अब एटीएम से 5000 से ज्यादा निकालने पर शुल्क लगाने की तैयारी
///

अब एटीएम से 5000 से ज्यादा निकालने पर शुल्क लगाने की तैयारी, होने वाले है ये अहम बदलाव

जल्द ही आने वाले दिनों में एटीएम से 5000 रु निकलने पर अतिरिक्त शुल्क देना हो सकता है। ये पाँच ट्रांजेक्शन में शामिल नही होगा। इसके लिये अलग से भुगतान करना पड़ सकता है। ये तभी लागू होगा जो एटीएम से 5000 से ज्यादा निकालने पर ।

एक बार मे 5000 रु से ज्यादा निकालने पर 24 रु ज्यादा देने होंगे। मौजूदा समय में एटीएम से पाँच मुफ्त ट्रांजेक्शन करने को मिलती है। अगर उसी महीने में और ट्रांजेक्शन करनी पड़ी तो छठे ट्रांजेक्शन पर 20 रु का शुल्क लगेगा।

अब एटीएम से 5000 से ज्यादा निकालने पर शुल्क लगाने की तैयारी, होने वाले है ये अहम बदलाव

भारतीय रिजर्व बैंक की एटीएम शुल्क की समीक्षा के लिए गठित की गई समिति ने अपनी ये सिफारिशें सौंप दी हैं। इसके आधार पर बैंक आठ साल बाद एटीएम शुल्क में बदलाव करने वाला है। मध्यप्रदेश के एसएलबीसी समन्वयक एसडी माहुरकर के मुताबिक, समिति ने दस लाख से कम आबादी वाले शहरों में एटीएम से लेन-देन बढ़ाने पर जोर दिया गया है।

जहाँ पर ज्यादा तर लोग छोटी छोटी रकम निकलते है। जिसको देखते हुए छोटे ट्रांजेक्शन को फ्री में रखा गया है। वही छोटे शहर में एक माह में दूसरे एटीएम से छ: बार निकलने पर छूट मिलेगा। लेकिन अभी ये केवल 5 बार ही पैसा निकाला जा सकता है।

अब एटीएम से 5000 से ज्यादा निकालने पर शुल्क लगाने की तैयारी, होने वाले है ये अहम बदलाव

वही बड़े मेट्रो शहर में मुंबई, दिल्ली और बंगलुरू जैसे महानगर में एटीएम से एक महीने में तीन बार पैसा निकालने की छूट दी गयी है। तीन बार से अधिक एटीएम से पैसा निकालने पर कुछ अतिरिक्त चार्ज लगता है।