Amazon

भारत में कोरोना की दूसरी लहर पहली लहर के मुक़ाबले और भी खतरनाक साबित हो रही है. जिस तरह से हमें हर 24 घंटो में लाखों की संख्या में नए कोरोना के मामले देखने को मिल रहे हैं वो वाकई भयावह है. लेकिन इस मुश्किल दौर में दुनिया भर के कई देश और बड़ी-बड़ी कंपनियों ने भारत की मदद में हाथ आगे बढ़ाया है.

जिस कड़ी में ई-कॉमर्स कंपनी Amazon भी शामिल है. जिन्होनें हाल ही में अपने एक एम्प्लोयी की मां को सांसे देने में अपना अहम योगदान दिया, जिसके बाद उस एम्प्लोयी ने Amazon का सोशल मीडिया पर तहे दिल से शुक्रिया भी किया, इसी सिलसिले में इस आर्टिकल में हम बात करने वाले हैं, तो आईए इस पूरे मामले पर नज़र डालते हैं..

बीच रात में जब काम आई Amazon सर्विस

न डॉक्टर और न ही एम्बुलेंस आई काम, जब Amazon ने बचाई एक मां की जान, जानिए पूरा वाकया

बीते दिनों ई-कॉमर्स कंपनी Amazon की ओर से एक ऐसा ही वाकया सामने आया जब इसी कम्पनी के एक एम्प्लोयी को बीच रात में ऑक्सीजन सिलेंडर की अर्जेंट जरूरत पड़ी. इस पूरे वाकया को खूद उस एम्प्लोयी (आयुश शर्मा) ने अपने सोशल मीडिया पर अपने साथियों के साथ शेयर किया.

जिसमें उन्होनें लिखा “मैं आज अपनी कम्पनी Amazon का काफी शुक्रगुजार हूँ, मेरी मदर कोरोना पॉजिटीव हैं और कल रात उनका ऑक्सीजन लेवल अचानक से गिरने लगा, जिसके बाद करीब रात 1:00 बजे के दौरान मैनें तुरंत Amazon कोविड सपोर्ट को कॉल करके ऑक्सीजन सिलेंडर की मदद मांगी और ठीक 4:00 बजे वो ऑक्सीजन सिलेंडर मेरे दरवाजे पर था. जिसके बाद में  इस बड़ी मदद के लिए उनका काफी अभारी हूँ”

Amazon

“इस मदद से ये तो समझ आ गया कि Amazon सिर्फ विश्व भर में अपने कस्टमर्स के लिए ही नहीं बल्कि अपने एम्प्लोयिस के लिए भी उतनी ही मददगार है. बहुत शुक्रिया Amazon इस मुश्किल वक्त में हम सबसे साथ खड़े रहने के लिए”