू हो गया था। करीब पखवाड़ा भर पहले सरसों तेल का थोक रेट 2450 रुपये (15 किलो टिन), फार्च्‍यून का दाम 2200 रुपये (15 लीटर टिन) और पामोलिन का रेट 1950 रुपये (15 किलो टिन) था। डालडा का दाम भी 1950 रुपये (15 किलो टिन) था।

पिछले 10 दिनों के अंदर सरसों के तेल का रेट बढ़कर 2600 रुपये (15 किलो टिन), फार्च्‍यून का दाम चढ़कर 2300 रुपये (15 लीटर टिन), पामोलिन का मूल्य बढ़कर 2050 रुपये (15 किलो टिन) हो गया। इसी प्रकार डालडा का दाम भी उछाल मारकर 2000 रुपये (15 किलो टिन) हो गया।

फूटकर में अब इतनी हो गई है कीमत

Mustard Oil Price: 200 रूपये लीटर बिकने वाली सरसों तेल हुई सस्ती, जानिए अब फूटकर में क्या है नई कीमत

फुटकर में सरसों तेल का रेट 160 से 165 रुपये किलो हो गया है। वहीं फार्च्‍यून 130 से 135 रुपये लीटर और पामोलीन का दाम 120 से 125 रुपये प्रति किलो हो गया है।