दिल्ली में कोरोना को मात देने के लिए अमित शाह ने केजरीवाल को दिया ये निर्देश

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली में कोरोना बीमारी के मामलों में हाल में हुई बढ़ोत्तरी को देखते हुए रविवार को भारत की  राजधानी दिल्ली में कोविड-19 की स्थिति के बारे में सारी जानकारी ली। ये मीटिंग अमित शाह की अध्यक्षता में हुई। बैठक में दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन, दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन और केंद्र सरकार के वरिष्ठ अधिकारियों ने हिस्सा लिया।

दिल्ली बीजेपी ने केजरीवाल पर किया हमला

दिल्ली में कोरोना को मात देने के लिए अमित शाह ने केजरीवाल को दिया ये निर्देश

गृहमंत्री अमित शाह ने सीएम केजरीवाल समेत तमाम अधिकारियों के साथ बैठक की और हालात पर कैसे काबू पाया जाए इस विषय पर चर्चा की। दिल्ली बीजेपी ने सीएम केजरीवाल पर हमला बोलते हुए कहा कि गृहमंत्री दिल्ली की हालात पर नजर बनाए हुए हैं। वो बार-बार कोरोना से बचने के लिए मीटिंग्स करते हैं मगर दिल्ली के मुख्यमंत्री आम आदमी के टैक्स का पैसा विज्ञापन पर खर्च कर रहे हैं। पूर्वी दिल्ली सांसद गौतम गंभीर ने भी केजरीवाल सरकार पर निशाना साधा है। गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि गृह मंत्री ने दिल्ली में कोविड-19 के मामलों में बढ़ोतरी के चलते उत्पन्न स्थिति की समीक्षा की और इससे निपटने के तरीकों पर चर्चा की।

दिल्ली में कोविड-19 के 3,235 नये मामले सामने आये जिससे रविवार को यहां संक्रमितों की संख्या बढ़कर 4.85 लाख से अधिक हो गई, वहीं 95 और मरीजों की संक्रमण से मौत हो जाने से मृतक संख्या बढ़कर 7,614 हो गई। बैठक में अमित शाह ने कहा, ‘दिल्ली में आरटी-पीसीआर टेस्ट को दोगुना किया जाएगा। वहीं, स्वास्थ्य मंत्रालय और आईसीएमआर की मोबाइल टेस्टिग वैन को कुछ खास स्थानों पर तैनात किया जाएगा।’

शाह ने कहा, ‘दिल्ली में कोरोना के हल्के लक्षण वाले मरीजों को पर्याप्त सुविधा मिल सके इसके लिए कुछ एमसीडी अस्पतालों को कोविड समर्पित अस्पतालों में परिवर्तित किया जाएगा।

केजरीवाल  ने शाह को किया धन्यवाद

दिल्ली में कोरोना को मात देने के लिए अमित शाह ने केजरीवाल को दिया ये निर्देश

गृहमंत्री अमित शाह के साथ हुई इस बैठक के बाद सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में सबसे बड़ी समस्या आईसीयू बेड की है, इसलिए उन्हें बढ़ाया जाए जाएगा. केजरीवाल ने कहा,

‘मैं केंद्र सरकार, गृहमंत्री अमित शाह का शुक्रिया अदा करना चाहता हूं कि उन्होंने ये मीटिंग बुलाई. इस वक्त ये जरूरी है कि सभी लोग मिलकर काम करें ताकि दिल्ली के लोगों की जान को बचाया जाए। 20 अक्टूबर के बाद से दिल्ली में कोरोना के  केस बढ़ने लगे हैं। दिल्ली में कोविड बेड की संख्या तो ठीक है लेकिन आईसीयू बेड की संख्या कम है. केंद्र सरकार ने हमें भरोसा दिलाया कि डीआरडीओ का जो सेंटर है, वहां पर अगले दो दिनों में पांच सौ आईसीयू बेड्स उपलब्ध करा दिए जाएंगे.’

Shukla Divyanka

मेरा नाम दिव्यांका शुक्ला है। मैं hindnow वेब साइट पर कंटेट राइटर के पद पर कार्यरत...